Skip to main content

Posts

Showing posts from March, 2020

सरकार की नजर 6 जिलों पर, बाहर न निकलने पाए संक्रमण

इन जिलों से विशेष परिस्थितियों में ही निकल पाएंगे बाहर भोपाल। मध्यप्रदेश मे अब तक 52 में से 6 जिलों में ही कोरोना संक्रमित मरीज सामने आए हैं। इसमें भी चार महानगर है। ये राहत देेने वाली खबर है कि प्रदेश के छोटे जिलों और कस्बे कोरोना से अछूते हैं। ऐसे में सरकार ने अब कोरोना संक्रमण की जद में आए जिलों को ही पूरी तरह से आइसोलेट करने का मन बनाया है। इन जिलों से लोग दूसरे शहरो में बिना जांच के न जा पाए इसके लिए बार्डर पर पूरी जांच की जा रही है। वहीं सरकार ने अब इन जिलों में आवागमन के लिए लोगों को सिर्फ 3 कैटेगरी में पास बनाने का निर्णय लिया है। जिसमें मेडिकल इमरजेंसी सेवा, मृत्यु होने पर और अत्यावश्यक सेवा व व्यवस्था को शामिल किया गया है। सरकार ने इन जिलों की सीमा से सटे जिलों के कलेक्टरों से भी इस बात पर निगाह रखने को कहा है कि बिना लोग यहां से बिना जांच के परिवहन न करें और संक्रमण पड़ौसी जिलों में न फैल पाए। -- इन जिलों में हैं मरीज- भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, शिवपुरी, उज्जैन

शिवराज_मंत्रिमंडल का जल्द होगा विस्तार

#शिवराज_मंत्रिमंडल का जल्द होगा #विस्तार: डॉ. नरोत्तम मिश्रा एवं तुलसी सिलावट बनेंगे उप मुख्यमंत्री, दो दर्जन से अधिक मंत्रियों को दिलाई जाएगी शपथ…! ●शिवराज सिंह चौहान द्वारा चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के साथ ही मंत्रिमंडल विस्तार की कवायद शुरू हो गई है। मंत्रिमंडल में काफी सोच समझकर मौका दिया जाएगा। सूत्रों का कहना है कि समीकरणों को साधने के लिए इस बार मंत्रिमंडल में दो उप मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। वहीं करीब दो दर्जन से अधिक विधायकों को मंत्री बनाया जाएगा इसके लिए आलाकमान के साथ चर्चा का दौर चल रहा है। वर्तमान राजनीतिक समीकरणों को देखते हुए इस बार डा.नरोत्तम मिश्रा व तुलसी सिलावट को उप मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। कांग्रेस सरकार गिराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्रियों को भी मंत्रिमंडल में मौका मिलना तय है। यही नहीं कांग्रेस से भाजपा में आए वरिष्ठ आदिवासी विधायक बिसाहूलाल सिंह, एदल सिंह कंसाना और हरदीप सिंह डंग को भी मंत्रिमंडल में लिया जाना तय है।  ●सिंधिया से भी ली जाएगी सलाह.... मंत्रिमंडल के गठन के लिए मुख्यमंत्री शिवराज

अमरीका: राष्ट्रपति ट्रंप ने चीन को लगाई फटकार, कहा- Coronavirus को लेकर दुनिया को धोखे में रखा

HIGHLIGHTS: अमरीका में अब तक 340 की मौत चीन में 3200 से अधिक की मौत दुनियाभर में अब तक 14 हजार से अधिक की मौत वाशिंगटन। महामारी बन चुके कोरोना वायरस से पूरी दुनिया में अब तक 14 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 3 लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं। अब इस वायरस से बढ़ते खतरे के बीच अमरीका और चीन में फिर से टकराव बढ़ने की स्थिति नजर आ रही है। दरअसल, अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को लताड़ लगाई है। ट्रंप ने आरोप लगाया है कि चीन ने कोरोना वायरस के प्रकोप को लेकर दुनिया से जानकारी छिपाई और धोखे में रखा। ट्रंप ने कहा कि यदि बीजिंग पहले से ही चेतावनी दे देता तो अमरीका और पूरी दुनिया सजग और बेहतर तरीके से इस वायरस से लड़ने के लिए तैयार रहती। ट्रंप ने उन सभी रिपोर्टों का खंडन किया, जिनमें कहा गया था कि जनवरी और फरवरी में अमरीकी खुफिया रिपोर्टों ने एक आने वाली महामारी की चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा कि अमरीका को इस प्रकोप के बारे में तब तक नहीं पता था जब तक कि वह सार्वजनिक रूप से बाहर नहीं आना शुरू हुआ। उन्होंने कहा कि इस वायरस से किसी को कोई फायदा नहीं हुआ है।

Reliance ने बनाया कोरोना के लिए पहला डेडीकेटेड हॉस्पिटल, महामारी से जंग में उठाए और भी कदम

CORONA से जंग में मिला रिलायंस का साथ कंपनी ने सामने रखा एक्शन प्लान बनाया देश का पहला 100 बेड वाला कोरोना डेडीकेटेड हॉस्पिटल खाने से लेकर फ्यूल तक का उठाएगा खर्च CSR के तहत होगी सारी गतिविधियां नई दिल्ली : कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में रिलायंस इंडस्ट्रीज ( Reliance ) ने भी हाथ बढ़ा दिया है। कंपनी ने इस महामारी के खिलाफ जंग में अपनी भूमिका को स्पष्ट करते हुए पूरा विस्तृत एक्शन प्लान सामने रखा है। खास बात ये है कि इस एक्शन प्लान में रिलायंस ग्रुप की सभी कंपनीज रिलायंस फाउंडेशन, रिलायंस रिटेल, जियो, रिलायंस लाइफ साइंसेज की भूमिका को तय किया गया है। तैयार किया पहला कोरोना डेडीकेटेड हॉस्पिटल- रिलायंस कंपनी ने देश का पहला COVID—19 यानि कोरोना मरीजों के लिए एक डेडिकेटेड हॉस्पिटल तैयार किया है। BMC के साथ मिलकर ये हॉस्पिटल 7 हिल्स हॉस्पिटल, मुंबई में बनाया गया है। रिलायंस का ये हॉस्पिटल हर लिहाज से कोरोना के लिए जरुरी मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे वेंटिलेटर्स, पेसमेकर्स, डायलिसिस मशीन और पेशेंट मॉनिटरिंग डिवाइसेज से लैस है। इसके अलावा आइसोलेशन वार्ड भी तैयार किये ग

Senetizer , Mask मार्केट में नहीं मिलने पर आप ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं

कोरोना का डर...सिर्फ खांसी आई तो सहयात्री ने कर की कोरोना संदिग्ध होने की शिकायत

-रात में ट्रेन से उतारे गए यात्री में नहीं मिले लक्षण, जांच के बाद भेज वापस -कोरोना को लेकर जिला अस्पताल में शुरू होगा कंट्रोल रूम -जिला अस्पताल में कोरोना संदिग्ध मरीज को लेकर फिर की मॉक ड्रिल खंडवा. कोरोना वायरस के देश में बढ़ते प्रकोप से दशहत भी फैलने लगी है। लोग अपने आसपास बाहर से आने वालों को संदिग्ध नजर से देख रहे हैं। वहीं, ट्रेनों में भी कोरोना को लेकर पैनिक बढ़ता जा रहा है। शनिवार की रात ट्रेन में सफर कर रहे यात्री को खांसी आई तो सहयात्री ने उसके कोरोना वायरस से संदिग्ध होने की शिकायत आरपीएफ, जीआरपी को कर दी। आधी रात को जीआरपी ने यात्री को ट्रेन से उतारा व जांच के लिए जिला अस्पताल भेजा। यहां यात्री की जांच में कोरोना के कोई लक्षण नहीं मिले। रात 2 बजे करीब जीआरपी को सूचना मिली थी कि स्वर्ण जयंती एक्सप्रेस के एसी कोच में गोवा से एक कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज सफर कर रहा है। जिसके बाद जीआरपी और आरपीएफ सक्रिय हुई और ट्रेन के स्टेशन पहुंचते ही यात्री को ट्रेन से उतारा। यहां से डॉक्टर्स की टीम उक्त यात्री को लेकर जिला अस्पताल पहुंची। यहां पर जिला महामारी अधिकारी डॉ

Janta Curfew के बीच कोरोना के डर से युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- सभी अपना टेस्ट कर लेना

Highlights - हापुड़ जिले के पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र की घटना - एक हफ्ते से बुखार और गले में दर्द से पीड़ित था युवक - कोरोना वायरस के बीच युवक के सुसाइड से हड़कंप हापुड़. देशभर में जहां आज यानी रविवार को कोरोना वायरस के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर जनता कर्फ्यू लगा हुआ है। इसी बीच खुद को कोरोना होने के शक में हापुड़ में एक युवक ने सुसाइड कर लिया है। बताया जा रहा है कि पिछले एक हफ्ते से युवक बुखार और गले में दर्द से पीड़ित था। युवक ने सुबह ब्लेड से अपनी गर्दन काट ली, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। दरअसल, मूलत: बागपत का रहने वाला सुशील परिवार समेत तीन साल से हापुड़ जिले के पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र में रह रहा था। वह पिलखुवा में ही सैलून चलाता था। बताया जा रहा है कि पिछले एक हफ्ते से युवक को बुखार और गले में दर्द की शिकायत थी। इन्हीं लक्षणों को कोरोना वायरस का असर समझकर वह काफी परेशान चल रहा था। काफी उपचार के बाद भी जब उसे राहत नहीं मिली तो रविवार सुबह करीब 11 बजे उसने अपने हाथ की नस और गर्दन ब्लेड से काट ली, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना सूचना के बाद मौक पर

Coronavirus: रेल मंत्रालय का सबसे बड़ा फैसला, 31 मार्च तक बंद हुई सभी ट्रेनें

Coronavirus 31 मार्च तक बंद रहेंगी सभी ट्रेनें सभी लंबी दूरी और एक्स्प्रेस ट्रेनें अगले 24 घंटे में बद कर दी जाएंगी कोरोनावायरस के कम्युनिटी स्प्रेड को रोकने के लिए उठाया कदम नई दिल्ली। कोरोनावायरस ( Coronavirus ) का खतरा तेजी से बढ़ता जा रहा है। इस बीच रेल मंत्रालय ने बड़ा फैसला लिया है। 31 मार्च तक के लिए सभी ट्रेनें बंद रखने को फैसला लिया गया है। आपको बता दें कि सभी लंबी दूरी और एक्स्प्रेस, इंटरसिटी समेत तमाम ट्रेनें बंद कर दी गई हैं। रेल मंत्रालय की जारी जानकारी के मुताबिक 31 मार्च रात 12 बजे तक के लिए सभी ट्रेनों को बंद करने का फैसला लिया गया है। इसके अलावा 22 मार्च तक कोलकाता की ट्रामा ट्रेन समेत मेट्रो ट्रेनों को भी बंद करने का निर्णय लिया गया है। दुनिया के साथ-साथ देशभर में भी इस जानलेवा संक्रमण से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। भारत में अब तक 334 लोगों में इस संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। वहीं देश में कोरोना के चलते मरने वालों की संख्या बढ़कर 6 पर पहुंच गई है। महाराष्ट्र ( Maharashtra ) में दूसरी मौत कोरोनावायरस के चलते सामने आई है। यह

#मध्यप्रदेश/#मुख्यमंत्री पद के लिये #बीजेपी में #खींचतान

भोपाल । मुख्यमंत्री कमलनाथ के इस्तीफे के साथ ही भाजपा में नई सरकार के गठन की सुगबुगाहट शुरू हो गई है। सरकार बनने की स्थिति में बतौर मुख्यमंत्री उसका नेतृत्व कौन करेगा, इसे लेकर खींचतान शुरू हो गई है। फिलहाल सारे मोर्चो पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान नेतृत्व कर रहे हैं, लेकिन अगला सीएम कौन होगा, इसे लेकर भाजपा नेतृत्व ने पत्ते नहीं खोले हैं। पार्टी नेताओं का कहना है कि नेतृत्व का फैसला हाईकमान ही करेगा। संभावित भाजपा सरकार में मंत्री पद के लिए भी दावेदारों के बीच जोर-आजमाइश शुरू हो जाएगी। सिंधिया गुट के जिन 22 विधायकों ने इस्तीफे दिए हैं, उनमें से भी कुछ को मंत्री बनाया जा सकता है। हालांकि उन्हें छह माह में विधानसभा उपचुनाव जीतना होगा, तभी मंत्री पद कायम रह सकेगा। पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा कांग्रेस का दामन छोड़ने के बाद ये तय माना जा रहा है कि अब प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी। तोमर, मिश्रा, सिंह भी रेस में भाजपा की तरफ से अभी मुख्यमंत्री पद के चार दावेदार सक्रिय हैं। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को तो सीएम पद का दावेदार माना ही जा र

मध्य प्रदेश कांग्रेस का ट्वीट कांग्रेस की धमकी ,15 अगस्त को कमलनाथ फहराएंगे झंडा

कमलनाथ सरकार के गिरते ही मध्य प्रदेश कांग्रेस के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर किया गया एक ट्वीट सियासी घटनाक्रम को दोहराने की ओर इशारा कर रहा है एमपी कांग्रेस ने लिखा 15 अगस्त 2020 को कमलनाथ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर ध्वजारोहण करेंगे यह बेहद अल्प विश्राम है आगे लिखा इस ट्वीट को संभाल कर रखना अब इस ट्वीट पर सवाल खड़े होने लगे हैं इसे धमकी माना जाए या कांग्रेस की तैयारी लेकिन कांग्रेस के अंदर खाने में कुछ तो पक रहा है सवाल यह भी है कि क्या प्रदेश की सियासत में एक बार फिर यही घटनाक्रम दौरानी की बात की जा रही है कांग्रेस को अब इंतजार 24 सीटों पर है जो उपचुनावों का है जिनके कारण सरकार औंधे मुंह गिर गई शिवराज की ताजपोशी पर बनेगा रिकॉर्ड यदि शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री बने तो यह राज्य में रिकॉर्ड होगा कि लगातार तीन बार मुख्यमंत्री बनने का रिकॉर्ड शिवराज के नाम पहले से अब तक अर्जुन सिंह और श्यामाचरण शुक्ल तीन तीन बार मुख्यमंत्री रहे हैं राज्य में अभी तक चार बार सीएम कोई नहीं बन सका कमलनाथ ने खाली किया सीएम ऑफिस इस्तीफा देने के बाद कमलनाथ ने सीएम ऑफिस से सामान बुलवा लिय

निर्भया केसः तिहाड़ जेल में चारों दोषियों को दी गई फांसी, देश में जश्न का माहौल

Nirbhaya Gang Rape Case: निर्भया की मां को मिला इंसाफ चारों दोषियों को सूली पर लटकाया गया 7 साल बाद निर्भया को मिला इंसाफ नई दिल्ली। लंबा संघर्ष और तारीख पर तारीख मिलने के बाद आखिरकार निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya Gang Rape Case ) के चारों दोषियों को फांसी दे दी गई। ठीक साढे 5 बजे चारों दोषियों को फांसी के फंसे पर लटकाया गया। तिहाड़ जेल के डॉयरेक्टर संदीप गोयल ने चारों दोषियों की फांसी के फंदे पर लटकाने की पुष्टि की। दोषी अक्षय कुमार, मुकेश सिंह, पवन गुप्ता और विनय शर्मा को फांसी के फंदे पर लटका दिया गया। तिहाड़ जेल के बाहर इस समय जश्न का माहौल बना हुआ है। देर रात सुप्रीम कोर्ट से दोषियों की याचिका खारिज होने के बाद चारों गुनहगारों को जल्लाद पवन ने सूली पर लटकाया। Live Updates: - निर्भया की मां ने न्यायापालिका और सरकार को धन्यवाद दिया - निर्भया की मां ने कहा- सात साल बाद आखिरकार मिला इंसाफ - तिहाड़ के डायरेक्टर संदीप गोयल ने चारों दोषियों की फांसी देने की पुष्टि की - चारों दोषियों को फांसी दी गई - जल्लाद ने फंदे की गाठ को चेक किया - जल्लाद ने फांसी का फंदा द

भाजपा की तैयारी नारायण से लिया सबक कमजोर कड़ियों पर नजर

फ्लोर टेस्ट के लिए भाजपा अपने विधायकों को कड़े पहरे में लेकर आएगी 16 मार्च को विधानसभा सत्र के पहले दिन नारायण त्रिपाठी के पाला बदलने से पार्टी को बड़ा झटका लगा है ऐसे में पार्टी की नजर अब उन विधायकों पर है जो फ्लोर टेस्ट में उसके लिए कमजोर कड़ी साबित हो सकते हैं सीहोर में रुके विधायकों से चर्चा के दौरान गुरुवार को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा ने ऐसे विधायकों से खासतौर पर चर्चा की उन्होंने बताया कि सरकार बनने पर उनका विशेष ध्यान रखा जाएगा इसलिए वे दूसरा कदम नहीं उठाए भाजपा की तैयारी - भाजपा ने पांच ऐसे विधायक तलाशी हैं जिन पर उन्हें डर है कि वे आखिरी वक्त पर पाला बदल सकती हैं पार्टी विधायकों को व्हिप जारी कर चुकी है लेकिन नियम के अनुसार अगर कोई विधायक फ्लोर टेस्ट के दौरान क्रॉस वोटिंग करता है तो उसका वह तो गिना जाएगा लेकिन बाद में उसकी सदस्यता चली जाएगी ऐसे में पार्टी ने 10 पूर्व मंत्रियों के साथ संगठन के बड़े नेताओं को इन विधायकों के बीच लगा दिया है विधानसभा में शिवराज सिंह चौहान गोपाल भार्गव और नरोत्तम मिश्रा पूरी टीम को लीड क

कमलनाथ ने कहा शिवराज की गुगली मुझे बोल्ड नहीं कर सकती

कमलनाथ ने कहा शिवराज की गुगली मुझे बोल्ड नहीं कर सकती फैसले के बाद कांग्रेस ने प्लान A के साथ प्लान B तैयार कर लिया है गुरुवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ से मिलने के लिए सभी मंत्री पहुंचे । सीएम ने मंत्रियों के साथ बैठक कर रणनीति बनाई होटल में ठहरे कांग्रेसी विधायकों के बीच केंद्रीय पर्यवेक्षक हरीश रावत और पवन बंसल की ड्यूटी लगाई है सरकार इस मामले में रिव्यू याचिका भी दाखिल कर सकती है कमलनाथ ने कहा शिवराज सिंह चौहान ने जो गुगली की है वह बाइटबॉल होगी कोई भी गुगली मुझे गोल्ड नहीं कर सकती बागी विधायक हमारे संपर्क में है भाजपा विधायक भी मिलती रहते हैं प्लान A - प्लान  के तहत 92 कांग्रेसी विधायक चार निर्दलीय विधायक दो बसपा और एक सपा विधायक को एकजुट रखना है इस तरह सरकार समर्थित विधायकों की संख्या 99 हो जाएगी सरकार को भरोसा है कि भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी भी उनको समर्थन करेंगे इस तरह कांग्रेसो के नंबर पर आकर खड़ी हो जाएगी। प्लान B -  इसमें भाजपा की कमजोर कड़ियों को लक्ष्य बनाया गया है इसकी जिम्मेदारी मंत्रियों को सौंपी है सूत्रों की मानें तो भाजपा के चार से पांच विधायक

मध्यप्रदेश पर 'सुप्रीम' फैसला, शुक्रवार को बहुमत साबित करें कमलनाथ सरकार

मध्यप्रदेश पर 'सुप्रीम' फैसला, शुक्रवार को बहुमत साबित करे कमलनाथ सरकार नई दिल्ली/भोपाल. सुप्रीम कोर्ट ने मध्यप्रदेश में जारी घमासान के बीच कमलनाथ सरकार को कल ( शुक्रवार ) बहुमत साबित करने को कहा है। इससे पहले सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने एक सख्त टिप्पणी की थी। शिवराज सिंह चौहान की याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि हम चाहते हैं कि खरीद-फरोख्त ना हो इसके लिए जल्द फ्लोर टेस्ट होना चाहिए। वीडियो रिकॉर्डिंग होगी सुप्रीम कोर्ट ने इस दौरान अपने आदेश में कहा कि सदन में हाथ उठाकर वोटिंग होगी और इस पूरी प्रक्रिया की वीडियो रिकॉर्डिंग की जाएगी। फ्लोर टेस्ट शाम पांच बजे से पहले पूरा करना होगा कोर्ट ने अपने फैसले में क्या निर्देश दिये हैं 20 मार्च ( शुक्रवार ) को कराया जाए फ्लोर टेस्ट सदन की कार्यवाही का लाइव टेलिकास्ट हो सदन में शांतिपूर्ण मतदान हो हाथ उठाकर सदस्य मतदान करें कार्यवाही की वीडियोग्राफी करायी जाए शाम 5 बजे से पहले फ्लोर टेस्ट करा लें कांग्रेस के बागी 16 विधायकों की सुरक्षा मध्य प्रदेश और कर्नाटक के डीजीपी सुनिश्चित

#भोपाल: IAS तबादले

मध्य प्रदेश के सियासी हलचल के बीच आईएएस ट्रांसफर किए गए

सियासी संकट के बीच कमलनाथ ने बनाए 6 कैबिनेट और 9 राज्य मंत्री

घर बैठे पैसा कमाए अपना खुद का ऑनलाइन स्टोर चला कर भोपाल।  सियासी संकट के बीच कमलनाथ सरकार नियुक्तियां करने से पीछे नहीं हट रही है. दोपहर तक कई कांग्रेसियों को महत्वपूर्ण पद पर बैठा दिया गया था. अब प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने एक दर्जन से ज्यादा लोगों को कैबिनेट मंत्री और राज्य मंत्री का दर्जा देने का आदेश पारित कर दिया है। प्रदेश सरकार ने एक दर्जन से ज्यादा लोगों को मंत्री का दर्जा दिया है. इनमें 6 को कैबिनेट मंत्री और 9 लोगों को राज्य मंत्री बनाने का आदेश सामान्य प्रशासन विभाग ने जारी किया है। राज्य सरकार ने इन्हें दिया कैबिनेट मंत्री दर्जा -राज्य महिला आयोग अध्यक्ष शोभा ओझा -राज्य अजजा आयोग अध्यक्ष गजेंद्र सिंह राजूखेड़ी -राज्य अजा आयोग अध्यक्ष आनंद अहिरवार -राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग अध्यक्ष जेपी धनोपिया -मध्य प्रदेश युवा आयोग अभय तिवारी जबकि कमलनाथ सरकार ने 9 लोगों लो राज्यमंत्री का दर्जा दिया है. -राज्य महिला आयोग सदस्य नीना सिंह -राज्य महिला आयोग सदस्य जमुना मरावी -राज्य महिला आयोग सदस्य डॉ.शशि राजपूत -राज्य महिला आयोग सदस्य संगीता शर्म

#भोपाल: #नगरीय_प्रशासन में हुए तबादले, कर्मचारियों को किया इधर से उधर

#भोपाल: #नगरीय_प्रशासन में हुए तबादले, कर्मचारियों को किया इधर से उधर

अजमेर बकरा मे भी कोरोना वाएरस पाया गया है

 अजमेर में बकरा मंडी में पाया गया बकरा में वायरस

जनसंपर्क मंत्री पी सी शर्मा की प्रेस वार्ता:

जनसंपर्क मंत्री पी सी शर्मा की प्रेस वार्ता: घर बैठे पैसा कमाए अपना खुद का ऑनलाइन स्टोर चला कर #बेंगलुरु के विधायक नही है जो वहां प्रेस कांफ्रेंस करे #भोपाल आये यहां करे प्रेस कांफ्रेंस तुलसी सिलावट के मार्फ़त कितने काम हुए प्रदेश में ,,, 55 लाख किसानों के कर्ज माफ हुए प्रमाण पत्र दे दिए 100 रुपये बिजली बिल आ रहे,,सभी वर्ग के लिए 87प्रतिशत लोगो को लाभ हो रहा 14 हजार लगता था किसानों को 7 हजार कर दिया बेंगलुरु में विधायक दबाव में है पिछले जन्मदिन में कमलनाथ कही आदिवासी तो नही थे,, क्योकि कितना काम किया आदिवासियों के लिए जिन 6 मंत्रियों ने कमलनाथ सरकार का गुणगान किया था ,,अपने क्षेत्रों में वो वीडियो दिखाए जा रहे प्रेस कांफ्रेंस में पहले न्यूज चैनल पर चली खबरे दिखाई जा रही ,जिसमे तुलसी सिलावट ,,गोविंद राजपूत,,,,इमरती देवी ,समेत सारे 6 पूर्व मंत्री तारीफ कर रहे सरकार की ।।।  पीसी शर्मा का बड़ा पलटवार ।।।  शुद्ध के लिए युद्ध  का किया उल्लेख।।। 3 सेम्पल दिखाए प्रेस कान्फ्रेंस में पीसी शर्मा ने बंधक विधायको को छुड़वाने की बात कही