सीआरपीएफ जवान नसीर के भाई ने दिया बयान, सुनकर सभी का मुंह बंद और मुसलमानों को होगा गर्व



दुनिया छोड़कर जाने वाले जवानों की याद में इस वक़्त पूरा देश शोक में डूबा हुआ है. लोगों उनकी कुर्बानियों को याद कर रहे हैं. कहा जा रहा है कि पूरा देश उनके घर वालों के साथ खड़ा है और आगे की ज़िन्दगी में यह पूरी कोशिश की जाएगी कि उन्हें किसी भी तरह की परेशानियों का सामना न करना पड़ा और उनकी आर्थिक सेहत का ख्याल रखा जाए. इस बीच आज हम आपको इस घटना में श हीद हुए सीआरपीएफ जवान मोहम्मद नसीर अहमद के बारे में बताने जा रहे हैं.

मोहम्मद नसीर अहमद राजोरी दोदासनबाला तहसील थन्नामंडी के रहने वाले थे.अब नसीर अहमद के बड़े भाई की तरफ से बड़ा बयान आया है. आपको बता दें कि यूँ तो नसीर के चले जाने पर पूरा का पूरा इलाका दुखी है लेकिन उनके घर वालों को दुःख के साथ गर्व भी है. उनके बड़े भाई सिराजुद्दीन ने अपने भाई पर गर्व जताया है. बताया जाता है कि बचपन से ही नसीर ने काफी संघर्ष किया. जब वह महज़ सात साल के थे तभी उनकी पिता इस दुनिया से चले गए.

आपको बता दें कि सिराजुद्दीन पुलिस में भर्ती हो गए थे और उनका सपना था कि उनके छोटे भाई नसीर सिविल विभाग में नौकरी करे. सिराज बताते हैं कि नसीर उनकी बेहद इज्ज़त करते थे. लेकिन वह बताते हैं कि बचपन से ही वह देश की सेवा करना चाहते थे. इसलिए लेकिन उनकी मर्ज़ी के बिना उन्होंने सीआरपीएफ ज्वाइन कर लिया.

सिराज बताते हैं कि नसीर को पूरा गाँव बहुत मानता था. इसके साथ ही अपने भाई के चले जाने का दर्द झेल रहे सिराज ने देश के पीएम से अपील की है. उन्होंने कहा है कि ऐसे मामलों को ख़त्म करने के लिए जल्द से जल्द कोई कदम उठायें. आपको बता दें कि नसीर अपने पीछे पत्नी, सात साल की बेटी और और चार साल का बेटे को छोड़ गए हैं.

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता