मध्य प्रदेश / कमलनाथ को चीन का एजेंट कहने पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा को लीगल नोटिस


पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

  • पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

  • कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा के बेटे वरुण तन्खा की लॉ फर्म की तरफ से जारी हुआ नोटिस
  • दोनों नेताओं को अलग-अलग जारी नोटिस में कहा गया कि दोनों नेता बिना शर्त कमलनाथ से माफी मांगे

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 07:07 PM IST

भोपाल. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उनके खिलाफ हाल ही में चीन को लेकर आरोप लगाने के मामले में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा को नोटिस भेजे हैं। इनमें दोनों नेताओं से बगैर शर्त माफी मांगने के लिए कहा गया है।

कमलनाथ की ओर से अधिवक्ता वरुण तन्खा ने 30 जून को ई-मेल और कुरियर के माध्यम से दोनों नेताओं को लीगल नोटिस भेजे हैं। नोटिस कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा के बेटे वरुण तन्खा की लॉ फर्म वीएसए लीगल के जरिए भेजा गया है। अलग-अलग नोटिस में कहा गया है कि प्रभात झा और वीडी शर्मा ने यहां 26 जून और 27 जून को मीडिया के समक्ष कमलनाथ के खिलाफ मानहानिकारक, आधारहीन और असत्य आरोप लगाए हैं। ये आरोप चीन को लाभ पहुंचाने से संबंधित हैं, जिसमें उन्हें चीन का एजेंट बताया गया है, जिसका प्रकाशन एवं प्रसारण विभिन्न समाचार माध्यमों में भी हुआ है।

नोटिस में कहा गया कि 10 बार सांसद रहे हैं कमलनाथ
नोटिस में विस्तार से घटनाक्रम का ब्याैरा देते हुए कहा गया है कि श्री कमलनाथ छिंदवाड़ा से दस बार सांसद चुने गए हैं। वे वर्तमान में विधायक होने के साथ ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद का दायित्व संभाल रहे हैं। वे केंद्र में मंत्री और राज्य के मुख्यमंत्री भी रहे हैं। ऐसे व्यक्ति के खिलाफ दोनों नेताओं ने आधारहीन और असत्य आरोप लगाए हैं। ऐसा लगता है कि निकट भविष्य में राज्य में होने वाले 24 विधानसभा उपचुनावों के मद्देनजर राजनैतिक लाभ के लिए ऐसा किया गया है।

बिना शर्त माफी मांगे दोनों भाजपा नेता

नोटिस के अनुसार इस तरह के आधारहीन आरोप लगाकर श्री कमलनाथ की छवि धूमिल करने का प्रयास किया गया है। इसमें कहा गया है कि नोटिस प्राप्त होने के सात दिनों के अंदर प्रभात झा और वीडी शर्मा बिना शर्त लिखित में माफी मांगें, अन्यथा उनके खिलाफ मानहानि संबंधी विधिक कार्रवाई प्रारंभ की जाएगी।

Comments

Popular posts from this blog

कोरोना का खौफ : भारत की सबसे बड़ी देहमंडी में पसरा सन्नाटा

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

Janta Curfew के बीच कोरोना के डर से युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- सभी अपना टेस्ट कर लेना