बीकेयू भानु गुट का बड़ा आरोप, दर्ज मुकदमों को हटवाने के लिए धरने पर बैठे हैं राकेश टिकैत

  • बातचीत का रास्ता बंद करने का सवाल ही पैदा नहीं होता।
  • हम सरकार का सिर झुकने नहीं देंगे।

नई दिल्ली। दिल्ली बॉर्डर पर कृषि कानूनों के खिलाफ जारी आंदोलन के बीच बीकेयू भानु गुट ने बड़ा बयान दिया है। बीकेयू भानु गुट के प्रमुख भानु प्रताप सिंह ने कहा है कि राकेश टिकैत अपने ऊपर दर्ज मुकदमों को हटवाने के लिए गाजीपुर में धरने पर बैठे हैं। जैसे ही मुकदमे हटा लिए जाएंगे राकेश टिकैत अपने गांव वापस चले जाएंगे।


कानून वापस न लेने की मजबूरी क्या है

वहीं किसान आंदोलन का नेतृत्व कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि सरकार के साथ बातचीत का रास्ता बंद करने का सवाल ही पैदा नहीं होता। राकेश टिकैत ने कहा है कि सरकार बताए वह कानून वापस क्यों नहीं ले सकती।

हम वादा करते हैं कि सरकार का सिर दुनिया के सामने झुकने नहीं देंगे। ट्रैक्टर परेड में हिंसा के कारण किसान आंदोलन के कमजोर पड़ने के बाद एक बार फिर जोर पकड़ने के बीच टिकैत ने सरकार से कहा कि ऐसी क्या मजबूरी है कि वह नए कृषि कानूनों को निरस्त नहीं करने पर अड़ी हुई है।

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता