रेलवे टिकटों की कालाबाजारी करते हुए पोरसा से आरोपी दबोचा

- 54 पर्सनल आइडी से बनाता था रेलवे के टिकिट
- 24 टिकिट लाइव, कम्प्यूटर जब्त, 187 टिकिट की करा चुका था यात्रा


मुरैना. आरपीएफ ने पोरसा कस्बे से अवैध रूप से पर्सनल आइडी के जरिए टिकिट बनाते हुए एक आरोपी रामकिशोर तोमर को गिरफ्तार किया गया है। उक्त आरोपी रेलवे के टिकिट जारी करने के लिए ५४ पर्सनल आइडी का संचालन करता था।
आरपीएफ थाना प्रभारी नीरज महाजन ने बताया कि प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त रेल सुरक्षा बल प्रयागराज एवं मण्डल सुरक्षा आयुक्त झांसी के निर्देश पर टिकिटों की काली बाजारी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। इसी के तहत सूचना मिली कि पोरसा में पर्सनल आइडी के सहारे टिकिटों का अवैध कारोबार हो रहा है। शनिवार को आरपीएफ के उप निरीक्षक सुरेन्द्र कुमार, उप निरीक्षक कपिल कुमार व ग्वालियर, आरक्षक लोकेंद्र सिंह, संजय पचौरी तथा डिटेक्टिव विंग ग्वालियर के प्रधान आरक्षक एस एन शर्मा व वरुण कुमार दीक्षित के साथ अम्बाह रोड़ पोरसा स्थित रामा लक्षयोम कंप्यूटर्स पर पहुंचे जहां दुकान पर एक व्यक्ति रामकिशोर सिंह तोमर (४५) पुत्र गज सिंह तोमर निवासी इन्नी खेरा रजोधा हाल पोरसा जिला मुरैना को 54 पर्सनल यूजर आईडियों पर रेल यात्रा टिकिट के अवैध तरीके से बेचने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया। उसके द्वारा यह कार्य कंप्यूटर सेंटर व साइबर कैफे की आड़ में किया जा रहा था। आरोपी से आरपीएफ ने पूर्व की यात्रा के 187 टिकिट जिनका मूल्य 204190 रुपए, भविष्य यात्रा की 24 टिकट जिनका मूल्य 24113 रुपए कुल 211 टिकट जिनका मूल्य 228303 रुपए होना पाया। इसके साथ ही आरपीएफ ने 1 मॉनीटर, 1 प्रिंटर, 1 सीपीयू को बरामद कर आरोपी के विरुद्ध रेलवे अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया।

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता