भाजपा ने चार राज्यों में चुनाव प्रभारी बनाए, असम में नरेंद्र सिंह तोमर को मिली जिम्मेदारी

Highlights

  • पहले से भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के कंधों पर चुनाव का प्रभार है।
  • अप्रैल-मई में हो रहे विधानसभा चुनावों को लेकर की गई नियुक्ति।

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janta Party) ने कई राज्यों में अप्रैल-मई में हो रहे विधानसभा चुनावों (Assembly Elections 2021) के मद्देनजर शीर्ष नेताओं को जिम्मेदारी सौंपी है।

असम, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी के चुनाव प्रभारियों के रूप में भाजपा ने पार्टी के नेताओं में नरेंद्र सिंह तोमर, जी किशन रेड्डी, प्रहलाद जोशी और अर्जुन राम मेघवाल को नियुक्त किया। इसके साथ पश्चिम बंगाल में पहले से भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के कंधों पर चुनाव का प्रभार है।

अप्रैल—मई में असम, तमिलनाडु, केरल, पुडुचेरी के अलावा पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। असम में भाजपा और असम गण परिषद के गठबंधन की सरकार है। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की सरकार है और यहां पर ममता बनर्जी सीएम हैं।

वहीं केरल में लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट की सरकार है। यहां पर भाकपा और माकपा के साथ अन्य लेफ्ट पार्टियों गठबंधन में हैं। सीएम पिनाराई विजयन हैं। तमिलनाडु में पलनिस्वामी सीएम हैं। यहां पर एआईएडीएमके सत्ता में हैं। भाजपा गठबंधन सहयोगी पार्टी। केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी कांग्रेस के पास है। यहां वी नारायणसामी सीएम हैं।

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

मंत्रिमंडल विस्तार / केंद्रीय नेतृत्व ने रिजेक्ट की शिवराज की लिस्ट; नए चेहरों को मंत्री बनाने के साथ नरोत्तम और तुलसी को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश / भाजपा के 13 वरिष्ठ विधायकों के मंत्री बनने पर असमंजस बरकरार, गोपाल भार्गव बोले- कांग्रेस ने भी यही गलती की थी

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

TATA Consulting Engineers Limited Hiring|BE/B.Tech Civil Engineer

मप्र / 1 जुलाई को भी मंत्रिमंडल विस्तार के आसार नहीं, नए चेहरों में भोपाल से रामेश्वर, विष्णु खत्री, इंदौर से ऊषा, मालिनी और रमेश के नाम चर्चा में

India News