Gwalior Accident: मृतकों के परिवारों को PM राहत कोष से 2-2 लाख के मुआवजे का ऐलान, घायलों के लिए 50 हजार की मदद


हादसे के बाद राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी मृतकों के परिवारों के लिए आर्थिक मदद (Compensation For Victim's Family) का ऐलान किया था


Gwalior Accident: मृतकों के परिवारों को PM राहत कोष से 2-2 लाख के मुआवजे का ऐलान, घायलों के लिए 50 हजार की मदद
ग्वालियर एक्सीडेंट

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के ग्वालियर (Gwalior) में मंगलवार सुबह हुए भीषण हादसें में 12 महिलाओं सहित 13 लोगों की मौत मामले में पीएम मोदी ने दुख जताते हुए मुआवजे (Compensation For Victim Families) का ऐलान किया है. हादसे में जान गंवाने वालों के परिवारों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपये की आर्थिक मदद की जाएगी वहीं गंभीर रूप से घायलों को इलाज के लिए 50 हजार की मदद दी जााएगी

हादसे के बाद राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (CM Shivraj) चौहान ने भी मृतकों के परिवारों के लिए आर्थिक मदद का ऐलान किया था. सीएम ने मृतकों के परिवारों को 4-4 लाख रुपए और घायलों के लिए 50 हजार रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया था. शहर के मुरार क्षेत्र में एक बस और ऑटो की भिडंत हो गई. इस भिंडत में ऑटो रिक्शा (Auto rickshaw) में सवार 12 महिलाएं और चालक की मौत हो गई

पीएम राहत कोष से मिलेगा 2-2 लाख का मुआवजा


सड़क हादसे में 13 लोगों की मौत

हादसे की खबर लगते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई. मृतक महिलाएं आंगनबाड़ी के लिए खाना बनाने का काम करती थी. यह सभी अपना काम खत्म करके दो ऑटो रिक्शा से वापस घर लौट रही थीं, लेकिन एक ऑटो रास्ते में खराब हो गया और ये सभी एक ही रिक्शा में बैठ गईं. ऑटो रिक्शा जैसे ही आगे बढ़ा तो वो आगे एक बस से टकरा गया. इस हादसें में घायल हुए लोगों को अस्पताल पहुंचाया गया. जहां उन्होंने दम तोड़ दिया

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने भी सड़क हादसे में मरने वालों के परिवारों के प्रति दुख व्यक्त किया. उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि ‘ग्वालियर में बस व ऑटो में हुई भीषण दुर्घटना में 13 लोगों की दुखद मृत्यु का समाचार व्यथित करने वाला है. पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी शोक संवेदनाएं हैं

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता