Sushant Singh Rajput केस में 27 लोगों के बयान दर्ज, तेजस्वी ने CM नीतीश को चिट्ठी लिख कर की यह मांग

  • Sushant Singh Rajput Suicide Case: मुंबई पुलिस ने 27 लोगों के बयान दर्ज किए
  • मौत का कारण फांसी लगने के बाद सांस का रुक जान- पोस्टमार्ट रिपोर्ट
  • तेजस्वी यादव ( Tejashwi Yadav ) ने बिहार में फिल्म सिटी का नाम सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर रखने की मांग की

नई दिल्ली। एक्टर सुशांत सिंह राजूत ( Actor Sushant Singh Rajput ) केस में पुलिस जांच तेज हो गई है। जल्द से जल्द पुलिस इस आत्महत्या (Suicide) की गुत्थी को सुलझाने में जुटी है। सुशांत सिंह के परिजन और उनके फैंस खुदकुशी की सच्चाई जानना चाहते हैं। इसी कड़ी में मुंबई पुलिस ( Mumbai Police ) ने इस मामले में अब तक 27 लोगों के बयान दर्ज किए हैं। वहीं, RJD नेता तेजस्वी यादव ( Tejashwi Yadav ) ने बिहार के CM नीतीश कुमार ( Nitish Kumar ) को पत्र लिख कर राजगीर ( Rajgir ) में बन रहे फिल्म सिटी (Film City) का नाम सुशांत सिंह के नाम पर रखने के लिए कहा है।

27 लोगों के बयान दर्ज

मुंबई पुलिस ( Mumbai Police On Sushant Singh Suicide Case ) का कहना है कि सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या केस में अब तक 27 लोगों के बयान दर्ज हो चुके हैं। DCP अभिषेक त्रिमुखे ने बताया कि बांद्रा पुलिस जल्द से जल्द से इस केस की गुत्थी सुलझाने में जुटी है। उन्होंने कहा कि 27 लोगों के बयान दर्ज हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट हमें मिल चुकी है। रिपोर्ट के अनुसार, मौत का कारण फांसी लगने के बाद सांस का रुक जाना है। डीसीपी का कहना है कि इस केस की जांच हर एंगल से की जा रही है।

तेजस्वी ने CM नीतीश कुमार से की ये मांग

इधर, बिहार विधानसभा ( Vihar Vidhan Sabha ) के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ( Tejashwi Yadav ) ने सीएम नीतीश कुमार ( Nitish Kumar ) को एक पत्र लिखा है। उन्होंने मांग की है कि राजगीर में जो फिल्मी सीटी बन रही है, उसका नाम सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर रखा जाए। तेजस्वी ने अपने पत्र में लिखा कि सुशांत सिंह के निधन से पूरा देश दुखी है, मैं खुद भी दुखी हूं। तेजस्वी ने कहा कि सुशांत सिंह ने बहुत कम समय में कड़ी मेहनत करके बडा़ मुकाम हासिल किया था और बिहार का नाम पूरे देश में रोशन किया था। उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह से लोग काफी प्यार करते थे और कईयों के वह प्रेरणा थे। RJD नेता ने कहा कि बिहार की जनता चाहती है कि सुशांत की याद को हमेशा के लिए संजो कर रखा जाए। लिहाजा, फिल्म सिटी का नाम उनके नाम पर रखा जाए। उन्होंने कहा कि सुशांत को यही सच्ची श्रद्धांजलि होगी। हालांकि, बिहार सरकार की ओर से इस पत्र पर अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। यहां आपको बता दें कि कई लोगों का आरोप है कि यह आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या है। फिलहाल, इस हादसे की जांच चल रही है।

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

मंत्रिमंडल विस्तार / केंद्रीय नेतृत्व ने रिजेक्ट की शिवराज की लिस्ट; नए चेहरों को मंत्री बनाने के साथ नरोत्तम और तुलसी को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश / भाजपा के 13 वरिष्ठ विधायकों के मंत्री बनने पर असमंजस बरकरार, गोपाल भार्गव बोले- कांग्रेस ने भी यही गलती की थी

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

TATA Consulting Engineers Limited Hiring|BE/B.Tech Civil Engineer

मप्र / 1 जुलाई को भी मंत्रिमंडल विस्तार के आसार नहीं, नए चेहरों में भोपाल से रामेश्वर, विष्णु खत्री, इंदौर से ऊषा, मालिनी और रमेश के नाम चर्चा में

India News