Skip to main content

Fixed Deposit: एफडी में निवेश के लिए यहां भी है शानदार मौके, 3 से 3.5 वर्ष के निवेश पर 7 फीसदी ब्याज, देखें चार्ट


SBI में 10 साल की एफडी करने के बावजूद अधिकतम 6.40 फीसदी वार्षिक दर से ब्याज मिलता है, जबकि फिनकेयर बैंक तो महज 3 साल के निवेश पर भी 7 फीसदी की दर से ब्याज देता है

Fixed Deposit: एफडी में निवेश के लिए यहां भी है शानदार मौके, 3 से 3.5 वर्ष के निवेश पर 7 फीसदी ब्याज, देखें चार्ट
छोटे बैंकों में भी हैं आकर्षक Fixed Deposit Scheme.

Fixed Deposit Scheme in Banks: आजकल के समय में पैसों की जरूरत कब और कहां पड़ जाए, कहना मुश्किल है. बच्चों की पढ़ाई से लेकर, स्वास्थ्य सुविधाओं और भविष्य में पड़नेवाली अन्य जरूरतों के लिए बचत करना बहुत ही जरूरी है. आप बिजनेसमैन हों या नौकरीपेशा… अपनी कमाई में से कुछ पैसे जरूर बचाने चाहिए. बचत के साथ ही जरूरी है, इन पैसों का सही जगह निवेश.

बात निवेश की हो तो हम बेहतर रिटर्न वाली स्कीम्स के बारे में सोचते हैं. ऐसे में एफडी यानी फिक्स्ड डिपॉजिट एक बेहतर विकल्प है. जब एफडी करने का मन बना लिया हो तो ये देखना जरूरी हो जाता है कि कहां ज्यादा ब्याज मिल रहा है. पहले ध्यान सरकारी बैंकों की ओर जाता है, फिर उनसे थोड़ा ज्यादा ब्याज पाने के लिए प्राइवेट बैंक और फिर आती है बारी, स्मॉल फाइनेंस बैंकों की, जो ब्याज देने के मामले में बड़े बैंकों से आगे हैं. इन्हीं में से एक नाम है फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक (Fincare Small Finance Bank) का.

एसबीआई, एचडीएफसी जैसे बैंकों से ज्यादा ब्याज

भारतीय स्टेट बैंक, पीएनबी, आईसीआईसीआई, एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक और अन्य बड़े बैंक 7 दिनों से लेकर 10 साल तक की एफडी की सुविधा देते हैं. एसबीआई जैसे बड़े बैंक 3 से 5 साल के फिक्स डिपॉजिट पर अधिकतम 5.80 फीसदी सालाना ब्याज देते हैं. लेकिन ऐसे कई छोटे ​फाइनेंस बैंक हैं जो बड़े बैंकों की अपेक्षा बहुत ज्यादा ब्याज देते हैं.

Fix Deposit (1)

(नीचे चार्ट में भी स्पष्ट ब्याज दरें अंकित हैं.)

एसबीआई में 10 साल की एफडी करने के बावजूद अधिकतम 6.40 फीसदी वार्षिक दर से ब्याज मिलता है, जबकि फिनकेयर बैंक तो महज 3 साल के निवेश पर भी 7 फीसदी की दर से ब्याज देता है. बैंकिंग विशेषज्ञ मानते हैं कि स्मॉल फाइनेंस बैंक्स कमर्शियल बैंकों के साथ कंपीटिशन करने के लिए ज्यादा ब्याज दरों पर निर्भर हैं.

7 फीसदी तक ब्याज की पेशकश

फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक की बात करें तो यह बैंक 7 दिनों से लेकर 7 साल तक की अवधि के लिए ब्याज देता है. इसमें आम जनता के लिए 3.0 फीसद से लेकर 6.50 फीसदी तक ब्याज देता है, जबकि वरिष्ठ नागरिकों के लिए बैंक की ओर से 3.5 फीसद से 7.00 फीसदी तक ब्याज दिया जाता है.

फिनकेयर बैंक में एफडी पर नई ब्याज दरें

अवधि  आम लोगों के लिए ब्‍याज वरिष्‍ठ नागरिक के लिए 
7 दिन से 45 दिन3.00%3.50%
46 दिन से 90 दिन3.25%3.70%
91 दिन से 180 दिन3.50%4.00%
181 दिन से 364 दिन5.00%5.50%
12 महीने से 15 महीने5.60%6.10%
15 महीने 1 दिन से 18 महीने5.60%6.10%
18 महीने 1 दिन से 21 महीने6.00%6.50%
21 महीने 1 दिन से 24 महीने6.00%6.50%
24 महीने 1 दिन से 30 महीने6.25%6.75%
30 महीने 1 दिन से 36 महीने6.25%6.75%
36 महीने 1 दिन से 42 महीने 6.50% 7.00%
42 महीने 1 दिन से 48 महीने6.25%6.75%
48 महीने 1 दिन से 59 महीने6.25%6.75%
59 महीने 1 दिन से 66 महीने6.00%6.50%
66 महीने 1 दिन से 84 महीने5.50% 6.00%

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

ग्वालियर - बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता शातिर चोर पकडे 10 लाख का माल बरामद। महाराजपुरा पुलिस ने दबिश देकर पकड़ा चोरों का ग्रुप महाराजपुरा थाना प्रभारी मिर्ज़ा आसिफ बेग और उनकी टीम के द्वारा कार्यवाही की गई। महराजपुरा टीम को बड़ी सफलता हासिल हुई।  10 लाख का माल भी बरामद किया गया।  महाराजपुर टीआई मिर्जा बेग ने बताया चोरों से 6 एलसीडी 8 लैपटॉप दो होम थिएटर 6 मोबाइल फोन एक स्कूटी टेबल फैन सिलेंडर बरामद हुआ है उनसे करीब 4 चोरियों का खुलासा हुआ है करीब 10 चोरियां कि गिरोह ने हामी भरी है 

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

कोरोना की स्थिति गंभीर होने पर कई राज्यों में फिर लॉकडाउन की स्थिति, सभी सीमाएं भी की जा रही हैं सील...। भोपाल। मध्यप्रदेश समेत पांच राज्य एक बार फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहे हैं। मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ते मामलों के बाद रविवार को पूरे प्रदेश में लॉकडाउन (Complete Lockdown) लगाया जा रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Covid 19) की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्र ने तय किया है कि अब सप्ताह में एक दिन रविवार को पूरा प्रदेश बंद रहेगा। उधर, मध्यप्रदेश के अलावा बिहार, उत्तरप्रदेश में भी लाकडाउन के आदेश जारी कर दिए गए हैं।   मध्यप्रदेश में पिछले तीन दिनों में 11 सौ से अधिक संक्रमित मरीज मिलने और जबकि 409 एक ही दिन में संक्रमित मिलने के बाद यह फैसला लिया जा रहा है इस दौरान प्रदेश की सीमाएं भी सील की जा सकती है। सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं ही चलती रहेंगी। गृह विभाग के बाद भोपाल समेत सभी जिलों के कलेक्टर अपने-अपने जिले के लिए एडवायजरी (Advisery'guideline) जारी कर रहे हैं।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र के मुताबिक इस सप्ताह में एक दिन का लाकडाउन ही