-->
मध्य प्रदेश / मुख्यमंत्री शिवराज दिल्ली रवाना हुए, मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर केंद्रीय नेतृत्व से बातचीत करेंगे

मध्य प्रदेश / मुख्यमंत्री शिवराज दिल्ली रवाना हुए, मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर केंद्रीय नेतृत्व से बातचीत करेंगे


  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान।- फाइल फोटोमुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत स्टेट प्लेन से दिल्ली गए
  • देर शाम से ही उनका वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात का सिलसिला शुरू हो जाएगा, मुख्यमंत्री के सोमवार शाम दिल्ली से वापस लौटने की संभावना


भोपाल. प्रदेश में बहुप्रतीक्षित मंत्रिमंडल विस्तार जल्द होने की खबरों के बीच रविवार दोपहर बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत स्टेट प्लेन से दिल्ली रवाना हो गए। वहां वे केंद्रीय नेतृत्व से मुलाकात करेंगे। देर शाम से ही उनका वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात का सिलसिला शुरू हो जाएगा, जो कल तक चलेगा। मुख्यमंत्री के सोमवार शाम दिल्ली से वापस लौटने की संभावना है।

राज्य में मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर काफी दिनों से कवायद चल रही है। नए मंत्रियों के नामों को लेकर वरिष्ठ नेताओं के बीच सहमति बनाने और केंद्रीय नेतृत्व को विश्वास में लेने के लिए मुख्यमंत्री का दिल्ली दौरा काफी दिनों से टल रहा था। माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री के दिल्ली से लौटने के बाद राज्य में तीन माह से ज्यादा पुरानी सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार हो जाएगा।

23 मार्च को शपथ ली थी
राज्य में मार्च माह के राजनैतिक घटनाक्रमों के चलते वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस का साथ छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया था और उनके समर्थक 22 विधायकों ने भी विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने 20 मार्च को पद से इस्तीफा दे दिया था और 23 मार्च को शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।

29 मंत्री और बनाए जा सकते हैं

एक माह बाद अप्रैल में पांच मंत्रियों को शपथ दिलाकर मुख्यमंत्री ने मंत्रिमंडल का गठन किया। इसके बाद मंत्रिमंडल का विस्तार होना था, लेकिन वह विभिन्न कारणों से लगातार टल रहा था। अब माना जा रहा है कि शीघ्र ही मंत्रिमंडल का विस्तार हो जाएगा। विधानसभा में सदस्यों की संख्या के हिसाब से राज्य में अधिकतम 35 मंत्री हो सकते हैं, जिनमें मुख्यमंत्री भी शामिल हैं। इस तरह की मुख्यमंत्री अधिकतम 29 और लोगों को मंत्री बना सकते हैं। मंत्रिमंडल विस्तार में ज्योतिरादित्य सिंधिया की राय को तवज्जो और उनके समर्थकों को भी पर्याप्त प्रतिनिधित्व दिए जाने की पूरी संभावना है।

0 Response to "मध्य प्रदेश / मुख्यमंत्री शिवराज दिल्ली रवाना हुए, मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर केंद्रीय नेतृत्व से बातचीत करेंगे"

Post a Comment

Slider Post