-->
पूर्व विधायक ने हाथ जोडक़र कहा, हमको पानी दे दो

पूर्व विधायक ने हाथ जोडक़र कहा, हमको पानी दे दो


- एसडीएम ने कहा, मेरा जातीय अपमान कर रहे हैं, अभद्र व्यवहार कर रहे हैं आप
- एसडीएम जौरा व पूर्व विधायक के बीच हॉकटॉक का वीडियो वायरल

मुरैना. जौरा एसडीएम अपनी कार्यशैली को लेकर आए दिन विवादों में रहते हैं। पेयजल समस्या को लेकर पूर्व विधायक महेश दत्त मिश्रा और एसडीएम के बीच काफी देर तक हॉकटॉक का वीडियो वायरल हुआ है। एसडीएम समस्या को नजरअंदाज करते हुए पूर्व विधायक पर हावी होने का प्रयास कर रहे हैं।
पूर्व विधायक मिश्रा वार्ड १२ पंचमुखी हनुमान मंदिर वाली गली के लोगों के साथ बस्ती की पेयजल समस्या को लेकर शनिवार को एसडीएम जौरा के पास गए। वहां सर्वप्रथम पूर्व विधायक ने स्वयं और फिर अन्य लोगों से हाथ जुड़वाए और कहा कि हमको पानी दे दो, अपना दायित्व निभा दो, हम प्यासे हैं। एसडीएम ने कहा कि हमने सीएमओ को लिखा है। जब एसडीएम ने कर्मचारी को बुलाकर पूछा कि ये क्या मामला है तब कर्मचारी ने सबके सामने एसडीएम की कलई उतार दी जब उसने कहा कि साहब ये फाइल है, आपने स्वीकृति नहीं दी इसलिए काम नहीं हो सका। जब पूर्व विधायक ने कहा कि देख लिया वर्जन ये स्थिति है काम की। अपने व्यक्ति से कहा कि इसको फोटो ले लो। तब एसडीएम ने कहा कि ये हमारा इंटरनल मामला है, तब पूर्व विधायक ने कहा कि जब एक्स्टरनल मामला पहले से ही हो तो इंटरनल से काम नहीं चलेगा। उन्होंने कहा कि ये अधिकारी ऐसे नहीं मानेंगे, इनके खिलाफ कल महिलाओं को लेकर आंदोलन करेंगे और एफआइआर करवाते हैं, इसी बात पर एसडीएम भडक़ गए और पूर्व विधायक से बोले आप मेरा जातीय अपमान कर रहे, मेरे साथ अभद्र व्यवहार कर रहे हैं। तब पूर्व विधायक ने कहा कि आपकी जाति क्या है, आप प्रशासक हैं, अधिकारी की कोई जाति नहीं होती, जनता की समस्या का हल करवाएं। एसडीएम जौरा को मोबाइल लगाया तो उन्होंने मोबाइल रिसीव नहीं किया।
कथन
- जौरा कस्बे में करीब ३५ घर में छह महीने से पेयजल संकट है और कोई सुनवाई नहीं हो रही है। एसडीएम के यहां गए तो वह अभद्रता से पेश आए। उन्होंने सात दिन का समय दिया है यानि कि १४ अगस्त तक पेयजल समस्या हल नहीं हुई तो १६ अगस्त को बड़ा आंदोलन किया जाएगा, जिसमें महिला बच्चे सभी शामिल होंगे।
महेशदत्त मिश्रा, पूर्व विधायक, जौरा

0 Response to "पूर्व विधायक ने हाथ जोडक़र कहा, हमको पानी दे दो"

Post a Comment

Slider Post