-->
पर्यटकों के लिये खुल गया पन्ना टाइगर रिजर्व, इन नियमों का पालन करते हुए टूरिस्ट को दी जा रही एंट्री

पर्यटकों के लिये खुल गया पन्ना टाइगर रिजर्व, इन नियमों का पालन करते हुए टूरिस्ट को दी जा रही एंट्री

 


प्रदेश में 1 जून से हुए अनलॉक के बाद बुधवार से जून माह की 30 तारीक तक के लिये पन्ना टाइगर रिज़र्व पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है

पन्ना/ मध्य प्रदेश में 1 जून से हुए अनलॉक के बाद बुधवार से जून माह की 30 तारीक तक के लिये पन्ना टाइगर रिज़र्व पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। कोरोना महामारी के चलते पार्क करीब डेढ़ माह से बंद था। पन्ना टाइगर रिज़र्व के क्षेत्र संचालक उत्तम कुमार शर्मा ने बताया कि, पन्ना टाइगर रिज़र्व को खोलने के आदेश बुधवार को जारी किये जा चुके हैं। आदेश के तहत स्थितियों को देखते हुए इसे 30 जून तक खोला जाएगा। वहीं, अगर स्थितियां सामान्य की ओर बढ़ीं, तो आगे भी इसे खोले रखेंगे।


पार्क से जुड़े कर्मियों को मिल सकेगा रोजगार

उत्तम कुमार के मुताबिक, पन्ना टाइगर रिज़र्व के खुलने से पर्यटकों को अनाथ हुए चार शावकों और टाइगर समेत अन्य वन्य जीवों के दर्शन का मौका मिल सकेगा। इसके साथ ही, पार्क खोले जाने से रोजगार से वंचित हुए यहां के गाईड, जिप्सी चालक और रिसोर्ट मालिकों को के लिये रोजगार सुचारू हो सकेगा। पहले दिन पार्क प्रबंधन ने कोविड की सभी गाइड लाइन को अपनाते हुए पर्यटकों को पार्क में प्रवेश कराया।

 

पहले दिन कोरोना गाइडलाइन का किया गया कड़ाई से पालन

बुधवार को पन्ना टाइगर रिजर्व में प्रवेश लेने वाले पर्यटकों को कोरोना गाइडलाइन के तहत ही पार्क में प्रवेश दिलाया गया। यहां प्रवेश से पहले पर्यटकों को थर्मल स्क्रीनिंगगाईड, जिप्सी चालकों के साथ-साथ पर्यटकों को मास्क, सेनेटाइजर एवं सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कराया गया। पार्क के प्रवेश द्वार पर सभी पर्यटकों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई। इसके साथ साथ वाहनों को भी पूरी तरह सेनेटाइज करने के बाद ही प्रवेश दिया गया।


अविश्वस्नीय- 'यहां बाघ कर रहा बच्चों की देखभाल'

आमतौर पर ऐसा कहा जाता है कि, बाघ अपने बच्चों के लिए न केवल खतरा होता है, बल्कि कई बार वो शावकों को मार भी देता है। लेकिन पन्ना टाइगर रिजर्व में एक हैरान करने वाला वाकया पार्क कर्मियों के कैमरे में कैद हुआ। यहां बाघिन की मौत के बाद बाघ न सिर्फ अपने शावकों की देखभाल कर रहा है, बल्कि एक मां की तरह उनकी खुराक का भी इंतजाम करने में जुटा है। कर्मचारियों द्वारा जब इसका वीडियो सामने आया, तो टाइगर रिजर्व के अधिकारियों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी।


15 मई को हो गई थी बाघिन की मौत

आपको बता दें कि, गुजिश्ता 15 मई को पन्ना टाइगर रिजर्व में बाघिन P 213 (32) की मौत हो गई थी। इसके बाद से ही उसके 4 शावक गायब हो गए थे। तभी से पन्ना टाइगर रिजर्व प्रबंधन ये मानने लगा था कि, शायद बाघ ने उन चारों शावकों को मार दिया होगा। रिजर्व प्रबंधन की ओर से शावकों की तलाश कराई जाती रही। लेकिन, बीते दिनों सामने आई वीडियो ने टाइगर रिजर्व प्रबंधन को हैरान कर दिया, जब उन्होंने देखा कि, बना मां के उन शावकों को उनका पिता (बाघ) संभाल रहा है। वीडियो सामने आने के बाद प्रबंधन ने राहत की सांस ली।

 

0 Response to "पर्यटकों के लिये खुल गया पन्ना टाइगर रिजर्व, इन नियमों का पालन करते हुए टूरिस्ट को दी जा रही एंट्री"

Post a Comment

Slider Post