यहां मिल रहा है दुनिया का सबसे सस्ता पेट्रोल, कीमत सिर्फ 1.5 रुपये प्रति लीटर


World Cheapest Petrol Price: भारत में पेट्रोल अब तक के सबसे उच्चतम स्तर 100 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच गया है. लेकिन दुनिया में ऐसे कई देश है जहां कीमतें 2 रुपये प्रति लीटर से भी कम है. आइए जानें उनके बारे में...

यहां मिल रहा है दुनिया का सबसे सस्ता पेट्रोल, कीमत सिर्फ 1.5 रुपये प्रति लीटर

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ती कच्चे तेल की कीमतों के चलते भारत में पेट्रोल के दाम पहली बार 100 रुपये प्रति लीटर के पार पहुंच गए है. बुधवार को दिल्ली में पेट्रोल 25 पैसे प्रति लीटर चढ़ कर 89.54 रुपये पर पहुंच गया. वहीं, एक लीटर डीज़ल के दाम 25 पैसे बढ़कर 79.95 रुपये प्रति लीटर पर हो गए. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक्सट्रा प्रीमियम पेट्रोल की कीमतें 100.44 रुपये प्रति लीटर हो गई है. इन सब के बीच आपको ये जानकर हैरानी होगी कि दुनिया में कई देश ऐसे है जहां पेट्रोल की कीमतें 10 रुपये प्रति लीटर के नीचे है.

आइए जानें दुनिया में कहां बिक रहा है सबसे सस्ता पेट्रोल…

(10) नाइजीरिया- पेट्रोल के दाम 31.61 रुपये प्रति लीटर
ग्लोबल प्राइस डॉट कॉम के मुताबिक नाइजारिया इस लिस्ट में दसवें नंबर पर है.

(9) तुर्कमेनिस्तान- पेट्रोल के दाम 31.13 रुपये प्रति लीटर
इस लिस्ट में का नंबर नौवां है. नाइजीरिया ने साल 2020 में अप्रैल से अगस्त के दौरान भारत को 71. 7 लाख टन क्रूड की आपूर्ति की.

(8) कतर-पेट्रोल के दाम 29.95 रुपये प्रति लीटर
इस लिस्ट में कतर का नंबर आठवां है.

(7) कज़ाख़िस्तान-पेट्रोल के दाम 29.70 रुपये प्रति लीटर
इस लिस्ट में कज़ाख़िस्तान का नंबर सातवां है.

(6) सूडान-पेट्रोल के दाम 27.52 रुपये प्रति लीटर
इस लिस्ट में सूडान का नंबर छठा है.

(5) कुवैत- पेट्रोल के दाम 25.25 रुपये प्रति लीटर
इस लिस्ट में कुवैत का नंबर पांचवां है.

(4) अल्जीरिया पेट्रोल के दाम 25.15 रुपये प्रति लीटर
इस लिस्ट में अल्जीरिया का नंबर चौथा है.

(3) अंगोला पेट्रोल के दाम 17.82 रुपये प्रति लीटर
इस लिस्ट में अंगोला का नंबर तीसरा है.

(2) ईरान पेट्रोल के दाम 4.49 रुपये प्रति लीटर
इस लिस्ट में अंगोला का नंबर दूसरा है.

(1) वेनेजुएला पेट्रोल के दाम 1.5 रुपये प्रति लीटर
दुनिया में सबसे सस्ता पेट्रोल वेनेजुएला में बिक रहा है.

 

कच्चे तेल की कीमतों में और आ सकती है तेजी

यूएस एनर्जी इंफॉर्मेशन एडमिनिस्ट्रेशन (ईआईए) के मुताबिक 2021 की पहली छमाही जून तक ब्रेंट क्रूड के भाव 60 डॉलर प्रति बैरल तक जा सकते हैं.

ईआईए की हालिया रिपोर्ट में बताया गया है कि ऑर्गेनाइजेशन ऑफ पेट्रोलियम एक्सपोर्टिंग कंट्रीज (ओपेक) और सहयोगी देशों (ओपेक प्लस) साझेदारी के तहत तेल उत्पादन सीमित रख सकती हैं. सऊदी अरब ने घोषणा की है कि वह फरवरी और मार्च में तेल उत्पादन में 10 लाख बैरल प्रतिदिन कटौती करेगा.

इस कटौती के बावजूद ईआईए का अनुमान है कि ओपेक पिछले साल की तुलना में इस बार अधिक तेल उत्पादित करेगा और पिछले साल 2020 में औसतन 2.56 करोड़ बैरल प्रतिदिन की तुलना में इस साल 2021 में औसतन 27.2 करोड़ बैरल प्रतिदिन उत्पादित करेगा.

भारत में इतना महंगा क्यों है पेट्रोल?

एक्सपर्ट्स बताते हैं कि पेट्रोल इतना महंगा इसलिए है क्योंकि उस पर टैक्स अधिक है. एक लीटर के पेट्रोल के ब्रेकअप की बात करें तो इसका बेस प्राइस 28.13 रुपये और किराया इत्यादि खर्च 0.37 रुपये यानी पेट्रोल का भाव हुआ 28.5 रुपये.

इसके बाद इस पर डीलर्स को 32.98 रुपये की एक्साइज ड्यूटी और 19.55 रुपये का वैट (डीलर कमीशन पर भी वैट शामिल) देना होता है.

डीलर का औसतन कमीशन 3.67 रुपये हुआ. इन सबको जोड़कर पेट्रोल का भाव 16 जनवरी 2021 को 84.70 रुपये प्रति लीटर हुआ.

इस प्रकार एक लीटर पेट्रोल पर 52.53 रुपये का टैक्स देना पड़ा यानी 62 फीसदी. तेल के भाव एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने पर भिन्न हो सकते हैं क्योंकि इस पर स्थानीय बिक्री कर या वैट (वैल्यू एडेड टैक्स) लगता है. इसके अलावा इस पर एक्साइज ड्यूटी भी लगाई जाती है जो सेंट्र लेवी है.

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

मंत्रिमंडल विस्तार / केंद्रीय नेतृत्व ने रिजेक्ट की शिवराज की लिस्ट; नए चेहरों को मंत्री बनाने के साथ नरोत्तम और तुलसी को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश / भाजपा के 13 वरिष्ठ विधायकों के मंत्री बनने पर असमंजस बरकरार, गोपाल भार्गव बोले- कांग्रेस ने भी यही गलती की थी

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

TATA Consulting Engineers Limited Hiring|BE/B.Tech Civil Engineer

मप्र / 1 जुलाई को भी मंत्रिमंडल विस्तार के आसार नहीं, नए चेहरों में भोपाल से रामेश्वर, विष्णु खत्री, इंदौर से ऊषा, मालिनी और रमेश के नाम चर्चा में

India News