पोस्‍ट ऑफिस का किसान विकास पत्र या एसबीआई एफडी, कहां जल्‍दी डबल होगा आपका पैसा?


PO KVP vs SBI FD: वर्तमान में शेयर बाजार में उठापटक की वजह से अधिकतर निवेशक पारंपरिक निवेश विकल्‍प में अधिक रुचि द‍िखा रहे हैं. ऐसे में उनके लिए पोस्‍ट ऑफिस का किसान विकास पत्र और बैंकों की एफडी स्‍कीम बेहतर विकल्‍प साबित हो सकता है. लेकिन न‍िवेश के अलावा कई बातों के बारे में जानना होता है, जिसेके बारे में हम आपको बता रहे हैं...

पोस्‍ट ऑफिस का किसान विकास पत्र या एसबीआई एफडी, कहां जल्‍दी डबल होगा आपका पैसा?
निवेश के समय ब्‍याज दर के अलावा मैच्‍योरिटी रकम, अवधि, टैक्‍स समेत कई अन्‍य बातों को जानना चाहिए.

कोरोना वायरस महामारी के बीच बचत और निवेश को लेकर लगातार अ‍निश्चितता की स्थिति बनी हुई है. खासकर, शेयर बाजार में इस समय में उठापट देखने को मिल रही है. ऐसे स्थिति में पारंपरिक निवेश को ही सुरक्षा और रिटर्न के हिसाब से बेहतर विकल्‍प माना जा रहा है. यही वजह है कि पोस्‍ट ऑफिस की कई स्‍कीमों से लेकर बैंकों की एफडी ही सबसे पहली पंसद बन रही है. लेकिन बैंकों की एफडी की तुलना में पोस्‍ट ऑफिस के किसान विकास पत्र पर बेहतर ब्‍याज मिल रहा है.

हालां‍कि, इन दोनों विकल्‍पों में से किसी एक को चुनने से पहले यह जानना जरूरी है कि कौन से स्‍मीम में पैसे जल्‍दी बढ़ेगा और निवेशक के फैसले से पहले किन बातों का ध्‍यान रखना चाहिए. आज हम आपको इसी के बारे में जानकारी देंगे ताकि आप एसबीआई फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट और किस किसान विकास पत्र में अपने लिए सबसे बेहतर विकल्‍प चुन सकें.

दोनों स्‍कीम पर कितना मिल रहा ब्‍याज?

सबसे पहले तो हम दोनों स्‍कीम के ब्‍याज के बारे में जान लेते हैं. पोस्‍ट ऑफिस के किसान विकास पत्र स्‍कीम में निवेश करने पर 6.9 फीसदी की दर से ब्‍याज मिल रहा है. हर तीन महीने पर इस ब्‍याज दर को रिवाइज किया जाता है. हालांकि, अप्रैल-जून तिमाही के लिए इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया है.

जबकि, देश के सबसे बड़े बैंक यानी भारतीय स्‍टेट बैंक में एफडी कराने में अधिकतम 5.40 फीसदी की दर से ब्‍याज मिल रहा है. इस प्रकार दोनों स्‍कीम्‍स के बीच 1.50 फीसदी ब्याज का अंतर है. लेकिन निवेश से पहले ब्‍याज दर के अलावा भी कई अन्‍य पहलुओं पर ध्‍यान देना चाहिए.

किसान विकास पत्र के बारे में जान लीजिए

  • किसान विकास पत्र पर 6.9 फीसदी की दर से सालाना ब्‍याज मिल रहा है.
  • इसमें आप कम से कम 1,000 रुपये का निवेश कर सकते हैं. इसके बाद निवेश की रकम 100 रुपये की मल्‍टीपल में होनी चाहिए. इसमें निवेश की कोई अधिकतम लिमिट नहीं है.
  • केवीपी में निवेश की गई रकम 124 महीने यानी 10 साल और 4 महीने में डबल होती है.
  • किसान विकास पत्र अकाउंट को सिंगल, 3 लोगों तक ज्‍वाइंट, बच्‍चों के नाम पर उनके माता/पिता या गाजिर्यन या 10 साल से अधिक उम्र का कोई बच्‍चा भी अपने नाम पर यह अकाउंट खुलवा सकता है.
  • इस अकाउंट को निवेश शुरू करने के 2 साल 6 महीने के बाद और मैच्‍योरिटी से पहले बंद कराने का विकल्‍प मिलता है. अकाउंट होल्‍ड की मृत्‍यु, कोर्ट के आदेश या गैजेटेड अधिकारी की अनुमति की स्थिति में भी इस अकाउंट को मैच्‍योरिटी से पहले बंद किया जा सकता है.
  • डिपॉजिट पर इनकम टैक्‍स कानून की धारा 80C के तहत टैक्‍स छूट मिलती है.

भारतीय स्‍टेट बैंक फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट

एसबीआई में आप 7 दिन से लेकर 10 साल की एफडी करा सकते हैं. फिलहाल एसबीआई एफडी पर न्‍यूनतम 2.9 फीसदी और अधिकतम 5.4 फीसदी की दर से ब्‍याज दे रहा है. एफडी में 5 साल के निवेश पर इनकम टैक्‍स कानून की धारा 80C के तहत 1.5 लाख रुपये तक के निवेश पर छूट मिलती है.

SBI एफडी की विभिन्‍न अवधि पर मिलने वाला ब्‍याज

अवधिब्‍याज दर
7 से 45 दिन2.9%
46 से 179 दिन3.9%
180 से 210 दिन4.4%
211 से एक साल4.4%
1 साल अधिक से 2 साल से कम4.9%
2 साल से 3 साल से कम5.1%
3 साल से 5 साल से कम5.3%
5 साल से 10 साल5.4%

 कहां और कितनी जल्‍दी डबल होगा आपका पैसा?

निवेश पर पैसे डबल होने के बारे में जानने के लिए ‘रूल ऑफ 72’ को ध्‍यान में रखना होता है. पोस्‍ट ऑफिस के किसान विकास पत्र पर 6.90 फीसदी की दर से ब्‍याज मिल रहा है. ऐसे में इस नियम के तहत कैलकुलेशन से पता चलता है कि केवीपी में 10 साल 4 महीने में निवेश का पैसा डबल हो जाएगा.

जबकि, इसी कैलकुलेशन के हिसाब से देखें तो एसबीआई एफडी पर आपको 5.40 फीसदी की दर से ब्‍याज मिल रहा है. ऐसे में एसबीआई एफडी पर 13 साल 4 महीने के निवेश पर आपका पैसा डबल हो रहा है.

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

मंत्रिमंडल विस्तार / केंद्रीय नेतृत्व ने रिजेक्ट की शिवराज की लिस्ट; नए चेहरों को मंत्री बनाने के साथ नरोत्तम और तुलसी को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश / भाजपा के 13 वरिष्ठ विधायकों के मंत्री बनने पर असमंजस बरकरार, गोपाल भार्गव बोले- कांग्रेस ने भी यही गलती की थी

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

TATA Consulting Engineers Limited Hiring|BE/B.Tech Civil Engineer

मप्र / 1 जुलाई को भी मंत्रिमंडल विस्तार के आसार नहीं, नए चेहरों में भोपाल से रामेश्वर, विष्णु खत्री, इंदौर से ऊषा, मालिनी और रमेश के नाम चर्चा में

India News