Skip to main content

आज दोपहर हो सकती है 250 उम्मीदवारों की घोषणा, कल होगी भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की अगली बैठक


केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में पीएम मोदी- अमित शाह मौजूद


लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की लिस्ट गुरुवार को आने के आसार


कई सांसदों का कट सकता है टिकट


नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक खत्म हो गई है। बैठक में पीएम मोदी अमित शाह समेत कई वरिष्ठ नेता शामिल रहे। बैठक में उत्तर प्रदेश के अलावा पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, बिहार व अन्य राज्यों की सीटों और उम्मीदवारों को लेकर चर्चा हुई है। इसी बीच यह संभावना जताई जा रही है कि होली के शुभ अवसर पर भाजपा गुरुवार को दोपहर 12 बजे के आस-पास 250 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर सकती है। इसमें उत्तर प्रदेश के 37, महाराष्ट्र के 21 और बिहार के 5 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा भी शामिल हो सकता है। भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की अगली बैठक 22 मार्च को होगी।

ANI

@ANI

Delhi: Prime Minister Narendra Modi arrives for the BJP Central Election Committee (CEC) meeting at the party headquarters. BJP President Amit Shah receives him.

689

7:19 अपराह्न - 20 मार्च 2019


135 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

Twitter Ads की जानकारी और गोपनीयता

10 राज्यों के टिकट बंटवारे पर चर्चा

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक भाजपा में कई नेताओं का टिकट काटा जा सकता है। हालांकि अभी तक इस पर मुहर नहीं लगी है। मंगलवार को हुई बैठक में 10 राज्यों के टिकट बंटवारे पर चर्चा की गई। इसमें छत्तीसगढ़ में सभी मौजूदा सांसदों के टिकट बदले गए हैं। भाजपा छत्तीसगढ़ में सभी 10 सांसदों को टिकट नहीं देने का फैसला किया है। बैठक के बाद छत्तीसगढ़ के चुनाव प्रभारी अनिल जैन ने कहा कि इस राज्य में नए उम्मीदवारों को टिकट दिए जाएंगे।

छत्तीसगढ़ में सासंदों के काटे जाएंगे टिकट

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक राजनांदगांव से पूर्व सीएम रमन सिंह को टिकट दिया जा सकता है। वर्तमान में इस सीट से रमन सिंह के बेटे अभिषेक सिंह सांसद हैं। मीडिया सूत्रों के मुताबिक छत्तीसगढ़ के अलावा देश भर के कई सांसदों के टिकट काटे जाने की संभावना है। साथ ही ये भी खबर है कि कई विधायकों को भी टिकट दिए जाएंगे।

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

ग्वालियर - बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता शातिर चोर पकडे 10 लाख का माल बरामद। महाराजपुरा पुलिस ने दबिश देकर पकड़ा चोरों का ग्रुप महाराजपुरा थाना प्रभारी मिर्ज़ा आसिफ बेग और उनकी टीम के द्वारा कार्यवाही की गई। महराजपुरा टीम को बड़ी सफलता हासिल हुई।  10 लाख का माल भी बरामद किया गया।  महाराजपुर टीआई मिर्जा बेग ने बताया चोरों से 6 एलसीडी 8 लैपटॉप दो होम थिएटर 6 मोबाइल फोन एक स्कूटी टेबल फैन सिलेंडर बरामद हुआ है उनसे करीब 4 चोरियों का खुलासा हुआ है करीब 10 चोरियां कि गिरोह ने हामी भरी है 

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

कोरोना की स्थिति गंभीर होने पर कई राज्यों में फिर लॉकडाउन की स्थिति, सभी सीमाएं भी की जा रही हैं सील...। भोपाल। मध्यप्रदेश समेत पांच राज्य एक बार फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहे हैं। मध्यप्रदेश में लगातार बढ़ते मामलों के बाद रविवार को पूरे प्रदेश में लॉकडाउन (Complete Lockdown) लगाया जा रहा है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Covid 19) की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्र ने तय किया है कि अब सप्ताह में एक दिन रविवार को पूरा प्रदेश बंद रहेगा। उधर, मध्यप्रदेश के अलावा बिहार, उत्तरप्रदेश में भी लाकडाउन के आदेश जारी कर दिए गए हैं।   मध्यप्रदेश में पिछले तीन दिनों में 11 सौ से अधिक संक्रमित मरीज मिलने और जबकि 409 एक ही दिन में संक्रमित मिलने के बाद यह फैसला लिया जा रहा है इस दौरान प्रदेश की सीमाएं भी सील की जा सकती है। सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं ही चलती रहेंगी। गृह विभाग के बाद भोपाल समेत सभी जिलों के कलेक्टर अपने-अपने जिले के लिए एडवायजरी (Advisery'guideline) जारी कर रहे हैं।   गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र के मुताबिक इस सप्ताह में एक दिन का लाकडाउन ही