ऐसा क्या हुआ जो LG ने अचानक लिया मोबाइन फोन नहीं बनाने का फैसला…जानिए क्यों रातोंरात बंद की अपनी ये कंपनी


एलजी की तरफ से जो बयान जारी किया गया है, उसमें कहा गया है कि उसने यह फैसला घाटे में वल रही मोबाइल डिविजन को बंद करके अपना सारा ध्‍यान ग्रोथ सेक्‍टर्स पर केन्द्रित करने का मन बनाया है

ऐसा क्या हुआ जो LG ने अचानक लिया मोबाइन फोन नहीं बनाने का फैसला...जानिए क्यों रातोंरात बंद की अपनी ये कंपनी
एलजी का स्‍मार्ट फोन बिजनेस पिछले 6 सालों से मुश्किल दौर से गुजर रहा था.

इलेक्‍ट्रॉनिक सामान बनाने वाली कंपनी एलजी ने सोमवार को एक बड़ा ऐलान किया. कंपनी ने कहा कि वो अब स्‍मार्टफोन बिजनेस से बाहर जा रही है. साउथ कोरियन कंपनी की तरफ से इस ऐलान ने हर किसी को चौंका दिया. एलजी के स्‍मार्टफोन को खास और काफी ताकतवर माना जाता था. लेकिन यह भी सच है कि एलजी के स्‍मार्ट फोन्‍स को बाजार में वो पहचान नहीं मिल सकी जो दूसरी कंपनियों के फोन को हासिल है. जानिए आखिर क्‍यों एलजी ने यह ऐलान किया और अब एलजी के फोन यूजर्स का क्‍या होगा?

कैसे शुरू हुई थी कंपनी

सन् 1958 में एलजी इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स की शुरुआत हुई थी और तब इसे गोल्‍डस्‍टार के तौर पर शुरू किया गया था. कोरियाई युद्ध के बाद शुरू हुई कंपनी को देश में ही बने कंज्‍यूमर प्रॉडक्‍ट्स और होम अप्‍लायंसेज की मदद से देश के पुर्ननिर्माण के मकसद से तैयार किया गया था. साउथ कोरिया में नेशनल ब्रॉडकास्टिंग के बाद इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स के बाजार में तेजी आनी शुरू हुई.

इसके बाद गोल्‍ड स्‍टार ने हिताची की मदद से साउथ कोरिया का पहला रेडियो, टीवी, रेफ्रिजरेटर, वॉशिंग मशीन और एसी बनाना शुरू किया था. गोल्‍ड स्‍टार, एलजी ग्रुप के साथ आई कंपनी, लाक हुई के साथ जिसका उच्‍चारण लकी था और यह एक केमिकल इंडस्‍ट्रीयल कंपनी थी. अब इसे एलजी केमिकल और एलजी हाउस होल्‍ड के नाम से जाना जाता है. 28 फरवरी 1995 को गोल्‍ड स्‍टार, लकी केमिकल के साथ मर्ज हो गई और इसका नाम एलएस केबल हो गया. यहां से ही कॉरपोरेट नाम लकी-गोल्‍डस्‍टार और फिर इसे एलजी इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स के नाम से जाना गया.

घाटे में थी मोबाइल डिविजन

एलजी की तरफ से जो बयान जारी किया गया है, उसमें कहा गया है कि उसने यह फैसला घाटे में वल रही मोबाइल डिविजन को बंद करके अपना सारा ध्‍यान ग्रोथ सेक्‍टर्स पर केन्द्रित करने का मन बनाया है. कंपनी के मुताबिक ये ग्रोथ एरियाज इलेक्ट्रिक व्‍हीकल के पुर्जों से लेकर कनेक्टेड डिवाइसेज, स्‍मार्ट होम प्रोडक्‍ट्स, रोबोटिक्‍स, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और बिजनेस-टू-बिजनेस सॉल्‍यूशन, दूसरे प्रॉडक्‍ट्स और सर्विसेज हैं. यह फैसला कंपनी की तरफ से तब किया गया जब कुछ ही दिनों पहले एलजी ने अपना रोल हो सकने वाला फोन CES 2021 में प्रदर्शित किया था.

क्‍या होगा मोबाइल फोन यूजर का

इस समय एलजी के फोन जैसे विंग, वेल्‍वेट, Q-series, W-series, and K-series अभी चलन में हैं लेकिन इन फोन को प्रोडक्‍शन अब नहीं होगा. एलजी के मुताबिक ग्राहकों को स्‍मार्ट फोन के लिए सर्विस सपोट्र और सॉफ्टवेयर अपडेट्स कुछ समय तक मिलते रहेंगे. लेकिन ये सुविधाएं भी इस बात पर निर्भर करेंगी कि ग्राहक किस जगह पर है. 31 जुलाई से एलजी मोबाइल फोन के बिजनेस से पूरी तरह से बाहर हो जाएगा. मोबाइल फोन के बिजनेस से बाहर होने का फैसला हैरान करने वाला नहीं है. इस वर्ष जनवरी से ही ऐसी खबरें आ रही थीं कि एलजी मोबाइल फोन के बिजनेस से बाहर हो सकता है. उस समय एलजी के सीईओ ने पुष्टि की थी कि कंपनी फोन बिजनेस के लिए संभावित खरीदार से बात कर रही है.

6 साल पहले हुआ था फायदा

बताया जा रहा है कि एलजी अपने फोन बिजनेस के लिए कम से कम दो कंपनियों के साथ बातचीत करने में लगी थी. बातचीत कभी भी एक निश्चित प्‍वाइंट तक नहीं पहुंची और एलजी का मोबाइल बिजनेस संकट में आ गया. एलजी का स्‍मार्ट फोन बिजनेस पिछले 6 सालों से मुश्किल दौर से गुजर रहा था. कंपनी अपने प्रतिद्वंदी सैमसंग और चीनी कंपनियों को टक्‍कर देने की पूरी कोशिशें कर रही थीं. इस मकसद से उसने वेल्‍वेट को लॉन्‍च भी किया था. छह साल पहले ही एलजी को मोाबइल फोन बिजनेस में फायदा हुआ था और तब से कंपनी लगातार घाटे में जा रही थी

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता