Indian Railway का बड़ा फैसलाः फिर से पटरी पर लौटेंगी पुरानी ट्रेनें, इस तारीख से शुरू होंगी सेवाएं


Indian Railway News: रेलवे ने ट्रेनों के परिचालन के साथ साथ कोविड प्रोटोकॉल का भी ध्यान रखने के लिए सख्त हिदायत जारी किया है


Indian Railway का बड़ा फैसलाः फिर से पटरी पर लौटेंगी पुरानी ट्रेनें, इस तारीख से शुरू होंगी सेवाएं
भारतीय रेलवे

यात्रीगण कृपया ध्यान दें.. आगामी 10 अप्रैल से रेलवे ने पुरानी ट्रेनों का परिचालन करने की योजना बनाई है. रेलवे की ओर से जारी सर्कुलर में कहा गया है कि पुरानी ट्रेनों का परिचालन जल्द ही शुरू करने जा रहा है. रेलवे की ओऱ से ट्रेनों के लिए कोच मुहैया कराने वाले विभाग को कोच की व्यवस्था करने को कहा गया है. रेलवे की ओर से जारी ऑर्डर में कहा गया है कि 10 अप्रैल से जिन ट्रेनों की शुरुआत की जा रही है उसके लिए माकूल तैयारी जरूरी है.

90 से 95 फीसदी ट्रेनों के परिचालन के लिए बड़ी संख्या में कोच की व्यवस्था करनी होगी, जिसके लिए रेलवे ने कोच विभाग को यह ऑर्डर जारी किया है.

मालगाड़ियों का परिचालन सही रहे

रेलवे ने एक तरफ मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के परिचालन की मंजूरी दी है तो दूसरी तरफ यह भी सुनिश्चित करने को कहा है कि मालगाड़ियों के परिचालन में किसी भी तरह की परेशानी नहीं होनी चाहिए. हाल कि दिनों में रेलवे को माल ढुलाई से रिकार्ड तोड़ कमाई हुई है. इस बात को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने यह तय किया है कि मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के व्यस्तम रूट पर मालगाड़ियों के परिचालन में कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए.

Indian Railways

Indian Railways

पैंसेजर ट्रेनों पर फैसला जोनल ऑफिस

मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों के अतिरिक्त पैसैंजर ट्रनों को कब और कैसै चलाना है इसको लेकर रेलवे ने जोनल आफिस पर यह फैसला छोड़ दिया है. जोनल दफ्तर यात्रियों की आवश्यकताओँ और मांग को ध्यान में रखते हुए पैसैंजर ट्रेनों का परिचालन का निर्णय कर सकता है.

कोविड प्रोटोकॉल का रखना होगा ध्यान

रेलवे ने ट्रेनों के परिचालन के साथ साथ कोविड प्रोटोकॉल का भी ध्यान रखने के लिए सख्त हिदायत जारी किया है. मौजूदा हालात में रेलवे की यात्रा में जिस तरह का प्रोटोकॉल को फॉलो किया जाता है वैसा ही प्रोटोकॉल 10 अप्रैल के बाद ट्रेनों के परिचालन में भी सुनिश्चित किया जाएगा.

क्या है अभी की स्थिति

मौजूदा हालात में लगभग 1200 मेल अथवा एक्सप्रेस ट्रेनें चल रही हैं, जिन ट्रेनों को अभी चलाया जा रहा है उन्हें स्पेशल ट्रेन का नाम दिया जा रहा है. ऐसे में आगामी 10 अप्रैल से व्यवस्था लागू होगी उसमें पुरानी ट्रेनों को तरजीह दी जाएगी.

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता