जल्द क्यूआर कोड से मेट्रो में बुक होगी टिकट! इस खास तरीके से करनी होगी बुकिंग


दिल्ली मेट्रो में सफर करने वाले लोग बिना किसी के कॉन्टेक्ट में आए खुद ही टिकट खरीद सकेंगे और उन्हें कार्ड लेने की आवश्यकता नहीं है.

जल्द क्यूआर कोड से मेट्रो में बुक होगी टिकट! इस खास तरीके से करनी होगी बुकिंग
दिल्ली मेट्रो में सफर करने वाले लोग बिना किसी के कॉन्टेक्ट में आए खुद ही टिकट खरीद सकेंगे.

कोरोना वायरस के इस दौर में कुछ दिशा निर्देशों के साथ दिल्ली मेट्रो का संचालन किया जा रहा है. मेट्रो में सोशल डिस्टेंसिंग और किसी के भी संपर्क में ना आने के लिए कई कदम उठाए जा रहे हैं. इसी क्रम में दिल्ली मेट्रो एक और बड़ा कदम उठाने जा रहे हैं, जिसमें यात्रियों को बिना किसी के संपर्क में आए टिकट दी जाएगी. जल्द ही दिल्ली मेट्रो में सफर करने वाले लोग बिना किसी के कॉन्टेक्ट में आए खुद ही टिकट खरीद सकेंगे और उन्हें कार्ड लेने की आवश्यकता नहीं है.

अभी किसी भी व्यक्ति को मेट्रो में यात्रा करनी होती है तो उन्हें स्मार्ट कार्ड की आवश्यकता होती है. ऐसे में आप सिर्फ एक यात्रा के लिए टिकट नहीं खरीद पाते हैं. इसलिए अब दिल्ली मेट्रो में क्यूआर कोड से भी टिकट ली जा सकेगी. इस सिस्टम में सिर्फ ऑनलाइन माध्यम से टिकट जारी की जाएगी और उससे ना तो टिकट प्रिंट करने की जरुरत होगी और ना ही टिकट के लिए टोकन लेना होगा. आपको फोन में टिकट मिल जाएगी और उसी से काम हो जाएगा.

मेट्रो रेल नेटवर्क ने क्विक रेस्पॉन्स (QR) कोड और अन्य डिजिटल भुगतान-आधारित प्रणाली शुरू करने का फैसला किया है. अब इस प्रक्रिया को शुरू करने पर काम किया जा रहा है. माना जा रहा है कि जल्द ही मेट्रो में क्यूआर कोड शुरू किया जा रहा है, जिसके माध्यम से आप यात्रा कर सकते हैं. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि आखिर क्यू आर को से कैसे टिकट होगी और किस तरह से आपको पैसे देने होंगे…

अभी दिल्ली में एयरपोर्ट लाइन पर क्यूआर कोड की व्यवस्था की गई है, जहां आप क्यूआर कोड से यात्रा कर सकते हैं. आइए जानते हैं कि क्यूआर कोड टिकट व्यवस्था में कैसे बुकिंग होती है और इसमें टिकट की गणना कैसे होती है…

– सबसे पहले आपको एक ऐप्लीकेशन डाउनलोड करनी होगी. एयरपोर्ट लाइन में टिकट बुकिंग के लिए Ridlr ऐप्लीकेशन का इस्तेमाल किया जाता है. हो सकता है दिल्ली मेट्रो के लिए अलग ऐप्लीकेशन की व्यवस्था हो.

– इसके बाद उसमें फोन नंबर और ईमेल आईडी से लॉगिन करना होगा.

– इसके बाद आप टिकट खरीद सकेंगे. इसके लिए आपको उसमें रेल की टिकट की तरह बुकिंग करनी होगी.

– इसमें आपको यात्रा शुरू होने वाले स्टेशन से लेकर यात्रा खत्म होने वाले स्टेशन का चयन करना होगा.

– इसमें आपको पैसेंजर की संख्या की जानकारी भी देनी होगी.

– एक बार जानकारी भरने के बाद आपको ऑनलाइन माध्यम से टिकट की कीमत का भुगतान करना होगा.

– टिकट के पैसे जमा होने के बाद आपको एक क्यूआर कोड मिलेगा.

– इस क्यूआर कोड को आपको मेट्रो स्टेशन के गेट पर स्कैन करवाना होगा, जिससे स्टेशन के गेट खुल जाएंगे.

– यह क्यूआर कोड स्मार्ट कार्ड या टोकन का काम करेंगे.

एक स्पेशल कार्ड भी होगा शुरू

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 28 दिसंबर 2020 को NCMC से भुगतान की सुविधा की शुरुआत कर दी है. नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (NCMC) की सेवा शुरू होते ही यात्रियों को स्मार्ट कार्ड या टोकन लेने की जरूरत नहीं होगी, बल्कि वो रूपे डेबिट कार्ड से ही सफर कर सकेंगे. यात्री जैसे ही कार्ड पंच करेंगे, अकाउंट से पैसे कट जाएंगे. यही नहीं, NCMC के जरिए यात्री मेट्रो ट्रेन सहित एयरपोर्ट या बसों के किराये का भुगतान कर पाएंगे. यह कार्ड पूरे देश में मान्य होगा.

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

मंत्रिमंडल विस्तार / केंद्रीय नेतृत्व ने रिजेक्ट की शिवराज की लिस्ट; नए चेहरों को मंत्री बनाने के साथ नरोत्तम और तुलसी को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश / भाजपा के 13 वरिष्ठ विधायकों के मंत्री बनने पर असमंजस बरकरार, गोपाल भार्गव बोले- कांग्रेस ने भी यही गलती की थी

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

TATA Consulting Engineers Limited Hiring|BE/B.Tech Civil Engineer

मप्र / 1 जुलाई को भी मंत्रिमंडल विस्तार के आसार नहीं, नए चेहरों में भोपाल से रामेश्वर, विष्णु खत्री, इंदौर से ऊषा, मालिनी और रमेश के नाम चर्चा में

India News