-->
मध्य प्रदेश : सीधी गेस्ट हाउस में कभी मच्छर-कभी पानी, अच्छी नहीं कटी CM शिवराज की रात- एक कर्मचारी सस्पेंड

मध्य प्रदेश : सीधी गेस्ट हाउस में कभी मच्छर-कभी पानी, अच्छी नहीं कटी CM शिवराज की रात- एक कर्मचारी सस्पेंड


पानी की टंकी के ओवर फ्लो होने के बाद बंद करवाने के लिए भी शिवराज सिंह चौहान काफी देर परेशान होते रहे. सीएम की नाराजगी के बाद वरिष्ठ अधिकारियों ने पीडब्ल्यूडी विश्राम गृह के असिस्टेंट इंजीनियर बाबूलाल गुप्ता को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है

मध्य प्रदेश : सीधी गेस्ट हाउस में कभी मच्छर-कभी पानी, अच्छी नहीं कटी CM शिवराज की रात- एक कर्मचारी सस्पेंड
मध्य प्रदेश CM शिवराज सिंह चौहान.

सीधी के सरकारी पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस (PWD Guest House) में एक रात‌ सीएम शिवराज सिंह (CM Shivraj Singh Chauhan ) का रुकना अफसरों को भारी पड़ गया. सीएम को मच्छरों ने काटा तो पीडब्ल्यूडी (PWD) विभाग के असिस्टेंट इंजीनियर को निलंबित कर दिया गया. सीधी के वीआईपी गेस्ट हाउस (Guest House) में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan ) एक रात के लिए रुके थे. सीएम सीधी में बस हादसे में दिवंगत हुए लोगों के परिजनों से मिलने पहुंचे थे. 17 फरवरी की रात को जब सीएम सीधी के सरकारी गेस्ट हाउस में रुके थे तो रातभर उन्हें मच्छरों ने परेशान किया.

इतना ही नहीं पानी की टंकी के ओवर फ्लो होने के बाद बंद करवाने के लिए भी शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan ) काफी देर परेशान होते रहे. सीएम की नाराजगी के बाद वरिष्ठ अधिकारियों ने पीडब्ल्यूडी (PWD) विश्राम गृह के असिस्टेंट इंजीनियर बाबूलाल गुप्ता को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है. निलंबन आदेश में लिखा गया है कि सूचना के बावजूद अधिकारी ने साफ-सफाई नहीं करवाई , जिसके बाद मच्छर होने की शिकायत मिली है. इससे अतिथि को परेशानी का सामना करना पड़ा और विभाग की छवि धूमिल हुई है

जान बचाने वालों को पांच लाख रुपए इनाम

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को हुए सीधी बस हादसे में छह यात्रियों की जान बचाने वाले तीन लोगों को पांच-पांच लाख रुपए का पुरस्कार देने की घोषणा की है. सीएम ने जान बचाने वाले लोगों की सराहना करते हुए कहा है कि बचाव कार्य में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए शिवरानी लोनिया, लवकुश लोनिया और सतेन्द्र शर्मा को पांच-पांच लाख रूपये की पुरस्कार राशि से सम्मानित किया जाएगा. उन्होंने कहा कि इन तीनों ने अदम्य साहस दिखाकर लोगों की जान बचाई है. चौहान ने राहत तथा बचाव कार्य में तत्परता के लिए जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की भी प्रशंसा की थी.

अफसरों पर गिरी गाज

सीएम ने इस मामले में मध्यप्रदेश रोड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के डीएम, एजीएम तथा प्रबंधक को निलंबित करने के निर्देश दे दिए हैं. सीएम ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया कि, ‘सीधी बस दुर्घटना के सही कारण का तो जांच के बाद पता चलेगा पर आम जनता से जो फीडबैक मिला है, उसके आधार पर छुहिया घाटी की रोड खराब होने तथा बार-बार जाम लगने के कारण बस को रूट बदलना पड़ा. इसलिए मध्यप्रदेश रोड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के डीएम, एजीएम तथा प्रबंधक को निलंबित करने के निर्देश दे दिए गए हैं’.

0 Response to "मध्य प्रदेश : सीधी गेस्ट हाउस में कभी मच्छर-कभी पानी, अच्छी नहीं कटी CM शिवराज की रात- एक कर्मचारी सस्पेंड"

Post a Comment

Slider Post