-->
Jammu-Kashmir: पुलवामा बरसी पर सुरक्षाबलों को मिली कामयाबी, लश्कर से जुड़े दो संदिग्ध आतंकियों को किया अरेस्ट

Jammu-Kashmir: पुलवामा बरसी पर सुरक्षाबलों को मिली कामयाबी, लश्कर से जुड़े दो संदिग्ध आतंकियों को किया अरेस्ट

Jammu-Kashmir: गिरफ्तार किए गए दोनों संदिग्ध आतंकियों की पहचान कुलगाम जिले के तरिगम गांव के निवासी मोहम्मद अमीन मल्ल के पुत्र उबैद अमीन मल्ला और अब्दुल रशीद याटू के पुत्र समीर रशीद यतो के रूप में हुई है.

Jammu-Kashmir: पुलवामा बरसी पर सुरक्षाबलों को मिली कामयाबी, लश्कर से जुड़े दो संदिग्ध आतंकियों को किया अरेस्ट
सांकेतिक तस्वीर

पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर आतंकवादियों की एक बड़ी साजिश नाकाम हो गई. जम्मू में भीड़भाड़ वाले बस स्टैंड के नजदीक से एक नर्सिंग छात्र के पास से रविवार को शक्तिशाली IED बरामद किया गया. इसके बाद से सुरक्षाबल पैनी नजर बनाए हुए हैं. इस बीच उन्हें एक और बड़ी सफलता हाथ लगी है. उन्होंने बडगाम जिले में लश्कर-ए-तैयबा (LeT) से जुड़े दो संदिग्ध आतंकवादियों को पकड़ा है.

जानकारी के अनुसार, बडगाम जिले में पुलिस ने दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के दो निवासियों को गिरफ्तार किया है. उनके कब्जे से कथित रूप से आतंकवादी संगठन LeT के कुछ पोस्टर और लेटर पैड बरामद किए गए. कैसरमुल्ला में नाके पर जांच के दौरान पुलिस ने यह गिरफ्तारियां की है.

सूत्रों ने अनुसार, गिरफ्तार किए गए दोनों संदिग्ध आतंकियों की पहचान कुलगाम जिले के तरिगम गांव के निवासी मोहम्मद अमीन मल्ल के पुत्र उबैद अमीन मल्ला और अब्दुल रशीद याटू के पुत्र समीर रशीद यतो के रूप में हुई है. वहीं, पुलिस पूरे दोनों संदिग्धों से जांच करने में जुट गई है. उसे शक है कि कहीं ये भी बड़ी साजिश रचने के फिराक में तो नहीं थे.

IED बरामद होने के मामले को लेकर जम्मू रेंज के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) मुकेश सिंह ने बताया उन्होंने बताया कि एक युवक को बस स्टैंड क्षेत्र में एक बैग के साथ संदिग्ध रूप से घूमते पाया गया. उसके पास से करीब साढ़े छह किलोग्राम आईईडी बरामद किया गया. हालांकि अभी विस्फोटक को सक्रिय नहीं किया गया था. आईजी ने आरोपी की पहचान पुलवामा के नेवा गांव निवासी सुहैल बशीर शाह के तौर पर बताई है जो चंडीगढ़ के एक कॉलेज से नर्सिंग का पाठ्यक्रम कर रहा है. पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठन अल बद्र से संबद्ध उसके आकाओं ने उसे जम्मू में आईईडी रखने का काम सौंपा था.

आतंकी ने चार जगहों का बनाया था टारगेट

उन्होंने बताया, ”उसे चार लक्ष्य दिए गए थे जिनमें (प्रसिद्ध ) रघुनाथ मंदिर, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और लखदाता बाजार शामिल थे और उसे अपना काम पूरा करने के बाद एक उड़ान से श्रीनगर जाना था. अल बद्र का सक्रिय सदस्य अतहर शकील खान उसे श्रीनगर हवाई अड्डे पर लेने आता. खान को गिरफ्तार कर लिया गया है. कश्मीर के उसके साथी छात्र काज़ी वसीम को इस योजना के बारे में पता था और उसे चंडीगढ़ से हिरासत ले लिया गया है, जबकि उसके एक अन्य सहयोगी आबिद नबी को श्रीनगर से गिरफ्तार किया गया है.”

पुलवामा हमले में शहीद हुए थे 40 जवान

जम्मू शहर में बस स्टैंड एक भीड़-भाड़ वाली जगह है, जहां रोजाना सैकड़ों लोग आते हैं. अतिरिक्त बल मौके पर तैनात किया गया है और तलाशी ली गई है. 2019 में दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में एक आत्मघाती हमलावर ने विस्फोटक लदे वाहन से उस बस को टक्कर मार दी थी, जिसमें सीआरपीएफ जवान सवार थे. इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे और कई गंभीर रूप से घायल हुए थे.

0 Response to "Jammu-Kashmir: पुलवामा बरसी पर सुरक्षाबलों को मिली कामयाबी, लश्कर से जुड़े दो संदिग्ध आतंकियों को किया अरेस्ट"

Post a Comment

JOIN WHATSAPP GROUP

JOIN WHATSAPP GROUP
THE VOICE OF MP WHATSAPP GROUP

JOB ALERTS

JOB ALERTS
JOIN TELEGRAM GROUP

Slider Post

AMAZON OFFERS