-->
यहां ब्लैक में किसानों को खुलेआम बेचा जा रहा था यूरिया,लोगों की लगी लाइन

यहां ब्लैक में किसानों को खुलेआम बेचा जा रहा था यूरिया,लोगों की लगी लाइन


Updated On: Dec, 31 2018 WALIOR, GWALIOR, MADHYA PRADESH, INDIA


यहां ब्लैक में किसानों को खुलेआम बेचा जा रहा था यूरिया,लोगों की लगी लाइन


ग्वालियर। तहसील में लायसेंस सुदा तीन दुकानदार है एसडीएम भितरवार अशोक चौहान को शिकायत मिल रही थी कि यूरिया खाद ब्लैक में बेचा जा रहा है। रविवार को एसडीएम कृषि विभाग एडीओ केके बिसोरिया और तहसीलदार कुलदीप दुबे के साथ दुकानों का निरीक्षण किया और कार्रवाई की। साथ ही एक दुकान से एसडीएम ने मौके पर किसानों को उनकी अतिरिक्त राशि लौटवाई। शासकीय मूल्य 266.50 से ज्यादा 450 रुपए तक यूरिया खाद ब्लैक किया जा रहा है। मां शीतला खाद भंडार में निरीक्षण के दौरान टीम को मौके पर 63 यूरिया खाद के कट्टे मिले स्टॉक रजिस्टर से मिलान किया गया।

यह दुकानदार किसानों से मूल्य 266.50 रुपए की वजाए 450 रुपए में यूरिया बेच रहा था। एसडीएम ने मौके पर मिले 63 यूरिया खाद को अपने कब्जे में लिया और मौके पर खड़े करीब 12 किसानों को उनके द्वारा दी गई अतिरिक्त राशि लौटवाई। इसी प्रकार मां बसैया खाद बीज भंडार के निरीक्षण के दौरान 152 बोरी मिली। प्रशासन ने अपने कब्जे में लिया और सोमवार को प्रशासन की निगरानी में कब्जे मेें लिए खाद को बंटवाया जाएगा।

स्टाक था शून्य मिली 81 खाद के बैग्स 
तहसीलदार गुलाब बघेल ने रविवार को शहर के राकेश सिंघई खाद की दुकान का निरीक्षण किया और मौके पर 81 खाद की बोरी रखी मिली जबकि स्टॉक शून्य बता रहा था जिसे लेकर पूछताछ की गई जिसमें राकेश ने बताया कि यह खाद उसके खाते का है जो भिजवाना है जिसे लेकर तहसीलदार ने जल्द गोदाम से हटाए जाने के लिए कहा।

मदन ट्रेडिंग कंपनी के गोदाम पर टीम को 11 कट्टे मिले साथ ही स्टॉक रजिस्टर चेक किया। जल्द कट्टों को बंटवाने के लिए कहा गया।

0 Response to "यहां ब्लैक में किसानों को खुलेआम बेचा जा रहा था यूरिया,लोगों की लगी लाइन"

Post a Comment

Slider Post