MP: जब एक ही दुल्हन से शादी करने के लिए पहुंचे 7 दूल्हे, इतनी बारातें देखकर मोहल्ले में मचा हंगामा; पढ़िए क्या था पूरा मामला


भोपाल की संस्था गरीब लड़कियों की शादी कराने के नाम पर यह पूरा धंधा चला रही थी. इस संस्था ने 25 मार्च को 7 दूल्हों की शादी करवाने की बात कही थी. और इसके लिए लड़कों के परिवार से 20 हजार रुपये भी लिए थे

MP: जब एक ही दुल्हन से शादी करने के लिए पहुंचे 7 दूल्हे, इतनी बारातें देखकर मोहल्ले में मचा हंगामा; पढ़िए क्या था पूरा मामला

एमपी अजब है सबसे गजब है. प्रदेश की राजधानी भोपाल से एक बड़ा ही गजब मामला सामने आया है. यहां 7 दूल्हे एक ही दुल्हन से शादी करने उसके घर पहुंचे, लेकिन कोई भी दुल्हन से शादी नहीं कर पाया. क्योंकि जहां दूल्हे शादी करने पहुंचे थे वहां ना तो दुल्हन थी और ना ही दुल्हन के घरवाले. घंटो इंतजार करने के बाद सभी दूल्हे अपने साथ हुए धोखे की शिकायत पुलिस स्टेशन लेकर पहुंचे. कोलार पुलिस ने इस मामले में शादी कराने वाली संस्था के प्रबंधक पर फर्जीवाड़े का केस दर्ज कर लिया है. बता दें कि सभी दूल्हों से शादी करवाने के नाम पर 20-20 हजार रुपये ऐंठे गए थे.

भोपाल में शगुन जन कल्याण सेवा समिति नाम की संस्था है जो लोगों की शादी करवाने के नाम पर अब तक उनसे लाखों रुपए की ठगी कर चुकी है. दरअसल यह संस्था गरीब लड़कियों की शादी कराने के नाम पर यह पूरा धंधा चला रही थी. इस संस्था ने 25 मार्च को 7 दूल्हों की शादी करवाने की बात कही थी. और इसके लिए लड़कों के परिवार से 20 हजार रुपये भी लिए थे.

शादी के घर में ना दुल्हन ना ही परिवार

25 मार्च को जब दूल्हे तय समय पर शादी करने पहुंचे तो देखा सुसराल में ताला लटका हुआ है. काफी देर इंतजार करने के बाद जब संस्था को, दुल्हन पक्ष के लोगों को फोन मिलाया गया तो कहीं से कोई जवाब नहीं मिला. ऐसे में ये पीड़ित अपनी शिकायत लेकर थाने पहुंचे. कोलार थाने के टीआई चन्द्रभान ने बताया कि, शहर के 7 लोगों ने एक संस्था शगुन जन कल्याण सेवा समिति के नाम शिकायत दर्ज कराई है. शादी कराने के नाम पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने बताया कि यह संस्था बड़ी ही चतुराई से अपना प्रचार करती थी. शहरों, कस्बों, गांवों में संस्था के नाम पर पर्चे बांटे जाते थेय. और फिर लोगों को कोलार के विनीत कुंज में स्थित अपने ऑफिस में बुलाते थे. वहां संस्था के लोग बताते थे कि वो गरीब बच्चियों की शादी कराते हैं.

पुलिस ने बताया उन्हें इस मामले में दो आगरा, एक शिवपुरी और एक भिंड से शिकायत मिली है. पुलिस ने प्राथमिक जांच में पता चला है कि संस्था के संचालक कुलदीप तिवारी और उसकी पत्नी रोशनी तिवारी है. रोशनी तिवारी लड़कियों की मां बनकर लोगों को ठगती थी. इस फर्जीवाडे को लेकर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है.

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता