मोदी की स्पीच के बाद राहुल का शेर / तू इधर-उधर की न बात कर, ये बता कि काफिला कैसे लुटा; सुषमा ने भी कभी मनमोहन के लिए संसद में यही शेर पढ़ा था


  • राहुल ने सोमवार को कहा था कि सरकार को पेट्रोल-डीजल से मुनाफाखोरी बंद करनी चाहिए। (फाइल फोटो)राहुल ने सोमवार को कहा था कि सरकार को पेट्रोल-डीजल से मुनाफाखोरी बंद करनी चाहिए। (फाइल फोटो)

  • इस ट्वीट से पहले राहुल ने कहा था- कोरोना से सबसे ज्यादा नुकसान गरीबों को, सरकार न्याय योजना जैसी स्कीम लाए
  • राहुल बोले- सरकार कहती है कि पैसे नहीं हैं, दूसरी तरफ बड़े उद्योगपतियों का टैक्स माफ कर देती है
  • चीन से इंपोर्ट के मुद्दे पर कहा- भाजपा मेक इन इंडिया की बात करती है, लेकिन माल चीन से खरीदती है

नई दिल्ली. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्र के नाम संदेश के बाद एक शायराना ट्वीट किया। उन्होंने किसी का नाम तो नहीं लिया, लेकिन माना जा रहा है कि यह उनकी ओर से सरकार पर किया गया तंज है।

स्वर्गीय सुषमा स्वराज ने कभी इसी शेर से मनमोहन पर कटाक्ष किया था
यूपीए की सरकार के समय जब एक के बाद एक घोटाले सामने आ रहे थे, तब लोकसभा में विपक्ष की नेता के पद पर रहते हुए सुषमा स्वराज ने तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के लिए भी यही शेर पढ़ा था कहा था, ‘‘तू इधर-उधर की बात न कर, ये बता कि काफिला क्यों लुटा? मुझे रहजनों से गिला नहीं, तेरी रहबरी का सवाल है।’’

मनमोहन ने भी सुषमा को शायरी से ही जवाब दिया था

कुछ दिनों बाद इसी शेर को आगे बढ़ाते हुए मनमोहन के लिए कहा था, ‘‘मैं बताऊं कि काफिला क्यों लुटा, तेरा रहजनों (लुटेरों) से वास्ता था और इसी का हमें मलाल है।’’

राहुल ने इससे पहले प्रधानमंत्री को सुझाव दिया था

राहुल ने इससे पहले मंगलवार को ही कोरोना और अर्थव्यवस्था को लेकर मोदी को सुझाव दिए। राहुल ने कहा कि कोरोना ने अर्थव्यवस्था को जबरदस्त चोट पहुंचाई है। इससे सबसे ज्यादा नुकसान गरीबों, मजदूरों और मध्यमवर्ग को पहुंचा। राहुल ने कहा कि इनके लिए सरकार न्याय योजना जैसी एक स्कीम लेकर आए। यह ज्यादा लंबी ना हो, 6 महीने के लिए हो। इसके तहत हर गरीब परिवार के खाते में 7 हजार 500 रुपए हर महीने डाले जाएं।

राहुल ने कहा कि इससे डिमांड बढ़ेगी और अर्थव्यवस्था फिर रास्ते पर आ जाएगी। हालांकि, सरकार इससे तीन-चार बार इनकार कर चुकी है। उसका कहना है कि पैसा नहीं है, लेकिन मैं याद दिला दूं कि सरकार ने 15 बड़े उद्योगपतियों का लाखों करोड़ों का टैक्स माफ कर दिया।

राहुल ने चीन से इंपोर्ट के मुद्दे पर भी सरकार को घेरा
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने चीन से इंपोर्ट के मुद्दे पर सरकार को घेरा है। उन्होंने मंगलवार को कहा कि भाजपा मेक इंडिया की बात करती है, लेकिन सामान चीन से खरीदती है। राहुल ने ट्विटर पर दो ग्राफ शेयर किए हैं जिनमें मनमोहन और मोदी सरकार के समय चीन से इंपोर्ट का प्रतिशत बताया है। उन्होंने कहा है कि आंकड़े झूठे नहीं होते।

चीन की घुसपैठ पर भी राहुल ने मोदी पर सवाल उठाए थे
मेक इन इंडिया अभियान को लेकर राहुल पहले भी सरकार पर हमला कर चुके हैं। उन्होंने इस अभियान को फेल बताया था। चीन के मुद्दे पर राहुल मोदी सरकार के खिलाफ लगातार बयानबाजी कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया था कि प्रधानमंत्री सेना की बजाय चीन को सपोर्ट कर रहे हैं? चीन हमारी सीमा में घुसने के बावजूद इस बात से मुकर गया और प्रधानमंत्री खुल्लम खुल्ला उसका समर्थन कर रहे हैं।

राहुल ने यह बात मोदी के उस बयान के रेफरेंस में कही जो उन्होंने सर्वदलीय बैठक में दिया था। मोदी ने कहा था, 'कोई हमारी सीमा में नहीं घुसा, ना ही हमारी कोई पोस्ट किसी के कब्जे में है।' इस बयान को मुद्दा बनाकर कांग्रेस ने कहा कि अगर ऐसा है तो फिर चीन से बातचीत क्यों चल रही थी? इस सवाल के बाद प्रधानमंत्री ऑफिस ने सफाई जारी की थी। उसने कहा कि मोदी का बयान 15 जून को गलवान में हुई झड़प के बारे में था। उनका कहने का यह मतलब था कि उस दिन हमारे सैनिकों ने चीन की घुसपैठ की कोशिश नाकाम कर दी थी।

भाजपा ने सोनिया से पूछा- कांग्रेस का चीन से क्या रिश्ता है?
राहुल के आरोपों के बीच भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पिछले हफ्ते प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि गांधी परिवार के राजीव गांधी फाउंडेशन को 2005 से 2009 तक चीन से डोनेशन मिली थी। उन्होंने सोनिया गांधी से सवाल किया था कि कांग्रेस और चीन की कम्युनिस्ट पार्टी का संबंध क्या है?

सरकार के खिलाफ राहुल के बयानों से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ सकते हैं...

1. राहुल गांधी ने कहा- सरकार पेट्रोल-डीजल से मुनाफाखोरी बंद करे; सोनिया बोलीं- रेट बढ़ाने का फैसला वापस लिया जाए

2. गलवान झड़प पर सियासत: राहुल ने पूछा- हमारे सैनिकों को मारने वाले, हमारी जमीन लेने वाले चीन का मीडिया मोदी की तारीफ क्यों कर रहा है?

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता