-->
कोरोना इफेक्ट:जिन जिलों में संक्रमण अधिक, वहां पर अब सप्ताह में 2 दिन रहेगा लॉकडाउन; कर्फ्यू रात 8 से सुबह 5 बजे तक रहेगा

कोरोना इफेक्ट:जिन जिलों में संक्रमण अधिक, वहां पर अब सप्ताह में 2 दिन रहेगा लॉकडाउन; कर्फ्यू रात 8 से सुबह 5 बजे तक रहेगा

भोपाल

सीएम शिवराज ने कोरोना के संक्रमण पर लगाने के लिए अफसरों को कड़े निर्देश दिए हैं।
  • कार्यालय और प्रतिष्ठान 30 से 50% कर्मचारी क्षमता के साथ संचालित होंगे
  • सीएम बोले- भोपाल और अन्य जिलों में संक्रमण मेल-मिलाप की वजह से बढ़ा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए अब प्रदेश के अधिक संक्रमण वाले जिलों में सप्ताह में 2 दिन लगातार पूर्ण लॉकडाउन रहेगा। इस दौरान आवश्यक सेवाएं छोड़कर सभी गतिविधियां प्रतिबंधित रहेंगी। लॉकडाउन रविवार को रहेगा ही, दूसरा दिन शनिवार हो या सोमवार, यह जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के निर्णय अनुसार तय किया जाएगा। सभी जिलों में रात्रिकालीन कर्फ्यू रात्रि 8 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगा।

मुख्यमंत्री मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि संक्रमणमुक्त जिलों को छोड़कर अन्य सभी जिलों में राज्य एवं केन्द्र सरकार के सभी कार्यालय 30% से 50% क्षमता के साथ संचालित किए जाएंगे, अधिकारी शत-प्रतिशत आएंगे।

निजी कार्यालय एवं व्यापारिक प्रतिष्ठान भी 30 से 50 प्रतिशत क्षमता में संचालित होंगे। निजी दफ्तर तथा व्यापारिक संस्थानों में कोई कोरोना पॉजीटिव मिलने पर उसे 7 दिन के लिए बंद किया जाएगा। जानकारी दी गई कि प्रदेश के 53 गांवों में कोरोना संक्रमण था, जिनमें से अब 17 गांवों में संक्रमण बचा है। 

भोपाल में आपसी मेल-मिलाप से फैला है कोरोना 
कोरोना संक्रमण की समीक्षा में पाया गया कि भोपाल सहित अन्य जिलों में जहां संक्रमण बढ़ा है, उसका एक प्रमुख कारण लोगों का आपस में मेल-मिलाप है। इसके लिए लोगों को जागरूक करना होगा कि अनावश्यक मेल-मिलाप न हो तथा मिलते समय फिजीकल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन किया जाए। कहीं भी अधिक संख्या में लोग इकट्ठे न हों। चौहान ने जनता से अपील की कि आगामी रक्षाबंधन, ईद आदि सभी त्यौहार घर पर रहकर ही मनाएं। सार्वजनिक रूप से कोई भी त्यौहार मनाने की अनुमति नहीं होगी।

गाइडलाइन का उल्लंघन करने पर अधिकारी-कर्मचारी दंडित होंगे 
सीएम चौहान ने निर्देश दिए कि गांवों में विशेष सावधानी रखी जाए, जिससे संक्रमण आगे न बढ़े। जो अधिकारी-कर्मचारी गाइड लाइन का पालन नहीं करेंगे, दंडित होंगे। उन्होंने कहा कि यदि कोई अधिकारी-कर्मचारी मास्क नहीं लगाता है, फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करता है अथवा अन्य तरीके से कोरोना गाइड लाइन का उल्लंघन करता है तो उनके विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी। जबलपुर में एक शादी समारोह में कुछ शासकीय अधिकारियों द्वारा गाइड लाइन का उल्लंघन किए जाने को मुख्यमंत्री ने अंत्यत गंभीरता से लेते हुए निर्देश दिए कि उनकी सूची उपलब्ध कराई जाए, उनके विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।

लॉकडाउन से ग्वालियर-मुरैना में संक्रमण में कमी आई 
ग्वालियर एवं मुरैना जिले की समीक्षा में पाया गया कि वहां लॉकडाउन से कोरोना संक्रमण में कमी आई है। ग्वालियर में गत दिनों 15 प्रतिशत तक पॉजिटिविटी पहुंच गई थी, जो कि अभी किए गए लॉकडाउन के बाद 7 प्रतिशत रह गई है। मुरैना में लॉकडाउन से पॉजिटिविटी दर 1.6 प्रतिशत रह गई है। जिला क्राइसिस समूह की बैठक कर आगे के लॉकडाउन पर विचार किया जाए। लॉकडाउन धीरे-धीरे खोला जाए।

बुरहानपुर को मॉडल की तरह देखें 
मुख्यमंत्री ने कहा कि बॉर्डर जिला होने के बावजूद बुरहानपुर ने कोरोना संक्रमण रोकने में जो कार्य किया है वह सराहनीय है। अन्य सभी जिले, विशेष रूप से अन्य राज्यों के सीमावर्ती जिले, बुरहानपुर मॉडल को अपनाएं। बुरहानपुर ने दूसरे राज्य से तथा संक्रमित क्षेत्रों से आने वाले व्यक्तियों की मॉनीटरिंग का अच्छा सिस्टम बनाया और उन्हें उनके घरों में 14 दिन तक क्वारेंटाइन किया। इससे संक्रमण रोकने में काफी मदद मिली।

0 Response to "कोरोना इफेक्ट:जिन जिलों में संक्रमण अधिक, वहां पर अब सप्ताह में 2 दिन रहेगा लॉकडाउन; कर्फ्यू रात 8 से सुबह 5 बजे तक रहेगा"

Post a Comment


INSTALL OUR ANDROID APP

JOIN WHATSAPP GROUP

JOIN WHATSAPP GROUP
THE VOICE OF MP WHATSAPP GROUP

JOB ALERTS

JOB ALERTS
JOIN TELEGRAM GROUP

Slider Post