Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं


कोरोना की स्थिति गंभीर होने पर कई राज्यों में फिर लॉकडाउन की स्थिति, सभी सीमाएं भी की जा रही हैं सील...।


भोपाल। मध्यप्रदेश समेत पांच राज्य एक बार फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहे हैं। मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ते मामलों के बाद रविवार को पूरे प्रदेश में लॉकडाउन (Complete Lockdown) लगाया जा रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Covid 19) की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्र ने तय किया है कि अब सप्ताह में एक दिन रविवार को पूरा प्रदेश बंद रहेगा। उधर, मध्यप्रदेश के अलावा बिहार, उत्तरप्रदेश में भी लाकडाउन के आदेश जारी कर दिए गए हैं।

 

मध्यप्रदेश में पिछले तीन दिनों में 11 सौ से अधिक संक्रमित मरीज मिलने और जबकि 409 एक ही दिन में संक्रमित मिलने के बाद यह फैसला लिया जा रहा है इस दौरान प्रदेश की सीमाएं भी सील की जा सकती है। सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं ही चलती रहेंगी। गृह विभाग के बाद भोपाल समेत सभी जिलों के कलेक्टर अपने-अपने जिले के लिए एडवायजरी (Advisery'guideline) जारी कर रहे हैं।

 

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र के मुताबिक इस सप्ताह में एक दिन का लाकडाउन ही माना जाए। सीमावर्ती जिलों के बाहर से आने वाले लोगों का फिर स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा और संक्रमण की जांच होने के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा। समीक्षा बैठक के बाद बताया गया है कि प्रदेश में कोरोना केस की ग्रोथ रेट एक सप्ताह में 1.72% से बढ़कर 2.01% हो गई है। सबसे ज्यादा मामले बड़वानी, मुरैना समेत सीमावर्ती जिलों में बढ़े हैं।

 

सख्ती से कराएंगे पालन
प्रशासन सख्ती से लाकडाउन का पालन कराने जा रहा है। इस दौरान मास्क लगाने एवं डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करने के निर्देशों के साथ अन्य पाबंदियां भी लगाई जा सकती हैं। नियम नहीं मानने वालों पर भारी भरकम जुर्माना भी हो सकता है।

 

भोपाल में बिगड़े हालात
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में लगातार संक्रमण के आंकड़े बढ़ रहे हैं। पुराने भोपाल के इब्राहिम पुरा क्षेत्र में तो कुछ दिनों के लिए लाकडाउन लगाया जा रहा है। क्योंकि जहांगीराबाद, शाहजहांनाबाद के बाद अब पुराना भोपाल हाटस्पाट बन रहा है। इस क्षेत्र में लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं और मास्क भी नहीं लगा रहे हैं। ऐसे में प्रशासन को सख्ती से लाकडाउन का पालन कराना पड़ रहा है।

 

मध्यप्रदेश में 16 हजार पार
मध्यप्रदेश में कुल 16 हजार 036 मरीज हो गए हैं। जबकि 11,987 ठीक हुए हैं। मरने वालों का आंकड़ा भी 629 पहुंच गया है। देश में 17 ऐसे शहर हैं, जहां पांच हजार से ज्यादा संक्रमित हो गए हैं। इसके बाद भोपाल, उज्जैन, मुरैना भी हैं जहां लगातार संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। हालांकि थोड़ी राहत यह है कि जुलाई के शुरुआत में जिस पीक के आने की आशंका व्यक्त की जा रही थी, लेकिन वो अब तक नहीं नजर आ रहा है।

 

देश में 8 लाख के करीब पहुंची संक्रमितों की संख्या
देशभर में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा काफी बढ़ गया है। इसने सभी की चिंता बढ़ा दी है। पिछले 24 घंटों के दौरान ही 26 हजार 509 मरीज बढ़ गए हैं। जबकि 19135 ठीक भी हुए हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान 475 मौत हो गई है। जबकि राहत की बात यह है कि स्वस्थ होने की दर 62 फीसदी है। देशभर में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 791559 हो गई है। जबकि 493759 मरीज ठीक हो गए हैं। जबकि 276104 मरीजों का इलाज चल रहा है। जबकि पूरे देश में अब तक 21 हजार 595 मरीजों की मौत हुई है।

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

मंत्रिमंडल विस्तार / केंद्रीय नेतृत्व ने रिजेक्ट की शिवराज की लिस्ट; नए चेहरों को मंत्री बनाने के साथ नरोत्तम और तुलसी को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश / भाजपा के 13 वरिष्ठ विधायकों के मंत्री बनने पर असमंजस बरकरार, गोपाल भार्गव बोले- कांग्रेस ने भी यही गलती की थी

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

TATA Consulting Engineers Limited Hiring|BE/B.Tech Civil Engineer

मप्र / 1 जुलाई को भी मंत्रिमंडल विस्तार के आसार नहीं, नए चेहरों में भोपाल से रामेश्वर, विष्णु खत्री, इंदौर से ऊषा, मालिनी और रमेश के नाम चर्चा में

India News