Skip to main content

Post Office Scheme से मात्र एक हजार रुपए के निवेश से कर सकते हैं कमाई की शुरूआत


  • Post Office की इस स्कीम में एक हजार रुपए से की जा सकती है निवेश की शुरुआत
  • Post Office Scheme में अकेले या फिर अपने पार्टनर के साथ खोल सकते हैं Joint Account

नई दिल्ली। कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौर ( Coronavirus Lockdown Phase ) में इक्विटी मार्केट में निवेशकों ( Equity Market Investors ) को काफी नुकसान हुआ। वहीं दूसरी ओर म्यूचुअल फंड ( Mutual ) और एसआईपी में निवेश ( SIP Investment ) भी नुकसान की ओर ही इशारा कर रहा है। सरकार की ओर से दूसरी स्मॉल सेविंग स्कीम ( Small Savings Schemes ) में ब्याज दर भी कम की हैं। ऐसे में पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम ( Post Office Monthly Scheme ) लोगों को हर महीने कमाई करने का मौका दे रही है। अगर आप अकेले निवेश करते हैं तो 1000 रुपए से 4.5 लाख रुपए तक का निवेश कर सकते हैं। वहीं ज्वाइंट इंवेस्टमेंट के तहत 9 लाख रुपए का एकमुश्त निवेश किया जा सकता है। जिसके बाद आपको हर ब्याज का मिलने रुपया आपको कमाई कराता है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर इस योजना के बारे में...

बढ़ा Foreign Investors का विश्वास, जून में 15 महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंचा Foreign Investment

स्कीम के फायदे?
- ज्वाइंट अकाउंट खुलवाने पर ब्याज के यप में मिलने वाली इनकम को दोनों अकाउंट में बराबर दी जाती है।
- ज्वाइंट अकाउंट को किसी भी वक्त सिंगल में और सिंगल को ज्वाइंट में कंवर्ट किया जा सकता है।
- अकाउंट में किसी तरह का चेंज कराने से पहले आपको ज्वाइंटली एप्लीकेशन देना होगा।

April और May के महीने में Gold Import में आई भारी कमी, जानिए सरकार के आंकड़े

कुछ इस तरह की हैं शर्तें
- अगर आपको अकाउंट खुलवाए एक साल नहीं हुआ है तो आप उसमें से रुपया नहीं निकाल सकेंगे।
- अगर निवेश को एक से 3 साल हुए हैं तो आपको 2 फीसदी काटकर रुपया मिलेगा।
- 3 साल के निवेश के बाद और स्कीम मैच्योरिटी से रुपया निकालने पर एक फीसदी काटा जाएगा।

अगर आप भी Bank Account से निकालते हैं 20 लाख रुपए से ज्यादा, जान लीजिए क्या कहता है SBI का नियम

स्कीम की कुछ खास बातें
- अकाउंट को आप किसी भी पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर करा सकते हैं।
- स्कीम के 5 साल पूरे होने पर आप दोबारा इंवेस्टमेंट कर सकते हैं।
- स्कीम में नॉमिनी भी नियुक्त हो सकता है, ताकि मूल निवेशी को कुछ होने पर नॉमिनी को रुपया मिल सके।
- इस स्कीम में आपको ब्याल पर टैक्स देना होता है, टीडीएस नहीं कटेगा।

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

ग्वालियर - बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता शातिर चोर पकडे 10 लाख का माल बरामद। महाराजपुरा पुलिस ने दबिश देकर पकड़ा चोरों का ग्रुप महाराजपुरा थाना प्रभारी मिर्ज़ा आसिफ बेग और उनकी टीम के द्वारा कार्यवाही की गई। महराजपुरा टीम को बड़ी सफलता हासिल हुई।  10 लाख का माल भी बरामद किया गया।  महाराजपुर टीआई मिर्जा बेग ने बताया चोरों से 6 एलसीडी 8 लैपटॉप दो होम थिएटर 6 मोबाइल फोन एक स्कूटी टेबल फैन सिलेंडर बरामद हुआ है उनसे करीब 4 चोरियों का खुलासा हुआ है करीब 10 चोरियां कि गिरोह ने हामी भरी है 

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

कोरोना की स्थिति गंभीर होने पर कई राज्यों में फिर लॉकडाउन की स्थिति, सभी सीमाएं भी की जा रही हैं सील...। भोपाल। मध्यप्रदेश समेत पांच राज्य एक बार फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहे हैं। मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ते मामलों के बाद रविवार को पूरे प्रदेश में लॉकडाउन (Complete Lockdown) लगाया जा रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Covid 19) की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्र ने तय किया है कि अब सप्ताह में एक दिन रविवार को पूरा प्रदेश बंद रहेगा। उधर, मध्यप्रदेश के अलावा बिहार, उत्तरप्रदेश में भी लाकडाउन के आदेश जारी कर दिए गए हैं।   मध्यप्रदेश में पिछले तीन दिनों में 11 सौ से अधिक संक्रमित मरीज मिलने और जबकि 409 एक ही दिन में संक्रमित मिलने के बाद यह फैसला लिया जा रहा है इस दौरान प्रदेश की सीमाएं भी सील की जा सकती है। सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं ही चलती रहेंगी। गृह विभाग के बाद भोपाल समेत सभी जिलों के कलेक्टर अपने-अपने जिले के लिए एडवायजरी (Advisery'guideline) जारी कर रहे हैं।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र के मुताबिक इस सप्ताह में एक दिन का लाकडाउन ही