Skip to main content

CLAT Exam Guidelines: 23 जुलाई को होगी क्लैट की परीक्षा, एग्जाम डे गाइडलाइंस जारी, यहां जानें डिटेल


CLAT Admit Card 2021: कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज द्वारा आयोजित होने वाली क्लैट परीक्षा का एडमिट कार्ड ऑफिशियल वेबसाइट consortiumofnlus.ac.in पर जाकर डाउनलोड किया जा सकता है

CLAT Exam Guidelines: 23 जुलाई को होगी क्लैट की परीक्षा, एग्जाम डे गाइडलाइंस जारी, यहां जानें डिटेल
CLAT परीक्षा का आयोजन 23 जुलाई को देश के विभिन्न शहरों में किया जाएगा.

CLAT Exam 2021: कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज (Consortium of National Law Universities) की ओर से क्लैट परीक्षा का आयोजन 23 जुलाई को होना है. एंट्रेंस टेस्ट दोपहर 2 बजे से शाम 4 बजे के बीच ग्रेजुएट (यूजी) और पोस्ट ग्रेजुएट (पीजी) दोनों कार्यक्रमों के लिए आयोजित किया जाएगा. इस परीक्षा का एडमिट कार्ड भी जारी किया जा चुका है. कंसोर्टियम ने अब एग्जाम के दिन की गाइडलाइंस भी जारी कर दी है. कंसोर्टियम ने एक बयान में कहा कि CLAT 2021 को सभी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए केंद्र-आधारित परीक्षण के रूप में आयोजित किया जाएगा. छात्रों का यह सलाह दी जाती है कि वे वैक्सीन जरूर लगवाएं.

CLAT 2021 एग्जाम डे गाइडलाइंस

परीक्षा हॉल के जिन चीजों की अनुमति है-

– ब्लू/ब्लैक बॉल पेन

– प्रवेश पत्र

– सरकार द्वारा जारी किया गया कोई भी मूल फोटो आईडी प्रमाण

– पारदर्शी पानी की बोतल

– खुद का मास्क, दस्ताने और पर्सनल हैंड सैनिटाइजर

– सेल्फ हेल्थ डिक्लेरेशन

– पीडब्ल्यूडी उम्मीदवारों के लिए विकलांगता प्रमाण पत्र

परीक्षा हॉल के अंदर जिन वस्तुओं की अनुमति नहीं है-

– मोबाइल फोन जैसे इलेक्ट्रॉनिक/संचार उपकरण

– किसी भी तरह की घड़ी, कैलकुलेटर, हेडफोन आदि.

– पेपर शीट

CLAT 2021 एडमिट कार्ड ऐसे करें डाउनलोड

  • CLAT 2021 का एडमिट कार्ड डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट consortiumofnlus.ac.in पर जाएं.
  • वेबसाइट की होम पेज पर The Consortium of National Law Universities conducts the Common Law Admission Test (CLAT) पर क्लिक करें.
  • अब Admit Card for CLAT 2021 के लिंक पर जाएं.
  • अगले पेज पर Registration Number/ Application Number और डेट ऑफ बर्थ डालें.
  • अब एडमिट कार्ड स्क्रीन पर दिखने लगेगा.
  • इसे डाउनलोड कर लें और आगे के लिए प्रिंट लेकर रख लें.

डायरेक्ट लिंक से एडमिट कार्ड डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें.

CLAT परीक्षा की तैयारी ऐसे करें

CLAT की परीक्षा में इंग्लिश सेक्शन से 28-32 प्रश्न पूछे जाते हैं. जिसमें इंग्लिश व्याकरण, लैंग्वेज एंड लिटरेचर के प्रश्न होते हैं. इसके अलावा करंट अफेयर्स & जनरल नॉलेज – इस परीक्षा में करंट अफेयर्स विषय की तैयारी के लिए हालिया बड़ी खबरों को अच्छे से पढ़ना होगा. इसके बाद लीगल रीजनिंग विषय कानून के अध्ययन के लिए होती है. इसमें 450 शब्द के पैसेज आते हैं, जिसके संबंध के प्रश्न पूछे जाते हैं. इसमें पब्लिक पॉलिसी, फिलोसोफिकल, जनरल अवेयरनेस आदि से संबंधित प्रश्न होते हैं.

लॉजिकल रीजनिंग में भी 300 शब्द के पैसेज होते हैं. जिससे संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं. इसमें तार्किक, अनुक्रमणिका, उपमाएं आदि के प्रश्न होंगे. इस सेक्शन से  28-32 प्रश्न पूछे जाते हैं. लास्ट में क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड यानी गणित सेक्शन में प्राथमिक लेवल के प्रश्न पूछे जाएंगे. जिसकी तैयारी के लिए आपको 10वीं तक के सिलेबस पढ़ने हैं. आप NCERT की किताब की मदद ले सकतें हैं.

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चे की जवाबदारी प्रदेश के  युवा व वरिष्ठ नेता श्री रफत वारसी के हाथों में  मध्य प्रदेश भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु दत्त शर्मा ने मध्य प्रदेश के भाजपा संगठन का विस्तार किया है जिसमें मोर्चे के नए प्रदेश अध्यक्षों की भी नियुक्ति की गई है जिसमें मध्य प्रदेश के वरिष्ठ व युवा नेता श्री रफत वारसी को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाकर भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की जवाबदारी सौंपी गई है श्री रफत वारसी मध्यप्रदेश में एक उभरते हुए अल्पसंख्यक चेहरे है और भाजपा आलाकमान ने नए चेहरे के रूप में श्री वारसी साहब को यह नई जवाबदारी सौंपी है जिससे मध्य प्रदेश में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा और मजबूत होने की संभावना बढ़ गई है वर्तमान में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा में नई और युवा पीढ़ी के लोग अधिकतर काम कर रहे हैं और वारसी साहब के प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से इसमें और अधिक वृद्धि होगी क्योंकि नए प्रदेश अध्यक्ष श्री वारसी साहब मध्यप्रदेश में अल्पसंख्यक समाज में अपनी गहरी पैठ रखते हैं उनके प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चा बेहतर

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

    शहीद हसमत वारसी जी  के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण  पद          वी डी शर्मा जी ने गले लगा कर दी बधाई      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी से आशीर्वाद लेते हुए       वी डी  शर्मा जी भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  ने दिया आशीर्वाद          अपनी माँ परवीन वारसी जी से दुआयें  लेते हुए रफत वारसी ने किया पदभार ग्रहण 17 जनवरी 2021 को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष रफत वारसी ने किया पदभार ग्रहण रफत वारसी ने कहा मुस्लिम समाज में कई तरह के भ्रम हैँ जिन्हे दूर करने के लिए एक दल के साथ पुरे प्रदेश का भ्रमण करेंगे ! साथ ही उन्होंने पदभार ग्रहण में आये हुए  सभी  साथियों का तहे दिल से शुक्रिया  अदा किआ 

SHOP WITH US Apparel & Accessories