Posts

Showing posts from 2020

कंगना रनोट फिर निशाने पर:एक्ट्रेस के खिलाफ शिवसेना विधायक ने विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव भेजा, ऐसा नोटिस अर्नब को भी दिया था

Image
  मुंबई प्रताप सरनाइक (बाएं) और कंगना रनोट (दाएं) के बीच विवाद सोशल मीडिया पर शेयर की गई एक पोस्ट से शुरू हुआ था।- फाइल फोटो शिवसेना विधायक प्रताप सरनाइक ने एक्ट्रेस कंगना रनोट के खिलाफ विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव विधानसभा अध्यक्ष को भेजा है। जिसमें कहा गया है कि एक्ट्रेस ने उन पर झूठे आरोप लगाए थे। कंगना ने सोशल मीडिया पर सरनाइक के घर से पाकिस्तानी क्रेडिट कार्ड मिलने के बात कही थी। विधानसभा अध्यक्ष की मंजूरी के बाद कंगना को विधानसभा में हाजिर होकर अपना स्पष्टीकरण देना होगा। प्रताप सरनाइक इससे पहले रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी के खिलाफ भी विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव ला चुके हैं। इस मामले में अर्नब को चार बार पेशी का नोटिस भी जारी हो चुका है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में प्रताप के खिलाफ जांच कर रही है। विधानसभा अध्यक्ष को भेजा पत्र.. प्रताप सरनाईक द्वारा विधानसभा अध्यक्ष को लिखा गया पत्र। ऐसे शुरू हुआ विवाद कंगना ने जब मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से की थी, तब सरनाइक ने एक इंटरव्यू में उन्हें धमकाते हुए कहा था, ‘अगर वे मुंबई आती हैं त

भास्कर एक्सप्लेनर:भारत में वैक्सीन के इमरजेंसी अप्रूवल से पहले जानिए- WHO की गाइडलाइन के मुताबिक आपको कब मिलेगी वैक्सीन

Image
भारत में तीन कंपनियों ने अपनी-अपनी कोरोना वैक्सीन के लिए इमरजेंसी अप्रूवल मांगा है। अगले कुछ हफ्तों में उनमें से किसी न किसी वैक्सीन को मंजूरी भी मिल जाएगी। ऐसे में सरकार ने भी कोरोना वैक्सीनेशन के लिए तैयारियां भी तेज कर दी हैं। कौन-सी वैक्सीन मिलेगी, इसका जवाब जल्द ही सामने आएगा। पर उससे भी बड़ा सवाल यह है कि आपको वैक्सीन कब मिलेगी? केंद्र सरकार ने अपनी प्रायोरिटी लिस्ट जाहिर कर दी है, ताकि यह समझा जा सके कि आपको वैक्सीन कब मिलने वाली है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण के मुताबिक केंद्र सरकार ने अगस्त में कोविड-19 के लिए वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन पर नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप (NEGVAC) बनाया था। इसने ही तय किया है कि कोविड-19 का वैक्सीनेशन किस तरह आगे बढ़ेगा, वैक्सीन की खरीद प्रक्रिया क्या होगी, वैक्सीन का चुनाव कैसे होगा, वैक्सीन की डिलीवरी कैसे होगी और ट्रैकिंग मैकेनिज्म क्या होगा? NEGVAC की सिफारिशों के आधार पर शुरुआती फेज में इन तीन ग्रुप्स को सबसे पहले वैक्सीनेट किया जाएगा... 1.  एक करोड़ हेल्थकेयर वर्कर्स: इमसें स्वास्थ्य से जुड़े काम करने वाले सभी कर्मचारी शामिल रहेंगे। 2.  दो करोड़

लगने वाला है तगड़ा झटका, आने वाले दिनों में 9 फीसदी तक बढ़ सकते हैं बिजली के दाम

Image
- पहले भी ऊर्जा मंत्री दे चुके हैं संकेत - बिजली के दाम बढ़ना है जरूरी Electricity prices भोपाल।  आम आदमी को आने वाले दिनों में तगड़ा झटका लग सकता है। मध्यप्रदेश में जल्दी ही बिजली के दाम (Electricity prices mp) बढ़ाए जा सकते है। हाल ही में बढ़े पेट्रोल और डीजल ( Petrol and diesel) के रेट के बाद एक बार फिर से प्रदेशवासियों को सरकार की मार झेलनी पड़ सकती है। बताया जा रहा है कि अब बिजली के दाम नौ फीसदी तक बढ़ सकते हैं। इसके लिए मध्यप्रदेश की पावर कंपनियों ने बिजली के रेट बढ़ाने का प्रस्ताव विद्युत नियामक आयोग भेजने की पूरी तैयारी भी कर ली है। जानकारी के लिए बता दें कि बिजली के रेट पहले ही बढ़ने वाले थे लेकिन मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण और उसके बाद उपचुनाव के चलते मध्यप्रदेश विद्युत नियामक आयोग ने इसमें लेटलतीफी कर दी है, लेकिन अब नए सत्र 2021-2022 में बिजली कंपनी ने दाम तय करने की प्रकिया शुरु कर दी है। बिजली के दाम बढ़ना जरूरी बीते दिनों मध्य प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने जबलपुर में बिजली कंपनियों के मुख्यालय शक्तिभवन में ट्रांसमिशन कंपनी, पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण

West Bengal: कैलाश विजयवर्गीय को Z सिक्योरिटी के साथ मिली बुलेट प्रूफ कार, BJP नेताओं पर हमले का असर

Image
  West Bengal में BJP नेताओं पर हो रहे हमले का दिखा असर बीजेपी ने प्रदेश चुनाव प्रभारी और महसचिव कैलाश विजयवर्गीय की सुरक्षा में किया इजाफा\ कैलाश विजयवर्गीय को जेड सुरक्षा के साथ मिलेगी बुलेप्रुफ कार कैलाश विजयवर्गीय नई दिल्ली।  पश्चिम बंगाल ( West Bengal ) में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी ( BJP ) किसी भी तरह की कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। यही वजह है कि पार्टी नेताओं को लेकर शीर्ष नेतृत्व पूरी तरह गंभीर है। हाल में बीजेपी नेताओं पर हो रहे हमलों को देखते हुए बीजेपी ने राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल चुनाव के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ( Kailash Vijayvargiya ) की सुरक्षा में इजाफा किया है। ममता सरकार से आर-पार की राजनीतिक लड़ाई लड़ रही बीजेपी ने कैलाश विजयवर्गीय को Z प्लस सुरक्षा देने के साथ ही अब बुलेटप्रूफ कार भी दी है। दरअसल पिछले दिनों बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफीले पर हमला हुआ था। वहीं कैलाश विजयवर्गीय की कार पर पत्थरों से हमला किया गया था, जिसमें वे बाल-बाल बचे थे। बीजेपी ने इस हमले का आरोप टीएमसी नेताओं पर लगाया था। जबकि टीएमसी नेताओं ने इन आरोपों क

नंबर1 स्मार्ट सिटी से इंदौर दो कदम दूर:स्मार्ट सिटी के 221 में से 171 प्रोजेक्ट पूरे, 641 करोड़ फंड, खर्चे 700 करोड़

Image
  इंदौर स्मार्ट सिटी का रिवर फ्रंट प्रोजेक्ट। इसके फिलहाल दो फेज ही पूरे हुए हैं। ()  स्मार्ट सिटी की दौड़ में शामिल देश के 100 शहरों में इंदौर एक बार फिर नं. 3 पर पहुंच गया है। इसका बड़ा कारण यह है कि इंदौर के 221 प्रोजेक्ट में से 171 पूरे हो चुके हैं। इन पर स्मार्ट सिटी 700 करोड़ खर्च कर चुकी है, जबकि फंड 641 करोड़ का ही मिला था। इंदौर स्मार्ट सिटी द्वारा 5432 करोड़ के 221 प्रोजेक्ट लिए गए हैं। इसमें 276 वर्ग किमी के पेन सिटी एरिया के साथ तीन वर्ग किमी के एबीडी एरिया को लिया गया है। स्मार्ट सिटी के लिए 500 करोड़ का फंड केंद्र सरकार और 500 करोड़ का फंड राज्य सरकार द्वारा दिया जाना है। इनमें इंदौर स्मार्ट सिटी को अब तक 641 करोड़ रुपए मिल चुके हैं। बाकी राशि स्मार्ट सिटी कंपनी को इन्हीं प्रोजेक्ट्स से प्रॉफिट निकालकर जुटानी है। सरकार से लंबे समय से पैसों की मांग की जा रही है। लैंड मॉनिटाइजेशन का प्रोजेक्ट एमओजी लाइंस का है। इसी से स्मार्ट सिटी को आमदनी होगी। समय पर फंड मिलता रहे तो स्मार्ट सिटी में भी नंबर 1 होंगे तीसरे नंबर से ऊपर क्यों नहीं जा पा रहे? दूसरे शहरों की तरह हमें भी समय पर फंड मिल

दीपपर्व पर रियल एस्टेट से शुभ समाचार:नवंबर में भी हर दिन 500 सौदे 600 करोड़ की संपत्ति बिकी

Image
  इंदौर  दिवाली की रात यह तस्वीर राजकुमार ब्रिज क्षेत्र की। फोटो | संदीप जैन आयकर नियम में बदलाव से तैयार मकान और फ्लैट में होंगे अधिक सौदे रियल एस्टेट सेक्टर कोरोना से उबरकर नई तेजी की ओर जा रहा है। अक्टूबर में इसके पहली बार संकेत मिले थे और पूरे माह में 1100 करोड़ की 10 हजार से अधिक संपत्तियां पूरे जिले में बिकी थीं। अब नवंबर में भी हर दिन 500 से अधिक सौदे हो रहे हैं। अभी तक जिले में 600 करोड़ से ज्यादा की 5900 से ज्यादा संपत्तियां बिक गई हैं। रोज हो रहे सौदों से इस बार भी पंजीयन विभाग उम्मीद कर रहा है कि सौदों की संख्या करीब 11 हजार तक पहुंच सकती है। शहर में जमकर हुई आतिशबाजी। इसकी बड़ी वजह केंद्र द्वारा आयकर नियमों में दी गई छूट है। केंद्र ने अब दो करोड़ तक की आवासीय संपत्ति, जिसकी पहली बार रजिस्ट्री हो रही है और ग्राहक सीधे बिल्डर से इसे खरीद रहा है, तो वह यह सौदा अब गाइडलाइन कीमत से 20 फीसदी तक में ले सकता है। अंतर की यह राशि अब उसकी आय में जुड़कर आयकर के दायरे में नहीं आएगी।

बॉलीवुड में एक और खुदकुशी:सुशांत के साथ 'काई पो छे' में काम कर चुके आसिफ बसरा ने की आत्महत्या, रिपोर्ट्स में डिप्रेशन में होने का दावा

Image
आसीफ बसरा ने 'पाताल लोक' वेब सीरीज में न्यूज एंकर का किरदार निभाया था। वे हाल ही में 'होस्टेजेस' के दूसरे सीजन में नजर आए थे। धर्मशाला के मैक्लोडगंज में एक कैफे के पास लटका मिला आसिफ का शव पुलिस ने जांच शुरू की, बसरा की लिव-इन पार्टनर को हिरासत में लिया गया सुशांत सिंह राजपूत के बाद उनके साथ 'काई पो छे' जैसी फिल्मों में काम कर चुके आसिफ बसरा ने खुदकुशी कर ली है। रिपोर्ट्स की मानें तो 53 साल के बसरा ने हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला के मैक्लोडगंज में एक कैफे के पास आत्महत्या की। बताया जा रहा है कि उन्होंने अपने पालतू कुत्ते की रस्सी से फांसी लगाकर जान दे दी। हालांकि अभी आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चला है। हालांकि, कहा जा रहा है कि वे डिप्रेशन से जूझ रहे थे। इन 10 सेलेब्स की आत्महत्या आज भी अनसुलझी पहेली 5 साल से मैक्लोडगंज में रह रहे थे आसिफ पुलिस ने आसिफ का शव कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है। एसपी विक्रांत रंजन ने अपने बयान में कहा है कि वे हर एंगल से जांच कर रहे हैं। पुलिस के मुताबिक, कथित सुसाइड से पहले वे पास इलाके में ही अपने कुत्ते के साथ टहलकर लौ

कंगना ने भाई की शादी में 6 करोड़ खर्च किए, 45 लाख की ज्वेलरी और 18 लाख की ड्रेस पहनी

Image
मुंबई एक्ट्रेस कंगना रनोट के भाई अक्षत की शादी रितु सागवान के साथ राजसी ठाटबाट के साथ उदयपुर के द लीला पैलेस में गुरुवार को हुई। . एक्ट्रेस कंगना रनोट के भाई अक्षत की शादी रितु सागवान के साथ राजसी ठाटबाट के साथ उदयपुर के द लीला पैलेस में गुरुवार को हुई। कंगना के करीबी सूत्रों के अनुसार, एक्ट्रेस ने भाई की शादी को खास और यादगार बनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। उन्होंने इस शादी में करीब 6 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। तस्वीरों में भी शादी की भव्यता साफ नजर आ रही है। दैनिक भास्कर को कंगना के करीबियों ने बताया कि एक्ट्रेस ने भाई की शादी में गुजराती बंधनी लहंगा पहना था। इसकी कीमत करीब 18 लाख रुपए थी। उनका ये लहंगा पूरे 14 महीनों में बनकर तैयार हुआ है और इसे कंगना के लिए अनुराधा वकील ने तैयार किया है। लहंगे के साथ एक्ट्रेस ने 45 लाख रु. की ज्वेलरी पहनी थी, जिसे मशहूर डिजाइनर सब्यसाची ने बेहद कम समय में तैयार किया है। कंगना की डिमांड पर उदयपुर के होटल लीला पैलेस को रजवाड़ी थीम पर सजाया गया था। कंगना की यह खूबसूरत ड्रेस परपल, ग्रीन और ब्लू कपड़े से मिलकर बनी थी। सिर्फ 45 गेस्ट हुए शामिल, बने थे राजस

कोरोना देश में:एक्टिव केस में लगातार 42वें दिन गिरावट, अब 55% से ज्यादा मरीज सिर्फ 5 राज्यों में

Image
नई दिल्ली देश में कोरोना के इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में 3 अक्टूबर से लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। 17 सितंबर को ये 10.17 लाख की पीक पर थे, जो अब घटकर 4.84 लाख बचे हैं। अब सिर्फ पांच राज्यों महाराष्ट्र, केरल, दिल्ली, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक में ही 55% एक्टिव केस हैं। देश में बुधवार को 44 हजार 546 केस आए। इनमें से 49 हजार 266 मरीज ठीक हो गए, जबकि 544 की मौत हो गई। अब तक कुल 87.28 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 81.13 लाख ठीक हो गए और 1.28 लाख की मौत हो गई। एम्स डायरेक्टर गुलेरिया बोले- जिन्हें इंफेक्शन, उन्हें वैक्सीन पहले मिलेगी इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एम्स) के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया का कहना है कि कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बाद हम ऐसी स्थिति में पहुंच जाएंगे, जब हर्ड इम्युनिटी आ जाएगी। तब वैक्सीन की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। एक इंटरव्यू में उनसे पूछा गया कि अगर वैक्सीन 2021 के आखिर तक या 2022 के शुरू में आती है तो क्या तब तक लोगों में इम्युनिटी नहीं आ जाएगी? लोग इस वायरस के संक्रमण को सर्दी, खांसी-जुकाम जैसी मामूली बीमारी समझने लगें, तो इसका उनकी सेह

12 गांवाें की एक सी सूरत:हर घर सड़क से 45 फीट दूर, अपने प्लाॅट की जमीन छाेड़कर बनाए मकान

Image
  होशंगाबाद गांव में लाेग अपने घराें पर ही सारा इंतजाम रखते है। इसलिए दूरी पर घर बनाए गए हैं। हाेशंगाबाद जिले में सतपुड़ा टाइगर रिजर्व से विस्थापित इन गांवों जैसा हाे शहरों का भी रूप 11 किमी के आदिवासी काॅरिडाेर में सरकारी जमीन पर ग्रामीणों का एक फीट भी कब्जा नहीं शहर हाे या गांव, अतिक्रमण ने सभी की सूरत बिगाड़ दी है। ऐसे दाैर में हाेशंगाबाद जिले में 11 किमी में आदिवासी काॅरिडाेर के 12 गांव आंखों को सुकून देते हैं। सतपुड़ा टाइगर रिजर्व से विस्थापित हुए इन वनग्रामाें में हर घर सड़क से 45 फीट दूर है। अपने प्लाॅट के आगे के हिस्से की जमीन छाेड़कर लाेगाें ने सड़क से इतनी दूर मकान बनाए हैं। काकड़ी गांव काे ही लीजिए। यहां 34 घर हैं। किसी भी घर के आगे या पीछे सरकारी जमीन पर कब्जा नहीं है। 7 साल पहले विस्थापित हुए काकड़ी के आदिवासियाें की अच्छी साेच से यह सुंदरता आई है। 2013 में विस्थापित हुए इस गांव में 50 फीट के क्षेत्र में खुले आंगन और बगीचे हैं। घराें के पीछे शाैचालय है। घराें में कार्यक्रम की परंपरा, इसलिए छाेड़ते हैं जमीन ^आदिवासी समाज के लाेग घराें में ही सांस्कृतिक, पारिवारिक कार्यक्रम

India News