Skip to main content

मुस्लिम परिवार की इन 5 बॉलीवुड हसीनाओं ने नाम बदलकर हासिल की इंडस्ट्री में जीत

बॉलीवुड फिल्मों की कामयाबी में जितना श्रेय हीरो का रहा है उतना ही बॉलीवुड की हसीनाओं का भी रहा है। लेकिन यहां आज हम उन बॉलीवुड हसीनाओं की बात करेंगे जिन्होंने नाम बदलकर ही नाम कमाया है




















 सितारों और बॉलीवुड फिल्मों का बोलबाला है। आज वो दौर है जब फिल्मों में हीरो और हीरोइन दोनों को ही बराबर का दर्जा मिलता है। आज हमारी एक्ट्रेस किसी भी हीरो से पीछे नहीं हैं। अपनी कड़ी मेहनत से बॉलीवुड की हसीनाओं ने दर्शकों के दिलों में अपनी खास जगह बनाई है। इतना ही नहीं शोहरत पाने के लिए कुछ एक्ट्रेस तो अपना नाम तक बदल चुकी हैं। आज की इस खास स्टोरी में हम आपको ऐसी ही कुछ एक्ट्रेस के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने अपना नाम बदलकर नाम कमाया है।

alia bhatt
बहुत ही कम समय में बॉलीवुड में अपनी खास पहचान बनाने वाली महेश भट्ट की लाडली यानि आलिया भट्ट मूल रूप से एक मुस्लिम खानदान से ताल्लुक रखती हैं। जी हां आपको जानकर हैरानी होगी कि आलिया भट्ट के दादा का नाम शिरीन मोहम्मद अली था। लेकिन आज वो आलिया भट्ट के नाम से मशहूर हो चुकी हैं।

tabu
बॉलीवुड की बेहतरीन एक्ट्रेस तब्बू ने हाल ही में अपना 49वां जन्मदिन मनाया था। तब्बू भी एक मुस्लिम परिवार से ही हैं, लेकिन उनका असली नाम बहुत ही कम लोगों को पता है। तबु का असली नाम तब्बसुम फातिमा हाशमी है। तबू को बॉलीवुड में लगभग 37 साल हो चुके हैं उन्होंने 1985 में फिल्म ‘हम नौजवान’ से अपने फिल्मी सफर की शुरुआत की थी, जिसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

reena roy
आपको 70 और 80 के दशक की बेहतरीन एक्ट्रेस रीना रॉय को याद ही होंगी। उनके नाम से ये अंदाजा नहीं लगाया जा सकता कि वो एक मुस्लिम परिवार से ताल्लुक रखती हैं। आपको बता दे कि, रीना का असली नाम सायरा अली है। उन्होंने फिल्म 'जरूरत' से 1972 में बॉलीवुड में डेब्यू किया था। बॉलीवुड में कदम रखते के साथ ही उन्होंने अपना नाम बदलकर रीना रॉय रख लिया।

madhubala
इस लिस्ट में मधुबाला का नाम शामिल ना हो ये तो हो ही नहीं सकता। अपनी खूबसूरती और अदाकारी से लाखों दिलों पर राज करने वाली मधुबाला का असली नाम मुमताज बेगम था। मधुबाला दिल्ली के एक मुस्लिम परवार से संबध रखती थी। उन्होंने साल 1947 में फिल्म 'नीलकमल' से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा।

manyata dutt

यहा संजू बाबा यानि संजय दत्त की पत्नि मान्यता दत्त का नाम भी शामिल है। कुछ ही लोगों को ये बात पता है कि मान्यता का असली नाम दिलनवाज शेख है। खबरों की माने तो जब मान्यता बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत करने जा रही थी तबी उन्होंने अपना नाम बदलकर मान्यता रख लिया था।

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

ग्वालियर - बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता शातिर चोर पकडे 10 लाख का माल बरामद। महाराजपुरा पुलिस ने दबिश देकर पकड़ा चोरों का ग्रुप महाराजपुरा थाना प्रभारी मिर्ज़ा आसिफ बेग और उनकी टीम के द्वारा कार्यवाही की गई। महराजपुरा टीम को बड़ी सफलता हासिल हुई।  10 लाख का माल भी बरामद किया गया।  महाराजपुर टीआई मिर्जा बेग ने बताया चोरों से 6 एलसीडी 8 लैपटॉप दो होम थिएटर 6 मोबाइल फोन एक स्कूटी टेबल फैन सिलेंडर बरामद हुआ है उनसे करीब 4 चोरियों का खुलासा हुआ है करीब 10 चोरियां कि गिरोह ने हामी भरी है 

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

कोरोना की स्थिति गंभीर होने पर कई राज्यों में फिर लॉकडाउन की स्थिति, सभी सीमाएं भी की जा रही हैं सील...। भोपाल। मध्यप्रदेश समेत पांच राज्य एक बार फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहे हैं। मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ते मामलों के बाद रविवार को पूरे प्रदेश में लॉकडाउन (Complete Lockdown) लगाया जा रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Covid 19) की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्र ने तय किया है कि अब सप्ताह में एक दिन रविवार को पूरा प्रदेश बंद रहेगा। उधर, मध्यप्रदेश के अलावा बिहार, उत्तरप्रदेश में भी लाकडाउन के आदेश जारी कर दिए गए हैं।   मध्यप्रदेश में पिछले तीन दिनों में 11 सौ से अधिक संक्रमित मरीज मिलने और जबकि 409 एक ही दिन में संक्रमित मिलने के बाद यह फैसला लिया जा रहा है इस दौरान प्रदेश की सीमाएं भी सील की जा सकती है। सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं ही चलती रहेंगी। गृह विभाग के बाद भोपाल समेत सभी जिलों के कलेक्टर अपने-अपने जिले के लिए एडवायजरी (Advisery'guideline) जारी कर रहे हैं।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र के मुताबिक इस सप्ताह में एक दिन का लाकडाउन ही