एयर स्ट्राइक पर खुलासा: बालाकोट में सड़ रहे आतंकियों के शव, इसलिए मीडिया की एंट्री हुई बैन !


बालाकोट एयर स्ट्राइक में सैकड़ों आतंकियों के मारे जाने की खबर


एयर स्ट्राइक साइट पर पाकिस्तान ने मीडिया की एंट्री पर लगाया बैन


आतंकियों के शव सड़ने से इलाके में भयंकर बदबू की खबर


नई दिल्ली। पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय वायुसेना की ओर से किए गए एयर स्ट्राइक पर एक सनसनीखेज खुलासा हुआ है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बालाकोट में जिस जगह पर भारत ने बम बरसाए थे, वहां अभी भी आतंकियों की लाशें पड़ी हुई हैं। इसी वजह से पाकिस्तान सरकार ने पूरे खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के मानसेहरा इलाके को कब्जे में लेकर मीडिया के प्रवेश पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दी है।


9 दिन में 3 बार बैरंग लौटी पत्रकारों की टीम

बालाकोट में हमले की जगह जाने की कोशिश कर रही इंटरनेशनल न्यूज एजेंसी की टीम को अबतक तीन बार लौटाया जा चुका है। पिछले 9 दिनों में पत्रकारों की टीम तीन बार जाबा टॉप पर पहुंचने की कोशिश कर चुकी है, लेकिन इलाके में तैनात सुरक्षबल के जवानों ने जाबा टॉप पर चढ़ने से रोक दिया। पत्रकारों की ओर से इंटरनेशनल कवरेज की परमिट दिखाए जाने पर पर उन्हें सुरक्षा कारणों का हवाला देकर लौटा दिया गया। इतना ही नहीं किसी भी पाकिस्तानी पत्रकार और न्यूज एजेंसी को भी एयर स्ट्राइक साइट पर जाने की मनाही है।

लाश ठिकाने लगाने में पस्त हुई सरकार

26 फरवरी को भारतीय वायुसेना की ने सीमा पार कर पाकिस्तान में आतंक के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की थी। सेना ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के मानसेहरा जिले में स्थित जाबा टॉप पर सटीक निशाना लगाते हुए जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े ट्रेनिंग कैंप को नस्तेनाबूत कर दिया। एक अनुमान के मुताबिक इस हमले में कम से कम 300 आतंकी मारे गए। एक साथ इतनी शवों को ठिकाने लगाना पाकिस्तान के लिए बड़ी चुनौती बन चुकी है। शव सड़ने से इलाके में बेहद बदबू भी है। अब दुनिया में अपनी बदनामी के डर से पाकिस्तानी सेना ने एयर स्ट्राइक वाली जगह को पूरी तरह से अपने कब्जे में ले लिया और बैगर अनुमति प्रवेश पर पाबंदी लगी दी है

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता