-->
मध्य प्रदेश: कोरोना का टेस्ट कराने से मना किया तो पुलिस ने बीच बाजार में ही की किसान की पिटाई; दोनों तरफ से जमकर चले लात-घूंसे

मध्य प्रदेश: कोरोना का टेस्ट कराने से मना किया तो पुलिस ने बीच बाजार में ही की किसान की पिटाई; दोनों तरफ से जमकर चले लात-घूंसे

मौके पर मौजूद लोगों का कहना है, किसान से पुलिसकर्मी ने कोरोना की जांच कराने के लिए कहा था. किसान ने जब कहा कि मैंने कल जांच करवा ली थी. इसके बाद दोनों के बीच कहासुनी हुई और पुलिसकर्मी ने किसान की पीटाई कर दी

मध्य प्रदेश: कोरोना का टेस्ट कराने से मना किया तो पुलिस ने बीच बाजार में ही की किसान की पिटाई; दोनों तरफ से जमकर चले लात-घूंसे
साकेंतिक तस्वीर

मध्य प्रदेश(Madhya pradesh) के राजगढ़(Rajgarh) में पुलिसकर्मियों(police) ने एक किसान की सिर्फ इसलिए जमकर पिटाई कर दी (farmer was beaten up by the police )क्योंकि उसने कोविड टेस्ट(covid-19 test) कराने से मना कर दिया था. रविवार को पुलिसकर्मी ने एक किसान को बाजार में रोक कर कोविड जांच कराने के लिए कहा था. किसान ने मना कर दिया. ये बात पुलिसकर्मियों को इतना नागवार गुजरी की उन्होंने बीच बाजार किसान की पिटाई कर दी.

पुलिसकर्मी और किसान के बीच जब विवाद हुआ तो किसान ने पुलिसकर्मी पर हाथ उठा दिया. इस विवाद के बाद पुलिस किसान को थाने ले गई. जब बाजार में ये विवाद हो रहा था तो उस दौरान वहां लोग इकट्‌ठा हो गए थे. जिसके बाद इस पूरी मारपीट का वीडियो बना कर लोगों ने सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया

ये है पूरा मामला

दरअसल जिले के सुठालिया बस स्टैंड पर रविवार को दोपहर स्वास्थ्य विभाग की टीम कोरोना की जांच कर रही थी. जांच में स्वास्थ्य विभाग की टीम को कोई परेशानी नहीं हो इसके लिए मौके पर पुलिसकर्मिर्यों की ड्यूटी लगाई गई थी. पुलिसकर्मी इस दौरान बाजार में आने जाने वाले लोगों को रोककर कोरोना की जांच कर रहे थे. तभी बाजार आए चौकी गांव के रहने वाले मांगीलाल भिलाला को हेड कॉन्स्टेबल विनोद यादव ने रोका और कोरोना की जांच कराने के लिए कहा, लेकिन जांच कराने से मांगीलाल ने इनकार कर दिया.

इसके बाद दोनों के बीच में कहासुनी शुरू हो गई. गुस्से में हेड कॉन्स्टेबल विनोद यादव ने सरेबाजार किसान की पिटाई कर दी. पुलिस का ऐसा रवैया देख किसान को भी गुस्सा आ गया. और उसने भी पुलिसकर्मी पर हाथ उठा दिया. जिसके बाद साथी पुलिसकर्मियों ने दोनों को अलग किया. वहां मौजूद लोगों ने इस घटनाक्रम का वीडियो बना लिया. पुलिसकर्मी मांगीलाल को पकड़कर थाने ले गए.

किसान था नशे में

इस पूरे मामले में ब्यावरा एसडीओपी किरण अहिरवार ने कहा कि किसान कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं कर रहा था. जब हेड कॉन्स्टेबल विनोद यादव ने उसे टेस्ट के लिए कहा, तो नशे में धुत किसान ने मारपीट शुरू कर दी. बचाव में पुलिसकर्मी ने भी उसकी पिटाई की. मामले में किसान पर शासकीय कार्य में बाधा डालने के तहत केस दर्ज किया जाएगा.

लोगों का कहना पुलिसकर्मियों ने की दादागीरी

मौके पर मौजूद लोगों का कहना है, किसान से पुलिसकर्मी ने कोरोना की जांच कराने के लिए कहा था. किसान ने जब कहा कि मैंने कल जांच करवा ली थी. इसके बाद दोनों के बीच कहासुनी हुई और पुलिसकर्मी ने किसान की पीटाई कर दी.

0 Response to "मध्य प्रदेश: कोरोना का टेस्ट कराने से मना किया तो पुलिस ने बीच बाजार में ही की किसान की पिटाई; दोनों तरफ से जमकर चले लात-घूंसे"

Post a Comment

Slider Post