-->
7 बैंकों के करोड़ों ग्राहकों पर 1 अप्रैल से पड़ेगा असर, मिल गई जरूरी जानकारी तो जल्द पूरा कर लें ये काम

7 बैंकों के करोड़ों ग्राहकों पर 1 अप्रैल से पड़ेगा असर, मिल गई जरूरी जानकारी तो जल्द पूरा कर लें ये काम


1 अप्रैल 2021 से 7 बैंक के ग्राहकों के लिए कई बड़े बदलाव होने वाले हैं. इन 7 बैंकों का विलय दूसरे बैंकों में हो गया है, इसके बाद ग्राहकों से जुड़ी कई जानकारियों में बदलाव हुए हैं

7 बैंकों के करोड़ों ग्राहकों पर 1 अप्रैल से पड़ेगा असर, मिल गई जरूरी जानकारी तो जल्द पूरा कर लें ये काम
बैंकों की ओर से इस बारे में लगातार कई जानकारियां दी जा रही हैं.

वित्त वर्ष 2021-22 की शुरुआत से करोड़ों बैंक ग्राहकों पर असर पड़ने वाला है. 7 बैंकों के पुराने चेकबुक अब महज कागज के टुकड़े रह जाएंगे. इन बैंकों के ग्राहकों के लिए जरूरी है कि वे समय पर नये चेकबुक के लिए आवेदन कर लें. ये 7 बैंक देना बैंक, विजया बैंक, कॉरपोरेशन बैंक, आंध्रा बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और इलाहाबाद बैंक हैं. इन बैंकों के ग्राहकों के पासबुक और चेकबुक 1 अप्रैल 2021 से बेकार हो जाएंगे.

दरअसल, इन 7 बैंकों का विलय दूसरे बैंकों में हो गया है. देना और विजया बैंक का मर्जर ​बैंक ऑफ बड़ौदा में हो गया है. ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को पंजाब नेशनल बैंक में मिला दिया गया है. जबकि कॉरपोरेशन और आंध्रा बैंक का मर्जर यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और इलाहाबाद बैंक का मर्जर इंडियन बैंक में कर दिया गया है.

ग्राहकों के लिए बदल जाएंगी ये जरूरी जानकारियां

जिन बैंकों को किसी दूसरे बैंक में विलय किया गया है, उन बैंक में ग्राहकों के अकाउंट नंबर, IFSC, MICR, ब्रांच का पता, चेकबुक और पासबुक में बदल गए हैं. इसके लिए बैंकों की ओर से ग्राहकों को लगातार सूचना भी दी जा रही है.

पीएनबी और ​बैंक ऑफ बड़ौदा ने ​मर्जर को लेकर अपने ग्राहकों को लगातार जरूरी जानकारी दे रहे हैं. ये बैंक कई प्लेटफॉर्म्स के जरिए ग्राहकों को बता दिया है कि उनका चेकबुक, पासबुक, एमआईसीआर कोड, आईएफएससी कोड आदि में 1 अप्रैल 2021 से बदलाव हो जाएगा. ये अलर्ट ओरिएंटल बैंक कॉमर्स, यू​नाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, विजया बैंक और देना बैंक के ग्राहकों के लिए जारी किया गया है. इसी प्रकार विलय होने वाले दूसरे बैंकों के ग्राहकों के लिए जरूरी जानकारी दी जा रही है.

सिंडिकेट बैंक के ग्राहकों को राहत

सिंडिकेट बैंक के मौजूदा ग्राहकों के​ लिए केनरा बैंक ने पहले ही कहा दिया है​ कि उनका एमआईसीआर कोड, आईएफएससी कोड, चेकबुक, पासबुक आदि जानकारियों में 30 जून 2021 तक कोई बदलाव नहीं होगा. केनरा बैंक की तरफ से दी गई इस जानकारी के बाद सिंडिकेट बैंक के ग्राहकों को अब कोई चिंता करने की जरूरत नहीं है.

ग्राहक के तौर पर आप क्या करें?

अगर आप इन बैंकों के ग्राहक हैं तो आपको अपने मोबाइल नंबर, पता, नॉमिनी आदि के बारे में बैंक को सही जानकारी देनी होगी. इससे बैंकों की ओर से आपको जरूरी सूचना मिलती रहेगी. नया चेकबुक और पासबुक मिलने के बाद ​अपने दूसरे लेनदेन के रिकॉर्ड में इन जरूरी जानकारियों को अपडेट भी कर दें. इन फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट्स में आपका म्यूचुअल फंड्स, ट्रेडिंग अकाउंट्स, लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी, इनकम टैक्स अकाउंट, एफडी/आरडी, पीएफ अकाउंट आदि होते हैं.

0 Response to "7 बैंकों के करोड़ों ग्राहकों पर 1 अप्रैल से पड़ेगा असर, मिल गई जरूरी जानकारी तो जल्द पूरा कर लें ये काम"

Post a Comment

JOIN WHATSAPP GROUP

JOIN WHATSAPP GROUP
THE VOICE OF MP WHATSAPP GROUP

JOB ALERTS

JOB ALERTS
JOIN TELEGRAM GROUP

Slider Post