पोस्ट ऑफिस की खास स्कीम: एक बार जमा करें पैसा और हर साल पाएं 60 हजार रुपये


डाकघर की मंथली सेविंग स्कीम (MIS) या मासिक आय योजना की सबसे बड़ी खासियत है इसका हर साल जुड़ कर मिलने वाला ब्याज. जॉइंट अकाउंट में अगर 9 लाख रुपये का निवेश किया गया तो हर महीने 4950 रुपये की फिक्स आय होगी

पोस्ट ऑफिस की खास स्कीम: एक बार जमा करें पैसा और हर साल पाएं 60 हजार रुपये
पोस्‍ट ऑफिस स्‍कीम्‍स में निवेश है सुरक्षित

इंडिया पोस्ट या भारतीय डाक निवेशकों के लिए कई डिपॉजिट सेविंग स्कीम चलाती है. इन स्कीम को पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम या डाकघर बचत योजना के नाम से जानते हैं. स्कीम के जरिये डाकघर निवेशकों को उच्च ब्याज दर के साथ टैक्स में छूट का लाभ देता है. इनकम टैक्स की धारा 80c के तहत निवेश में टैक्स पर छूट दी जाती है.

भारतीय डाक किसान विकास पत्र, पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट, पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट, पोस्ट ऑफिस सेविंग्स अकाउंट, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम, सुकन्या समृद्धि अकाउंट, पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट और पब्लिक प्रोविडेंट फंड के नाम से स्कीम चलाती है. इन योजनाओं में निवेश कर अच्छा रिटर्न पाया जा सकता है. साथ ही टैक्स में छूट भी प्राप्त की जा सकती है.

कम से कम 1500 रुपये जमा

इसी में एक योजना है पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (MIS) जिसमें निवेशक को हर महीने उसके निवेश पर एक निर्धारित आय प्रदान की जाती है. इस योजना में कम से कम 1500 रुपये हर महीने जमा कर सकते हैं और अधिकतम 4.5 लाख रुपये जमा करने का नियम है. यह राशि सिंगल अकाउंट होल्डर के लिए है. जॉइंट अकाउंट में अधिकतम 9 लाख रुपये जमा किए जा सकते हैं. इस राशि पर 6.6 परसेंट का ब्याज मिलता है और इस मंथली स्कीम का मैच्योरिटी पीरियड 5 साल का है.

9 लाख जमा पर इतनी कमाई

डाकघर की मंथली सेविंग स्कीम (MIS) या मासिक आय योजना की सबसे बड़ी खासियत है इसका हर साल जुड़ कर मिलने वाला ब्याज. जॉइंट अकाउंट में अगर 9 लाख रुपये का निवेश किया गया तो हर महीने 4950 रुपये की फिक्स आय होगी. 9 लाख रुपये जमा राशि पर सालाना ब्याज 6.6 परसेंट के हिसाब से जोड़ें तो 59,400 रुपये बनता है. 9 लाख रुपये जमा राशि पर हर महीने 4950 रुपये और सालाना 59,400 रुपये की आय प्राप्त होगी. ये राशि आप हर महीने पा सकते हैं. हर महीने वाली यह राशि ब्याज के रूप में होगी जबकि आपका मूलधन जस का तस बना रहेगा. 5 साल के मैच्योरिटी पीरियड पर अपनी राशि डाकघर से निकाल सकते हैं या इसे आगे के लिए बढ़ा भी सकते हैं. यह आप निर्भर करता है.

सेविंग स्कीम के लिए कैसे करें आवेदन

डाकघर में सेविंग स्कीम का खाता खुलवाना बहुत आसान है. आप सबसे पहले किसी नजदीकी पोस्ट ऑफिस में जाएं और एप्लिकेशन फॉर्म लें. फॉर्म में पूछी गई जानकारी भरें, जैसे कि नाम और पता आदि. फॉर्म के साथ कुछ जरूरी दस्तावेज भी मंगे जाते हैं जिसे आपको अटैच करना होगा. फॉर्म भरने के बाद इसे पोस्ट ऑफिस में जमा कर दें. सेविंग स्कीम या अन्य योजनाओं के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए इस लिंक https://www.indiapost.gov.in/vas/Pages/IndiaPostHome.aspx पर क्लिक करें. यह भारतीय डाक की आधिकारिक वेबसाइट है.

किन दस्तावेजों की होगी जरूरत

डाकघर बचत योजना का लाभ लेने के लिए आपको सबसे पहले भारत का नागरिक होना अनिवार्य है. डाक योजना से जुड़ने के लिए आपके पास आधार कार्ड, पैन कार्ड, पोसपोर्ट साइज फोटोग्राफ और एक मोबाइल नंबर का होना जरूरी है. आपके पास निवास का प्रमाण पत्र भी होना चाहिए. ज्यादा जानकारी के लिए आप भारतीय डाक की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर फोन नंबर और ईमेल एड्रेस ले सकते हैं और जानकारी पा सकते हैं.

डाकघर की सभी योजनाओं पर कमाई की अच्छी संभावना है. मामली जमा के साथ हर महीने एक निश्चित आय मिलेगी जिससे खर्च की टेंशन दूर होगी और मूलधन आपका वैसे ही बना रहेगा. इन योजनाओं के बारे में जानकारी लेने के लिए डाक विभाग की वेबसाइट पर जाएं या किसी नजदीकी पोस्ट ऑफिस में जाकर विस्तृत जानकारी पा सकते हैं. जो योजना आपको उपयुक्त लगे, उसे चुनकर निवेश शुरू कर सकते हैं.

Comments

Popular posts from this blog

कोरोना का खौफ : भारत की सबसे बड़ी देहमंडी में पसरा सन्नाटा

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

Janta Curfew के बीच कोरोना के डर से युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- सभी अपना टेस्ट कर लेना