-->
नए कैबिनेट की पहली बैठक / शिवराज ने कहा- न चैन से बैठूंगा और न ही आप सबको चैन से बैठने दूंगा

नए कैबिनेट की पहली बैठक / शिवराज ने कहा- न चैन से बैठूंगा और न ही आप सबको चैन से बैठने दूंगा


  • मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार के बाद शिवराज कैबिनेट की पहली बैठक हुई, जिसमें शिवराज ने नए मंत्रियों को हिदायतें दी हैं।मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार के बाद शिवराज कैबिनेट की पहली बैठक हुई, जिसमें शिवराज ने नए मंत्रियों को हिदायतें दी हैं।

  • शिवराज ने कहा- कैबिनेट एक परिवार है, सरकार भी परिवार की तरह ही चलाई, काम पारदर्शी तरीके से हों
  • नए मंत्रियों को तौर-तरीके बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा- जहां चाह, वहां राह; हफ्ते में दो दिन भोपाल में रहें

भोपाल. मध्यप्रदेश में शिवराज मंत्रिमंडल के विस्तार के ठीक बाद नए कैबिनेट की पहली बैठक हुई। इसमें मुख्यमंत्री ने नए मंत्रियों को कहा- कोरोना चल रहा है कोई भी मंत्री जनता से स्वागत न कराए और न ही भीड़ इकट्‌ठा करे। अब न मैं चैन से बैठूंगा और न ही आप सबको चैन से बैठने दूंगा। शिवराज ने नए मंत्रियों को तौर-तरीके समझाते हुए कहा कि जहां चाह, वहां राह है। हफ्ते में दो दिन भोपाल के लिए रखें। इसके लिए सोमवार और मंगलवार का दिन ठीक रहेगा। मंगलवार को कैबिनेट रहेगी।

आप लोग काम करें, तनाव न लें : शिवराज

शिवराज ने कहा, 'न मैं चैन से बैठूंगा और न आप लोगों को बैठने दूंगा। कैबिनेट एक परिवार है, पहले भी कैबिनेट परिवार थी, सरकार भी परिवार की तरह चलाई है। पारदर्शी प्रमाणिकता से काम हों। आप लोग काम बहुत करें, तनाव बिलकुल न लें। थोड़ा वक्त अपने लिए भी निकालें।' उन्होंने आगे कहा कि दिनचर्या और व्यवस्था ऐसी रहे कि काम को और कार्यकर्ताओं के लिए पर्याप्त समय रहे। कार्यकर्ताओं को बराबर रिस्पांस मिलना चाहिए।

'एक भी क्षण व्यर्थ न हो, क्योंकि अब जो क्षण हैं वो जनता के हैं'

इसके पहले बैठक की शुरुआत भगवान गणेश के श्लोक- 'वक्रतुंड महाकाय' के साथ हुई। शिवराज सिंह ने सभी नए मंत्रियों को बधाई दी। उन्होंने कहा- जो काम प्रदेश की भलाई के लिए हो वो जल्दी पूरे हों। परिश्रम की पराकाष्ठा करनी होगा। एक भी क्षण व्यर्थ न हो, क्योंकि अब जो क्षण हैं वो जनता के हैं।

0 Response to "नए कैबिनेट की पहली बैठक / शिवराज ने कहा- न चैन से बैठूंगा और न ही आप सबको चैन से बैठने दूंगा"

Post a Comment

Slider Post