ग्वालियर हाईकोर्ट ने कहा- निगम के अधिकारी काम नहीं करेंगे तो हम उन्हें दंड‍ित करेंगे



ग्वालियर। स्वच्छता के पायदान में ग्वालियर शहर के खिसकने से हाईकोर्ट बहुत चिंतित है। हाईकोर्ट ने कहा कि ग्वालियर में गंदगी का अंबार है, नाली और सीवर की सफाई नहीं हो रही है। नगर निगम से कहा कि यदि आपके अधिकारी काम नहीं करेंगे तो हम उन्हें दंडित करना शुरू कर देंगे। शहर में डेंगू के बाद स्वाइन फ्लू के प्रकोप पर भी नगर निगम को फटकार लगाई और अगले सप्ताह तक इसके रोकथाम के संबंध में निगम से रिपोर्ट मांगी।


59वें नंबर पर ग्वालियर

इस बार स्वच्छता सर्वें में टॉप टेन में आना तो दूर, ग्वालियर 2018 की पॉजीशन को भी बरकरार नहीं रख सका। पिछले साल की तुलना में स्वच्छता सर्वेक्षण के दौरान तीन माह के लिए करीब 1 हजार सफाई कर्मचारी अतिरिक्त लगाए, 5 करोड़ रुपए ज्यादा खर्च किए लेकिन रैंकिंग में 31 पायदान नीचे गिर गए। पिछले साल 28वां स्थान था जबकि इस बार सफाई पर करीब 24 करोड़ रुपए खर्च करने के बाद भी 59वें नंबर पर जा पहुंचे हैं।

Comments

Popular posts from this blog

कोरोना का खौफ : भारत की सबसे बड़ी देहमंडी में पसरा सन्नाटा

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

Janta Curfew के बीच कोरोना के डर से युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- सभी अपना टेस्ट कर लेना