Skip to main content

कहीं आपके शहर में बिकना बंद ना हो जाए पेट्रोल! बढ़ती कीमतें बन सकती हैं कारण, जानें- क्यों?


मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पुराने पेट्रोल पंपों पर प्रीमियम पेट्रोल की बिक्री बंद हो गई. प्रीमियम पेट्रोल की बिक्री बंद हो गई. प्रीमियम पेट्रोल का दाम 100.05 रुपये प्रति लीटर पहुंच गए.

कहीं आपके शहर में बिकना बंद ना हो जाए पेट्रोल! बढ़ती कीमतें बन सकती हैं कारण, जानें- क्यों?
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पुराने पेट्रोल पंपों पर प्रीमियम पेट्रोल की बिक्री बंद हो गई.

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. पिछले कुछ दिनों में कई बार पेट्रोल की कीमतों में इजाफा हो चुका है. कई शहरों में पेट्रोल की कीमतें 100 रुपये की दहलीज पर पहुंच गई हैं तो कई शहर में प्रीमियम पेट्रोल की कीमत 100 के पार पहुंच गई है. मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में तो पेट्रोल की कीमत 100.05 रुपये हो गई है, ऐसे में सिर्फ आपको पेट्रोल के लिए ज्यादा पैसे नहीं चुकाने होंगे बल्कि हो सकता है कि आपको पेट्रोल ही ना मिले. जी हां, आपके सुनने में भले ही अजीब लग रहा हो कि पेट्रोल की कीमत बढ़ने से आखिरी पेट्रोल क्यों नहीं मिल पाएगा?

ऐसा भी नहीं है कि पेट्रोल की सप्लाई नहीं है. पेट्रोल की बिक्री पेट्रोल की सप्लाई की वजह से नहीं बल्कि पेट्रोल पंप की टेक्निकल प्रॉब्लम की वजह से हैं. ऐसे में जानते हैं कि आखिर क्यों पेट्रोल पंप पर फ्यूल नहीं मिल पा रहा है…

दरअसल, द वीक के अनुसार, मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पुराने पेट्रोल पंपों पर प्रीमियम पेट्रोल की बिक्री बंद हो गई. प्रीमियम पेट्रोल की बिक्री बंद हो गई. प्रीमियम पेट्रोल का दाम 100.05 रुपये प्रति लीटर पहुंच गए. दरअसल, पेट्रोल पंप की पुरानी मशीनों में 3 डिजिट के दाम डिस्पले ही नहीं हो पा रहे थे. जानकारी के मुताबिक, अगर सादा पेट्रोल का दाम भी 100 रुपये लीटर तक पहुंचा तो कई पेट्रोल पंप बिक्री बंद कर देंगे.

क्यों नहीं मिल रहा पेट्रोल?

सीधे शब्दों में आपको बताते हैं कि जब आप पेट्रोल पंप पर पेट्रोल खरीदते हैं तो आपको पंप के मीटर में पैसों के साथ पेट्रोल प्रति लीटर के भाव भी दिखाई देते हैं. पुराने पेट्रोल पंप पर कीमत के सेक्शन में सिर्फ दो डिजिट तक ही जगह होती है. यानी जब तक पेट्रोल की कीमत 100 से कम यानी दो डिजिट में थी तो कीमत दिख रही थी. हालांकि, अब कीमत बढ़ने से तीन डिजिट की संख्या पंप पर दिखाई नहीं दे रही है, इस वजह से कुछ पेट्रोल पंप पर पेट्रोल की बिक्री प्रभावित हुई है.

इसलिए अन्य शहरों में भी नहीं मिलेगा पेट्रोल

लेकिन आपको बता दें कि सिर्फ भोपाल में ही नहीं, बल्कि देश के कई शहरों में पेट्रोल की कीमत काफी ज्यादा है और वहां भी जल्द ही 100 रुपये तक पेट्रोल की कीमत पहुंच सकती है. अगर एक- दो दिन में पेट्रोल की कीमत और बढ़ जाती है तो कई शहरों में कीमत 100 के पार हो जाएगी. इसके बाद उन शहरों में भी पुराने पेट्रोल पंप पर पेट्रोल मिलना बंद हो सकता है. ऐसे में अब पुराने पेट्रोल पंप को खुद को अपग्रेड करना होगा. डिजिटल मीटर वाले पेट्रोल पंप में ऐसी दिक्कत नहीं होती है.

कितनी है कीमत?

रविवार को पेट्रोल-डीजल की कीमतों में इजाफा हुआ है और आज लगातार छठे दिन यह बढ़ोतरी हुई है. नई दिल्ली में आज डीजल की कीमत में 29 पैसे की बढ़ोतरी हुई है, जबकि अन्य शहरों में भी कीमतें काफी बढ़ी हैं. दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल की कीमत अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है. मंगलवार से ही लगातार पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ रहे हैं. इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक, रविवार यानी आज दिल्ली में पेट्रोल का भाव 88.73 रुपये प्रति लीटर है, जबकि मुंबई में 95.21 रुपये लीटर है. कोलकाता में पेट्रोल का रेट 90.01 रुपये लीटर है और चेन्नई में 90.96 रुपये प्रति लीटर है.

हर सुबह बदलती हैं कीमतें

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रोजाना सुबह 6 बजे बदलाव होता है. सुबह 6 बजे से ही नई दरें लागू हो जाती हैं. हालांकि कई बार अगले दिन भी रेट सेम ही रहता है. पेट्रोल-डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और अन्य चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है.

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चे की जवाबदारी प्रदेश के  युवा व वरिष्ठ नेता श्री रफत वारसी के हाथों में  मध्य प्रदेश भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु दत्त शर्मा ने मध्य प्रदेश के भाजपा संगठन का विस्तार किया है जिसमें मोर्चे के नए प्रदेश अध्यक्षों की भी नियुक्ति की गई है जिसमें मध्य प्रदेश के वरिष्ठ व युवा नेता श्री रफत वारसी को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाकर भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की जवाबदारी सौंपी गई है श्री रफत वारसी मध्यप्रदेश में एक उभरते हुए अल्पसंख्यक चेहरे है और भाजपा आलाकमान ने नए चेहरे के रूप में श्री वारसी साहब को यह नई जवाबदारी सौंपी है जिससे मध्य प्रदेश में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा और मजबूत होने की संभावना बढ़ गई है वर्तमान में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा में नई और युवा पीढ़ी के लोग अधिकतर काम कर रहे हैं और वारसी साहब के प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से इसमें और अधिक वृद्धि होगी क्योंकि नए प्रदेश अध्यक्ष श्री वारसी साहब मध्यप्रदेश में अल्पसंख्यक समाज में अपनी गहरी पैठ रखते हैं उनके प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चा बेहतर

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

    शहीद हसमत वारसी जी  के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण  पद          वी डी शर्मा जी ने गले लगा कर दी बधाई      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी से आशीर्वाद लेते हुए       वी डी  शर्मा जी भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  ने दिया आशीर्वाद          अपनी माँ परवीन वारसी जी से दुआयें  लेते हुए रफत वारसी ने किया पदभार ग्रहण 17 जनवरी 2021 को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष रफत वारसी ने किया पदभार ग्रहण रफत वारसी ने कहा मुस्लिम समाज में कई तरह के भ्रम हैँ जिन्हे दूर करने के लिए एक दल के साथ पुरे प्रदेश का भ्रमण करेंगे ! साथ ही उन्होंने पदभार ग्रहण में आये हुए  सभी  साथियों का तहे दिल से शुक्रिया  अदा किआ 

SHOP WITH US Apparel & Accessories