Skip to main content

Business Idea: बस 10 हजार रुपये में शुरू करें 20 हजार तक की कमाई वाला ये बिजनस, जानिए घर बैठे-बैठे कैसे होगा तगड़ा मुनाफा!


Pickle Business Idea: अगर आप भी बिजनस करना चाहते हैं तो अपने बजट के हिसाब से कुछ बिजनस (Business Idea) शुरू कर सकते हैं। खाने की थाली अचार के बिना अधूरी मानी जाती है। आप चाहे तो अचार का ही बिजनस (Pickle Business) शुरू कर सकते हैं और शानदार कमाई (Earning from pickle business) कर सकते हैं।

    
pickle business idea: invest only 10 thousand and get up to 20 thousand per month, know how it will become possible
Business Idea: बस 10 हजार रुपये में शुरू करें 20 हजार तक की कमाई वाला ये बिजनस, जानिए घर बैठे-बैठे कैसे होगा तगड़ा मुनाफा!

Pickle Business Idea: सरकार लगातार किसी न किसी बहाने से देश के युवाओं को इस बात के लिए प्रोत्साहित करती रहती है कि वह कुछ बिजनस करें, ना कि सिर्फ नौकरियों पर निर्भर रहें। ऐसे में अगर आप भी बिजनस करना चाहते हैं तो अपने बजट के हिसाब से कुछ बिजनस (Business Idea) शुरू कर सकते हैं। आप चाहे तो सरकारी स्कीमों का फायदा भी उठा सकते हैं। मुद्रा लोन लेकर आप अपना बिजनस शुरू कर सकते हैं। आइए जानते हैं एक ऐसे बिजनस के बारे में जो बेहद ही कम पैसों में शुरू किया जा सकता है और उससे अच्छी खासी कमाई (Earning from pickle business) की जा सकती है।

अचार का है ये बिजनस

खाने की थाली अचार के बिना अधूरी मानी जाती है। आप चाहे तो अचार का ही बिजनस (Pickle Business) शुरू कर सकते हैं और शानदार कमाई कर सकते हैं। अच्छी बात ये है कि इस बिजनस को आप अपने घर से ही बहुत ही कम निवेश कर के शुरू कर सकते हैं और तगड़ी कमाई कर सकते हैं। अगर भविष्य में लगता है कि आपका बिजनस अच्छा चलने लगा है तो कहीं पर जगह किराए पर लेकर बिजनस बढ़ा सकते हैं।

महज 10 हजार रुपये में शुरू हो सकता है ये बिजनस

-10-

अगर आप अचार का बिजनस करने का मन बना लेते हैं तो इसे शुरू करने के लिए आपको सिर्फ 10 हजार रुपये की जरूरत होगी। वहीं आपकी कमाई 20 हजार रुपये से भी अधिक हो सकती है। हालांकि, यहां एक चीज ध्यान रखने की है कि आपकी कमाई इस बात पर निर्भर करेगी कि आपके आस-पास अचार की कितनी मांग है और कैसी पैकेजिंग कर के अचार को बेचते हैं। आपका अचार जितना अधिक बिकेगा, आपकी आमदनी भी उतनी ही बढ़ेगी। ध्यान रहे कि क्वालिटी के किसी भी हालत में समझौता ना करें, वरना बिजनस चलने से पहले ही ठप हो जाएगा।

कैसी होनी चाहिए आचार की मार्केटिंग?

अभी कोरोना काल में लोग आपसे अचार लेने में हिचक सकते हैं। ऐसे में बेहतर होगा कि आप अचार बनाने, उसे पैक करने आदि की लाइव स्ट्रीमिंग करें, जिससे लोगों का भरोसा जीता जा सके। वहीं अगर आप किसी हाईराइज सोसाएटी में रहते हैं तो अपने आस-पास से ही अचार बेचने का काम शुरू करें। तमाम रेस्टोरेंट, होटल और ढाबों आदि से भी कॉन्टैक्ट करें और उन्हें उनकी जरूरत के हिसाब से पैकेजिंग कर के अचार मुहैया कराएं।

कहां से आएगा बिजनस के लिए पैसा?

अचार के बिजनस के लिए आप मुद्रा लोन ले सकते हैं। अलग-अलग जरूरत के हिसाब से अलग-अलग मुद्रा लोन दिए जाते हैं। इसमें शिशु लोन के तहत 50 हजार रुपये तक, किशोर लोन के तहत 50 हजार से 5 लाख रुपये तक और तरुण लोन में 5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये तक का लोन मिलता है। आप जितना बड़ा या छोटा बिजनस प्लान कर रहे हैं, उस हिसाब से लोन ले सकते हैं। कम पैसों में बिजनस करना है तो आपके लिए शिशु लोन बेहतर रहेगा।

कुछ बातों का रखें ध्यान

अगर आपका अचार का बिजनस अच्छा चलने लगता है तो आपको अधिक पूंजी, अधिक जगह और साथ ही तमाम तरह के लाइसेंस की भी जरूरत होगी। ऐसे में अगर आप भविष्य में अपना बिजनस बढ़ाएं तो उसका रजिस्ट्रेशन कराकर लाइसेंस जरूर हासिल कर लें, ताकि बाद में किसी तरह की कोई दिक्कत ना हो। सबसे अहम बात, क्वालिटी के साथ समझौता कभी ना करें, क्योंकि लोग आपसे सिर्फ अचार नहीं, बल्कि क्वालिटी वाला अचार खरीदना चाहेंगे।

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

ग्वालियर - बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता शातिर चोर पकडे 10 लाख का माल बरामद। महाराजपुरा पुलिस ने दबिश देकर पकड़ा चोरों का ग्रुप महाराजपुरा थाना प्रभारी मिर्ज़ा आसिफ बेग और उनकी टीम के द्वारा कार्यवाही की गई। महराजपुरा टीम को बड़ी सफलता हासिल हुई।  10 लाख का माल भी बरामद किया गया।  महाराजपुर टीआई मिर्जा बेग ने बताया चोरों से 6 एलसीडी 8 लैपटॉप दो होम थिएटर 6 मोबाइल फोन एक स्कूटी टेबल फैन सिलेंडर बरामद हुआ है उनसे करीब 4 चोरियों का खुलासा हुआ है करीब 10 चोरियां कि गिरोह ने हामी भरी है 

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

कोरोना की स्थिति गंभीर होने पर कई राज्यों में फिर लॉकडाउन की स्थिति, सभी सीमाएं भी की जा रही हैं सील...। भोपाल। मध्यप्रदेश समेत पांच राज्य एक बार फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहे हैं। मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ते मामलों के बाद रविवार को पूरे प्रदेश में लॉकडाउन (Complete Lockdown) लगाया जा रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Covid 19) की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्र ने तय किया है कि अब सप्ताह में एक दिन रविवार को पूरा प्रदेश बंद रहेगा। उधर, मध्यप्रदेश के अलावा बिहार, उत्तरप्रदेश में भी लाकडाउन के आदेश जारी कर दिए गए हैं।   मध्यप्रदेश में पिछले तीन दिनों में 11 सौ से अधिक संक्रमित मरीज मिलने और जबकि 409 एक ही दिन में संक्रमित मिलने के बाद यह फैसला लिया जा रहा है इस दौरान प्रदेश की सीमाएं भी सील की जा सकती है। सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं ही चलती रहेंगी। गृह विभाग के बाद भोपाल समेत सभी जिलों के कलेक्टर अपने-अपने जिले के लिए एडवायजरी (Advisery'guideline) जारी कर रहे हैं।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र के मुताबिक इस सप्ताह में एक दिन का लाकडाउन ही