Skip to main content

आरोग्य संजीवनी उत्पाद पर IRDAI ने दिशानिर्देश जारी किये


facebook sharing button
messenger sharing button
twitter sharing button
email sharing button
whatsapp sharing button
sharethis sharing button

इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (Insurance Regulatory and Development Authority of India – IRDAI) ने 19 मार्च, 2020 को सामान्य और स्वास्थ्य बीमा कंपनियों को मानक स्वास्थ्य बीमा उत्पाद के तहत 50,000 रुपये से 10 लाख रुपये के बीच अनिवार्य रूप से बीमा राशि की पेशकश करने को कहा है। इस कदम की घोषणा ‘आरोग्य संजीवनी’ (Arogya Sanjeevani) उत्पाद के तहत उपलब्ध कवरेज को बढ़ाने के लिए की गई थी।

पृष्ठभूमि

IRDAI ने सभी सामान्य और स्वास्थ्य बीमाकर्ताओं को 5 लाख रुपये तक की अधिकतम बीमा राशि और न्यूनतम 1 लाख रुपये के साथ मानक व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा उत्पाद की पेशकश करने का आदेश दिया था। यह भ्रम को कम करने और अधिक लोगों को स्वास्थ्य बीमा खरीदने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए किया गया था।

मुख्य बिंदु

बीमाकर्ताओं ने ‘आरोग्य संजीवनी’ उत्पाद के तहत 50,000 रुपये की बीमा राशि की पेशकश की है क्योंकि कोविड-19 मामलों और स्वास्थ्य देखभाल की लागत बढ़ने के कारण इसकी कोई ऊपरी सीमा नहीं है। अधिकांश बीमाकर्ता 5 लाख रुपये की अधिकतम मूल सीमा से ऊपर आरोग्य संजीवनी नीति की पेशकश नहीं कर रहे थे। लेकिन इस संशोधन के बाद बीमाकर्ताओं को 10 लाख रुपये तक की राशि की पेशकश करनी होगी। यह संशोधन 1 मई, 2021 से लागू होगा।

आरोग्य संजीवनी

‘आरोग्य संजीवनी मानक स्वास्थ्य बीमा उत्पाद है जो परिवारों और व्यक्तियों को अस्पताल में भर्ती खर्च के संबंध में एक चिकित्सा कवरेज प्रदान करता है। इसमें कोविड-19 उपचार भी शामिल है। यह बीमा राशि के 2% तक कमरे, बोर्डिंग और नर्सिंग खर्चों को भी कवर करता है।

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चे की जवाबदारी प्रदेश के  युवा व वरिष्ठ नेता श्री रफत वारसी के हाथों में  मध्य प्रदेश भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु दत्त शर्मा ने मध्य प्रदेश के भाजपा संगठन का विस्तार किया है जिसमें मोर्चे के नए प्रदेश अध्यक्षों की भी नियुक्ति की गई है जिसमें मध्य प्रदेश के वरिष्ठ व युवा नेता श्री रफत वारसी को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाकर भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की जवाबदारी सौंपी गई है श्री रफत वारसी मध्यप्रदेश में एक उभरते हुए अल्पसंख्यक चेहरे है और भाजपा आलाकमान ने नए चेहरे के रूप में श्री वारसी साहब को यह नई जवाबदारी सौंपी है जिससे मध्य प्रदेश में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा और मजबूत होने की संभावना बढ़ गई है वर्तमान में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा में नई और युवा पीढ़ी के लोग अधिकतर काम कर रहे हैं और वारसी साहब के प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से इसमें और अधिक वृद्धि होगी क्योंकि नए प्रदेश अध्यक्ष श्री वारसी साहब मध्यप्रदेश में अल्पसंख्यक समाज में अपनी गहरी पैठ रखते हैं उनके प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चा बेहतर

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

    शहीद हसमत वारसी जी  के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण  पद          वी डी शर्मा जी ने गले लगा कर दी बधाई      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी से आशीर्वाद लेते हुए       वी डी  शर्मा जी भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  ने दिया आशीर्वाद          अपनी माँ परवीन वारसी जी से दुआयें  लेते हुए रफत वारसी ने किया पदभार ग्रहण 17 जनवरी 2021 को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष रफत वारसी ने किया पदभार ग्रहण रफत वारसी ने कहा मुस्लिम समाज में कई तरह के भ्रम हैँ जिन्हे दूर करने के लिए एक दल के साथ पुरे प्रदेश का भ्रमण करेंगे ! साथ ही उन्होंने पदभार ग्रहण में आये हुए  सभी  साथियों का तहे दिल से शुक्रिया  अदा किआ 

SHOP WITH US Apparel & Accessories