Skip to main content

रेल यात्री ध्यान दें! इन 17 ट्रेनों में से 2 हुई कैंसिल, बाकी 15 के बदल गए रूट, जानिए सबकुछ


किसान आंदोलन की वजह से सड़क मार्ग के साथ साथ रेलवे मार्ग भी प्रभावित है. इस वजह से पंजाब से सबंधित रूट की ट्रेन नहीं चल पा रही हैं या फिर उनके रूट को डायवर्ट किया गया है

रेल यात्री ध्यान दें! इन 17 ट्रेनों में से 2 हुई कैंसिल, बाकी 15 के बदल गए रूट, जानिए सबकुछ
पंजाब में चल रहे किसान आंदोलन से कुछ ट्रेनों को आगे के लिए रद्द कर दिया गया है.

कृषि कानूनों के खिलाफ कुछ महीनों से चल रहे किसान आंदोलन की वजह से जन-जीवन काफी प्रभावित हो रहा है. जहां-जहां किसान आंदोलन कर रहे हैं, उनसे संबंधित इलाकों में जनजीवन पर भी काफी प्रभाव पड़ रहा है. इससे सड़क मार्ग के साथ साथ रेलवे मार्ग भी प्रभावित है. इस वजह से पंजाब से सबंधित रूट की ट्रेन नहीं चल पा रही हैं या फिर उनके रूट को डायवर्ट किया गया है. ऐसे में रेलवे ने फिर से कई ट्रेनों का कैंसिलेशन बरकरार रखा है और कई ट्रेनों के रुटों में बदलाव किया है.

उत्तर रेलवे की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, पंजाब में चल रहे किसान आंदोलन से कुछ ट्रेनों को आगे के लिए रद्द कर दिया गया है और कुछ ट्रेनों के रूट को कम किया गया है या रूट में बदलाव किया है. ऐसे में जानते हैं इससे किन-किन ट्रेनों पर प्रभाव पड़ा है ताकि आप उससे हिसाब से अपनी यात्रा का प्लान कर सकेंगे….

कौन सी ट्रेन हुई कैंसिल?

रेलवे की ओर से दी जाएगी जानकारी के अनुसाकर, ट्रेन संख्या 05211 दरभंगा-अम-तसर एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को अभी नहीं चलाया जाएगा और इसे आगे भी रद्द रखा जाएगा. साथ ही 05212 अमृतसर-दरभंगा एक्सप्रेश स्पेशल ट्रेन भी अगले आदेश तक रद्द रहेगी.

इन ट्रेन के रूट में किया गया है बदलाव

1. 02715 नांदेड-अमृतसर एक्सप्रेस सिर्फ चंडीगढ़ तक ही जाएगी. साथ ही वापसी में 02716 अमृतसर-नांदेड एक्सप्रेस ट्रेन अमृतसर से ही रवाना होगी. यानी ट्रेन चंडीगढ़ तक ही जाएगी और ट्रेन की शुरुआत भी चंडीगढ़ से होगी और आगे के रूट के लिए ट्रेन कैंसिल कर दी गई है.

2. 08237 कोरबा-अमृतसर की सेवा अंबाला तक रहेगी. ये ट्रेन अंबाला से अमृतसर नहीं जाएगी. ट्रेन की सर्विस अंबाला-अमृतसर-अंबाला के बीच नहीं रहेगी.

3. 09613 अजमेर-अमृतसर एक्सप्रेस जालंधर सिटी तक ही जाएगी और वापसी में ट्रेन का सफर जालंधर से ही शुरू होगा. ट्रेन जालंधर सिटी-अमृतसर-जालंधर सिटी के बीच कैंसिल रहेगी.

इन ट्रेन के रूट में किया गया डायवर्जन

1. 02903 मुंबई सेंट्रल-अमृतसर एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को तरनतारन से अमृतसर के लिए डायवर्ट किया गया है.
2. 02904 अमृतसर-मुंबई सेंट्रल एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को अमृतसर-तरनतारन- ब्यास की ओर डायवर्ट किया गया है.
3. 02925 बांद्रा टर्मिनल- अमृतसर एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को ब्यास-तरनतारन-अमृतसर से डायवर्ट किया गया है.
4. 02926 अमृतसर-बांद्रा टर्मिनल स्पेशल एक्सप्रेस अमृतसर-तरनतारन- ब्यास की ओर डायवर्ट किया गया है.
5. 04673/04649 जयनगर-अमृतसर एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को ब्यास-तरनतारन-अमृतसर से डायवर्ट किया गया है.
6. 04650/04674 अमृतसर-जयनगर एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को अमृतसर-तरनतारन- ब्यास की ओर डायवर्ट किया गया है.
7. 04652 अमृतसर-जयनगर एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को अमृतसर-तरनतारन- ब्यास की ओर डायवर्ट किया गया है.
8. 04654 जयनगर-अमृतसर एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को ब्यास-तरनतारन-अमृतसर से डायवर्ट किया गया है.
9. 02407 न्यूजलपाईगुड़ी – अमृतसर एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को ब्यास-तरनतारन-अमृतसर से डायवर्ट किया गया है.
10. 02054 अमृतसर-हरिद्वार एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को ब्यास-तरनतारन-अमृतसर से डायवर्ट किया गया है.
11. 02053 हरिद्वार- अमृतसर एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन को अमृतसर-तरनतारन- ब्यास की ओर डायवर्ट किया गया है.

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चे की जवाबदारी प्रदेश के  युवा व वरिष्ठ नेता श्री रफत वारसी के हाथों में  मध्य प्रदेश भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु दत्त शर्मा ने मध्य प्रदेश के भाजपा संगठन का विस्तार किया है जिसमें मोर्चे के नए प्रदेश अध्यक्षों की भी नियुक्ति की गई है जिसमें मध्य प्रदेश के वरिष्ठ व युवा नेता श्री रफत वारसी को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाकर भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की जवाबदारी सौंपी गई है श्री रफत वारसी मध्यप्रदेश में एक उभरते हुए अल्पसंख्यक चेहरे है और भाजपा आलाकमान ने नए चेहरे के रूप में श्री वारसी साहब को यह नई जवाबदारी सौंपी है जिससे मध्य प्रदेश में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा और मजबूत होने की संभावना बढ़ गई है वर्तमान में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा में नई और युवा पीढ़ी के लोग अधिकतर काम कर रहे हैं और वारसी साहब के प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से इसमें और अधिक वृद्धि होगी क्योंकि नए प्रदेश अध्यक्ष श्री वारसी साहब मध्यप्रदेश में अल्पसंख्यक समाज में अपनी गहरी पैठ रखते हैं उनके प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चा बेहतर

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

    शहीद हसमत वारसी जी  के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण  पद          वी डी शर्मा जी ने गले लगा कर दी बधाई      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी से आशीर्वाद लेते हुए       वी डी  शर्मा जी भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  ने दिया आशीर्वाद          अपनी माँ परवीन वारसी जी से दुआयें  लेते हुए रफत वारसी ने किया पदभार ग्रहण 17 जनवरी 2021 को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष रफत वारसी ने किया पदभार ग्रहण रफत वारसी ने कहा मुस्लिम समाज में कई तरह के भ्रम हैँ जिन्हे दूर करने के लिए एक दल के साथ पुरे प्रदेश का भ्रमण करेंगे ! साथ ही उन्होंने पदभार ग्रहण में आये हुए  सभी  साथियों का तहे दिल से शुक्रिया  अदा किआ 

SHOP WITH US Apparel & Accessories