-->
बस कुछ दिन की है देरी! Paytm से बुक होगी कोरोना वैक्सीन, आसानी से पा सकेंगे स्लॉट

बस कुछ दिन की है देरी! Paytm से बुक होगी कोरोना वैक्सीन, आसानी से पा सकेंगे स्लॉट


मेक माई ट्रिप के सीईओ राजेश मागो ने कहा कि कंपनी चाहती है कि लोगों को वैक्सीनेशन में मदद की जाए. 1mg का कहना है कि वह सरकार के आदेश का इंतजार कर रही है. अभी तक 1.3 अरब की आबादी में सिर्फ 3.5 परसेंट लोगों को ही टीका लग पाया है

बस कुछ दिन की है देरी! Paytm से बुक होगी कोरोना वैक्सीन, आसानी से पा सकेंगे स्लॉट
कोरोना वैक्सीन (सांकेतिक)

पेटीएम, इंफोसिस और मेक माई ट्रिप जैसी कंपनियां भारत में वैक्सीन बुकिंग की अनुमति लेने के प्रयास में हैं. देश में वैक्सीनेशन का काम बहुत बड़ा है. 1 अरब से ज्यादा की आबादी को कोविड का टीका दिया जाना है. इस वृहद काम को देखते हुए प्राइवेट कंपनियों की भागीदारी वेक्सीन की बुकिंग में हो सकती है. कई प्राइवेट कंपनियां बुकिंग के लिए आगे आना चाहती हैं. पिछले महीने सरकार ने वैक्सीन बुकिंग के लिए थर्ड पार्टी के नियमों में ढील दी थी. यह देखा गया कि वैक्सीन उपलब्ध होने के बावजूद बुकिंग में दिक्कत के चलते टीकाकरण में देरी हो रही है.

कोविन ऐप के हेड आरएस शर्मा ने इस बारे में ‘रॉयटर्स’ को बताया कि लगभग 15 राज्य सरकारों की एजेंसी और प्राइवेट कंपनियां वैक्सीन बुकिंग के काम में शामिल होना चाहती हैं. इन कंपनियों में अपोलो, मैक्स, ऑनलाइन फार्मेसी 1mg ने बुकिंग के लिए अरजी लगाई है. सॉफ्टबैंक के सहयोग से चलने वाली डिजिटल पेमेंट कंपनी और मोबाइल ऐप कंपनी पेटीएन के पास 10 करोड़ मंथली एक्टिल यूजर हैं. मेक माई ट्रिप के पास 1 करोड़ से ज्यादा यूजर हैं. इस यूजर बेस का फायदा कंपनियां कोविड वैक्सीन की बुकिंग में कर सकती हैं. अगर लोगों को सरकारी प्लेटफॉर्म कोविन या आरोग्य सेतु ऐप पर दिक्कत हो रही है तो वे अपने मोबाइल फोन के जरिये पेटीएम से बुकिंग कर सकते हैं.

क्या कहना है कंपनियों का

मेक माई ट्रिप के सीईओ राजेश मागो ने कहा कि कंपनी चाहती है कि लोगों को वैक्सीनेशन में मदद की जाए. 1mg का कहना है कि वह सरकार के आदेश का इंतजार कर रही है. अभी तक 1.3 अरब की आबादी में सिर्फ 3.5 परसेंट लोगों को ही टीका लग पाया है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि टीकाकरण की गति बढ़नी चाहिए. कोरोना की अगली लहर आए, उससे पहले ज्यादा से ज्यादा लोगों को टीका देने की तैयारी है, लेकिन इसमें बुकिंग की समस्या आ रही है.

बुकिंग में होगी आसानी

विशेषज्ञ मानते हैं कि टीके की कमी एक समस्या जरूर है, लेकिन इस दिक्कत को बुकिंग ज्यादा आसान बना सकती है. कोविन ऐप की मदद में कई सॉफ्टवेयर डेवलपर्स आगे आए हैं जो ऑनलाइन टूल्स बनाकर टेलीग्राम अलर्ट भेज रहे हैं और लोगों को वैक्सीन के स्लॉट की जानकारी दे रहे हैं. हालांकि अलर्ट के माध्यम से भी अगर आप वैक्सीन स्लॉट बुक करते हैं तो उसके लिए कोविन या आरोग्य सेतु ऐप पर जाना होगा. पेटीएम ने भी अपने ऐप पर स्लॉट के बारे में अलर्ट देने का इंतजाम किया है. लेकिन अभी बुकिंग की सुविधा नहीं मिल पाई है.

कितना लगा टीका

भारत सरकार ने अभी तक राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को 25.60 करोड़ से अधिक (25,60,08,080) टीके उपलब्ध कराए हैं. इनमें से, टीका बर्बाद होने सहित कुल 24,44,06,096 टीकों (शुक्रवार सुबह 8 बजे तक उपलब्ध डाटा के अनुसार) का इस्तेमाल हुआ है. राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के पास अभी भी लगाए जाने के लिए 1,17 करोड़ से अधिक (1,17,56,911) कोविड टीके उपलब्ध हैं. इसके अतिरिक्त, 38 लाख से अधिक (38,21,170) टीके प्रक्रिया में हैं और अगले तीन दिनों के भीतर राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा प्राप्त कर लिए जाएंगे.

0 Response to "बस कुछ दिन की है देरी! Paytm से बुक होगी कोरोना वैक्सीन, आसानी से पा सकेंगे स्लॉट"

Post a Comment

Slider Post