उत्तर प्रदेश के प्रमुख मेले और उत्सव


मेले का नामस्थान
रामनवमी मेलाअयोध्या में
शाकंभरी देवी का मेलासहारनपुर में
गोविंद सागर मेलाअंबेडकरनगर में
राम बारातआगरा
खिचड़ी मेलागोरखपुर
श्रावणी मेलाफर्रुखाबाद
सोरो मेलाकासगंज
रामनगरिया मेलाफर्रुखाबाद
रामायण मेलाचित्रकूट
कैलाश मेलाआगरा (प्रतिवर्ष श्रावण के तीसरे सोमवार को)
परिक्रमा मेलाअयोध्या
कबीर मेलामगहर ( संत कबीर नगर में)
देवी पाटन मेलाबलरामपुर
कालिंजर मेलाबांदा
बल सुंदरी देवी मेलाअनूपशहर
गोला गोकर्ण नाथ मेलालखीमपुर खीरी
ढाई घाट मेलाशाहजहांपुर
मकनपुर मेलाफर्रुखाबाद
देवा मेलाबाराबंकी
नौचंदी मेलामेरठ
गढ़मुक्तेश्वर मेलाहापुड़
कुंभ मेलाप्रयाग
बटेश्वर मेलाआगरा
नैमिषारण्य मेलानैमिषारण्य, सीतापुर
कम्पिल मेलाबांदा
सैयद सालार मेलाबहराइच
देवछठ मेलादाऊजी ( मथुरा)
नवरात्रि मेलाआगरा
गोविंद साहब मेलाअतरौलिया (आजमगढ़)

प्रमुख महोत्सव

  • आयुर्वेद महोत्सव –  झांसी
  • आगरा महोत्सव – आगरा
  • बिठूर गंगा महोत्सव –  कानपुर
  • वरुणा महोत्सव – वाराणसी
  • कजली महोत्सव –  महोबा
  • होली का महोत्सव –  मथुरा
  • त्रिवेणी महोत्सव –  इलाहाबाद
  • गंगा महोत्सव –  वाराणसी
  • वाराणसी पर्यटन उत्सव –  वाराणसी
  • लखनऊ महोत्सव –  लखनऊ

महत्वपूर्ण याद रखने योग्य बाते

  • उत्तर प्रदेश में प्रतिवर्ष लगभग 2250 मेले आयोजित किये जाते हैं ।
  • सर्वाधिक मेले मथुरा (86), कानपुर – हमीरपुर (79), झांसी (78), आगरा (72) तथा फतेहपुर (70) में होते हैं।
  • उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग द्वारा प्रतिवर्ष लखनऊ, आगरा तथा वाराणसी नगरों में महोत्सव का आयोजन किया जाता है।
  • हिन्दू – मुस्लिम एकता के प्रतीक “सुलहकुल उत्सव” का आयोजन आगरा में किया जाता है।
  • अयोध्या परिक्रमा का आयोजन रामजन्मभूमि (अयोध्या) में किया जाता है।
  • उत्तर प्रदेश में विश्व का सबसे बड़ा मेला कुम्भ मेला प्रयाग में लगता है।
  • उत्तर प्रदेश में सबसे काम मेले पीलीभीत जिले में लगते हैं।
  • दादरी के पशु मेले का आयोजन बलिया में किया जाता है।

Comments

Popular posts from this blog

कोरोना का खौफ : भारत की सबसे बड़ी देहमंडी में पसरा सन्नाटा

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

Janta Curfew के बीच कोरोना के डर से युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- सभी अपना टेस्ट कर लेना