भाजपा की तैयारी नारायण से लिया सबक कमजोर कड़ियों पर नजर



फ्लोर टेस्ट के लिए भाजपा अपने विधायकों को कड़े पहरे में लेकर आएगी 16 मार्च को विधानसभा सत्र के पहले दिन नारायण त्रिपाठी के पाला बदलने से पार्टी को बड़ा झटका लगा है ऐसे में पार्टी की नजर अब उन विधायकों पर है जो फ्लोर टेस्ट में उसके लिए कमजोर कड़ी साबित हो सकते हैं सीहोर में रुके विधायकों से चर्चा के दौरान गुरुवार को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा ने ऐसे विधायकों से खासतौर पर चर्चा की उन्होंने बताया कि सरकार बनने पर उनका विशेष ध्यान रखा जाएगा इसलिए वे दूसरा कदम नहीं उठाए

भाजपा की तैयारी -
भाजपा ने पांच ऐसे विधायक तलाशी हैं जिन पर उन्हें डर है कि वे आखिरी वक्त पर पाला बदल सकती हैं पार्टी विधायकों को व्हिप जारी कर चुकी है लेकिन नियम के अनुसार अगर कोई विधायक फ्लोर टेस्ट के दौरान क्रॉस वोटिंग करता है तो उसका वह तो गिना जाएगा लेकिन बाद में उसकी सदस्यता चली जाएगी ऐसे में पार्टी ने 10 पूर्व मंत्रियों के साथ संगठन के बड़े नेताओं को इन विधायकों के बीच लगा दिया है विधानसभा में शिवराज सिंह चौहान गोपाल भार्गव और नरोत्तम मिश्रा पूरी टीम को लीड करेंगे

Comments

Popular posts from this blog

कोरोना का खौफ : भारत की सबसे बड़ी देहमंडी में पसरा सन्नाटा

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

Janta Curfew के बीच कोरोना के डर से युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- सभी अपना टेस्ट कर लेना