-->
खुश खबरीः अब फैमिली डॉक्टर से भी करा सकेंगे कोरोना टेस्ट, नहीं जाना पड़ेगा अस्पताल

खुश खबरीः अब फैमिली डॉक्टर से भी करा सकेंगे कोरोना टेस्ट, नहीं जाना पड़ेगा अस्पताल


संक्रमण के डर से सरकारी अस्पताल जाने से डरते हैं लोग

भोपाल। मध्य प्रदेश में अब आपके फैमिली डॉक्टर भी लक्षणों के आधार पर मरीज का कोरोना टेस्ट करा सकता है। इसके लिए विभाग ने आदेश जारी कर दिया है। यदि सर्दी, जुकाम या कोरेाना जैसे कोई लक्षण हों और सरकारी अस्पतालों में जाने की इच्छा न करे तो छोटी क्लीनिक में भी डॉक्टर से मिल सकते हैं।

दरअसल, प्रदेश में कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है। पांच हजार से ज्यादा लोग इसकी चपेट में हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि जितनी जल्दी मरीजों की पहचान होगी, संक्रमण की दर उतनी ही तेजी से कम होगी। इसके लिए अब निजी क्लीनिक या प्राइवेट डॉक्टर भी कोरेाना टेस्ट करा सकते हैं।

संक्रमण को रोकने के लिए सरकार रोकथाम और उपचार के लिए टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट की रणनीति पर जोर दे रही है। इसके तहत देते हुए केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सलाह दी है कि वे अपने राज्य के सभी लैब की उपयोगिता सुनिश्चित करें, खासकर निजी लैब की ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसका लाभ मिले।

सभी की होगी जांच
कोरोना मरीजों की जल्दी पहचान कर उनका उपचार शुरू कर मौतों को रोका जा सके। यह भी निदेश दिया गया है कि कोरोना की जांच करने वाले लैब आईसीएमआर के निर्देशानुसार किसी भी व्यक्ति की जांच करने कर सकते हैं।

यह होगा फायदा
इससे सेल्फ स्क्रीनिंग बढ़ जाएगी। कई लोग संक्रमण के डर से अस्पताल जाने से कतराते हैं। ऐसे में उनमें कोरोना संक्रमण है तो वो बढऩे के बाद ही सामने आता है। अस्पताल जाने पर डॉक्टर कोरोना की जांच करवाएगा और मरीज जल्द पकड़ में आ जाएगा।

आज का अपडेट

मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस लगातार अपने पांव पसार रहा है। बीते 24 घंटों के दौरान शनिवार रात तक प्रदेश में कोरोना के 307 नए मामले सामने आए हैं। इसके बाद अब प्रदेश में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 14604 हो गई है। आपको बता दें कि, मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में शनिवार रात तक 34 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। जबकि, मरने वालों की संख्या सिर्फ इसी शहर में अब तक 241 हो चुकी है। वहीं, राजधानी भोपाल में बीते 24 घंटों के दौरान शनिवार रात तक 51 नए पॉजिटिव केस सामने आए। वहीं, शहर में अब तक 105 लोग अपनी जान गवा चुके हैं। हालांकि, प्रदेशभर में अब तक कोरोना से संक्रमित होकर जान गवाने वालों की संख्या 598 हो चुकी है।

0 Response to "खुश खबरीः अब फैमिली डॉक्टर से भी करा सकेंगे कोरोना टेस्ट, नहीं जाना पड़ेगा अस्पताल"

Post a Comment

Slider Post