Skip to main content

एमपी में लॉकडाउन रिटर्न / शिवपुरी में 19 जुलाई तक लॉकडाउन; ग्वालियर 7-10 दिन के लिए बंद का फैसला एक-दो दिन में, सीएम की अपील- त्योहार घर पर ही मनाएं


  • तस्वीर मुरैना के ज्ञानोदय छात्रावास की है, जहां पर कोविड वार्ड बनाया गया है और यहां से हर रोज मरीज स्वस्थ होकर निकल रहे हैं। सोमवार को भी मरीज यहां से डिस्चार्ज किए गए। मरीजों को डॉक्टरों ने समझाइश दी और 14 दिन होम क्वारैटाइन रहने की हिदायत भी दी।तस्वीर मुरैना के ज्ञानोदय छात्रावास की है, जहां पर कोविड वार्ड बनाया गया है और यहां से हर रोज मरीज स्वस्थ होकर निकल रहे हैं। सोमवार को भी मरीज यहां से डिस्चार्ज किए गए। मरीजों को डॉक्टरों ने समझाइश दी और 14 दिन होम क्वारैटाइन रहने की हिदायत भी दी।

  • सार्वजनिक झांकियां लगाने पर रोक, पूजा स्थलों पर 5 से ज्यादा लोग एकत्र नहीं हो सकेंगे
  • भोपाल में लॉकडाउन की चर्चा ने जोर पकड़ा, शादी में दोनों पक्ष से 10-10 लोग ही शामिल होंगे

भोपाल. अनलॉक 2 के बाद मध्य प्रदेश में कोरोना बेकाबू हो गया है। इसका संक्रमण लगातार बढ़ रहा है, प्रदेश स्तर पर 31 जुलाई तक हर संडे लॉकडाउन करने के निर्णय के बाद अब स्थानीय प्रशासन भी शहरों और जिलों को फिर लॉकडाउन करने की तरफ बढ़ रहे हैं। राजधानी भोपाल में जहां फिर से लॉकडाउन करने की चर्चा जोर पड़ रही है। एक-दो दिन में लॉकडाउन लगाया जा सकता है। वैसे भी ज्यादा संक्रमित इलाके इब्राहिमगंज को 7 दिन के लिए बंद किया गया है।

वहीं ग्वालियर में क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में सभी सदस्यों ने शहर में 7-10 दिन तक टोटल लॉकडाउन करने पर सहमति जताई है। इस संबंध में प्रस्ताव कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने प्रमुख सचिव गृह को भेज दिया है। एक-दो दिन इस पर फैसला हो जाएगा। वहीं शिवपुरी कलेक्टर ने शहर को 19 जुलाई तक लॉकडाउन करने का आदेश जारी कर दिया है। कलेक्टर अनुग्रह पी ने सभी व्यापारियों और दुकानदारों से बातचीत के बाद ये आदेश पारित किया है।

उत्सवों पर सार्वजनिक झांकियां नहीं लगाई जाएंगी: शिवराज
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए उत्सवों पर सार्वजनिक झाकियां नहीं लगाई जाएंगी। धार्मिक स्थलों, उपासना स्थलों पर एक बार में 5 से अधिक व्यक्ति इकट्ठे नहीं होंगे। शादी, सगाई आदि में दोनों पक्षों के 10-10 व्यक्ति से अधिक सम्मिलित नहीं होंगे। जन्मदिन आदि उत्सवों में 10 से अधिक व्यक्ति शामिल नहीं होंगे। मुख्यमंत्री ने सोमवार को मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए घर पर ही आगामी त्यौहार मनाएं। देव प्रतिमा घर पर ही स्थापित कर पूजा-अर्चना करें। सार्वजनिक स्थलों पर प्रतिमा स्थापित करने, त्योहार मनाने की अनुमति नहीं होगी।

जबलपुर: कालोनी-मोहल्लों को करें लॉकडाउन
जबलपुर की समीक्षा में पाया गया कि पिछले एक हफ्ते में वहां संक्रमण बढ़े हैं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि यहां की जिला आपदा प्रबंधन समूह के निर्णय अनुसार जिन कॉलोनी, मोहल्लों में अधिक प्रकरण आ रहे है, वहां लॉकडाउन किया जा सकता है। जनरल लॉकडाउन ना किया जाए। जनरल लॉकडाउन सप्ताह में एक ही दिन रहे।

इंदौर: एक-दो दिन में हो सकता है लॉकडाउन पर निर्णय
आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में अभी शहर को लॉक नहीं करने को लेकर सहमति बनी। हालत नहीं सुधरने पर लॉकडाउन की ओर जाने की बात कही गई। बाजार 9 की जगह अब 8 बजे बंद होंगे। मंडी और कुछ बाजार को संकेतिक रूप से लॉक करने का निर्णय लिया गया है। 56 दुकान पर अब सिर्फ होम डिलीवरी की ही सुविधा रहेगी। ऑड-ईवन के बजाय अब लेफ्ट और राइट में दुकानें खुलेंगी। एक-दो दिन में इस पर निर्णय लिया जाएगा।

शिवपुरी: 19 जुलाई तक टोटल लॉकडाउन
शिवपुरी में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मरीजों को देखते हुए कलेक्टर अनुग्रह पी ने आज आदेश दिया है कि शहर में लॉकडाउन 19 जुलाई तक बढ़ाया जाता है। जिला कलेक्टर द्वारा आज सभी व्यापारियों एवं दुकानदारों के साथ बैठक करके यह आदेश पारित किया गया। आदेश के अनुसार इस दौरान सभी दुकानदारों, व्यापारियों का बूथ लगाकर टेस्ट कराया जाएगा तथा सब्जी मंडी में भी टेस्ट कराया जाएगा। इसके साथ ही धार्मिक स्थलों पर केवल धर्म गुरु ही पूजा-अर्चना करेंगे। वहां पर भीड़ एकत्रित नहीं की जाएगी।

किराना स्टोर अंतराल रखकर दो दिन खुलेंगे
शिवपुरी शहर में किराना स्टोर अंतराल रखते हुए 2 दिन खुलेंगे तथा पेट्रोल पंप, दूध डेयरी, मेडिकल स्टोर किसानों के उपकरण खाद बीज की दुकानें तथा कृषि से संबंधित वस्तुओं की दुकानें शाम तक खुलेंगे तथा शनिवार एवं रविवार को टोटल लॉकडाउन रहेगा। आदेश में कहा गया है कि ऑटो रिक्शा एवं यातायात भी लॉकडाउन के दौरान बंद रहेगा। केवल अति आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकले तथा मास्क लगाएं।

बैतूल: मुलताई, चिचौली और भौंरा 15 जुलाई तक लॉकडाउन
कलेक्टर राकेश सिंह के आदेश पर मुलताई, चिचोली, भौंरा क्षेत्रों में 14 की सुबह से 15 जुलाई की रात तक लॉकडाउन घोषित किया गया है। वहीं घोड़ाडोंगरी तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा ने बताया कि पाथाखेड़ा, शोभापुर सहित कुछ इलाकों में तीन दिन के लिए लॉकडाउन किए जाने पर भी चर्चा हुई है। इस पर स्थानीय स्तर पर बैठक कर व्यवस्थाओं के अनुसार निर्णय लेंगे। बैतूल जिले में कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ रही हैं। बीते 18 घंटों के दौरान जिले के तीन ब्लॉकों में कुल 19 मरीज संक्रमित पाए गए हैं।

शहडोल: कोरोना के पांच मरीज मिले
शहडोल नगर सहित जिले में आज कोरोना के 5 मरीज मिले हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ राजेश पांडेय ने बताया कि नगर में शंकर टॉकीज के सामने पहले के 2 मरीजों के दो रिश्तेदार जाँच में कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसी तरह से बैंक ऑफ़ इंडिया के मैनेजर को उनके उमरिया प्रवास के समय बीमारी लग गयी। धनपुरी के 2 मरीजों के परिवार में अन्य दो सदस्यों को कोरोना मिलने से आज कुल 5 मरीज हो गए हैं।

पन्ना: सभी कोरोना मरीज हुए स्वस्थ
मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में अब तक मिले सभी 58 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज हो गए, जिसके बाद वर्तमान में एक भी एक्टिव मरीज नहीं हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एलके तिवारी ने बताया कि जिले में अब तक 58 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं, जो समुचित देखरेख व इलाज से पूरी तरह स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। आज 132 सैंपल टेस्ट किए गए हैं। वर्तमान समय में जिले में एक भी एक्टिव कोरोना मरीज नही हैं।

सीहोर: पांच कोरोना पॉजिटिव
सीहोर जिले में सोमवार को पांच और कोरोना पाजेटिव पाए गये। कोरोना जांच रिपोर्ट में पांच और कोरोना संक्रमित पाए गये। इन्हें मिलाकर जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 56 हो गई हैं। स्वास्थ्य विभाग के मीडिया यूनिट के अनुसार आज प्राप्त पॉजिटिव रिपोर्ट में एक वासुदेव, एक क़स्बा सीहोर, एक इछावर, और दो अलीपुर ईदगाह कालोनी आष्टा शामिल हैं।

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

ग्वालियर - बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता शातिर चोर पकडे 10 लाख का माल बरामद। महाराजपुरा पुलिस ने दबिश देकर पकड़ा चोरों का ग्रुप महाराजपुरा थाना प्रभारी मिर्ज़ा आसिफ बेग और उनकी टीम के द्वारा कार्यवाही की गई। महराजपुरा टीम को बड़ी सफलता हासिल हुई।  10 लाख का माल भी बरामद किया गया।  महाराजपुर टीआई मिर्जा बेग ने बताया चोरों से 6 एलसीडी 8 लैपटॉप दो होम थिएटर 6 मोबाइल फोन एक स्कूटी टेबल फैन सिलेंडर बरामद हुआ है उनसे करीब 4 चोरियों का खुलासा हुआ है करीब 10 चोरियां कि गिरोह ने हामी भरी है 

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

कोरोना की स्थिति गंभीर होने पर कई राज्यों में फिर लॉकडाउन की स्थिति, सभी सीमाएं भी की जा रही हैं सील...। भोपाल। मध्यप्रदेश समेत पांच राज्य एक बार फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहे हैं। मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ते मामलों के बाद रविवार को पूरे प्रदेश में लॉकडाउन (Complete Lockdown) लगाया जा रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Covid 19) की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्र ने तय किया है कि अब सप्ताह में एक दिन रविवार को पूरा प्रदेश बंद रहेगा। उधर, मध्यप्रदेश के अलावा बिहार, उत्तरप्रदेश में भी लाकडाउन के आदेश जारी कर दिए गए हैं।   मध्यप्रदेश में पिछले तीन दिनों में 11 सौ से अधिक संक्रमित मरीज मिलने और जबकि 409 एक ही दिन में संक्रमित मिलने के बाद यह फैसला लिया जा रहा है इस दौरान प्रदेश की सीमाएं भी सील की जा सकती है। सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं ही चलती रहेंगी। गृह विभाग के बाद भोपाल समेत सभी जिलों के कलेक्टर अपने-अपने जिले के लिए एडवायजरी (Advisery'guideline) जारी कर रहे हैं।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र के मुताबिक इस सप्ताह में एक दिन का लाकडाउन ही