-->
गिरफ्त में विकास दुबे: पुलिस की कहानी में माली से लेकर सुरक्षाकर्मी तक आए

गिरफ्त में विकास दुबे: पुलिस की कहानी में माली से लेकर सुरक्षाकर्मी तक आए


उज्जैन पुलिस ने अधिकृत बयान जारी किया है, जानिए पुलिस की कहानी में कौन कौन से पात्र हैं...।

उज्जैन/ यूपी पुलिस के लिए सिरदर्द बन चुके 8 पुलिसकर्मियों के हत्या के आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी को लेकर उज्जैन पुलिस ने अधिकृत बयान जारी किया है, जानिए पुलिस की कहानी में कौन कौन से पात्र हैं...।

 

पढ़ें ये खास खबर- विकास दुबे की गिरफ्तारी पर कांग्रेस ने कहा- 'क्रोनोलॉजी समझिए, गृहमंत्री का है कानपुर कनेक्शन'


माली ने पहचाना और सुरक्षाकर्मी ने दी पुलिस को सूचना

गैंगस्टर विकास दुबे को लेकर उज्जैन पुलिस ने गुरुवार की रात करीब 9 बजे अधिकृत बयान जारी कर दिया है। गैंगस्टर को महाकाल मंदिर से हिरासत में लेकर पूछताछ के बाद एसटीएप को सौंपने एवं उज्जैन से रवाना करने की पुष्टि कर दी गई है। एसपी मनोजकुमारसिंह ने बताया कि, गैंगस्टर विकास पिता रामकुमार दुबे उम्र 52 साल निवासी बिकरू थाना चौबेपुर जिला कानपुर को गुरुवार की सुबह 7.30 बजे महाकाल मंदिर परिसर में पास एक पूजा प्रसाद की दुकान पर पूछताछ करते देखा गया था। दुकान मालिक सुरेश माली ने उसका चेहरा पहचाना और शंका होने पर मंदिर के सुरक्षाकर्मी एवं पुलिस को सूचना दी। इस दौरान गैंगस्टर मंदिर दर्शन के लिए चला गया।


यूपी पुलिस के साथ रवाना हुआ गैंगस्टर

इसके बाद मंदिर से आने वाले मार्ग पर महाकाल मंदिर के सुरक्षाकर्मियों ने उसे रोककर पूछताछ की। इस पर उसने अपनी पहचान और आईडी गलत बताई, जब गंभीरता से पूछताछ की गई तो उसने अपना नाम विकास दुबे कानपुर वाला बताया। इसके बाद आरोपी को महाकाल थाना ले जाया गया, इसकी पहचान विकास दुबे गैंगस्टर की होने पर तत्काल मध्य प्रदेश पुलिस के आला अफसरों एवं यूपी के पुलिस अधिकारियों को सूचित किया गया, जहां से एक टीम उज्जैन पहुंची थी। शाम के समय गैंगस्टर विकास दुबे को इस टीम के सुपूर्द कर रवाना कर दिया गया। दुबे 2-3 जुलाई की मध्यरात्रि से फरार चल रहा था।

0 Response to "गिरफ्त में विकास दुबे: पुलिस की कहानी में माली से लेकर सुरक्षाकर्मी तक आए"

Post a Comment

JOIN WHATSAPP GROUP

JOIN WHATSAPP GROUP
THE VOICE OF MP WHATSAPP GROUP

JOB ALERTS

JOB ALERTS
JOIN TELEGRAM GROUP

Slider Post