पुलवामा हमले में एनएसजी का खुलासा, हमले में हुआ 150 से 200 किलो आरडीएक्स का इस्तेमाल


फॉरेंसिक और एनएसजी की शुरुआती जांच में पता चला है कि सीआरपीएफ काफिले पर हुए आतंकी हमले में आरडीएक्स का इस्तेमाल किया गया था।


नई दिल्ली। जम्मू और कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। फॉरेंसिक और एनएसजी की शुरुआती जांच में पता चला है कि सीआरपीएफ काफिले पर हुए आतंकी हमले में आरडीएक्स का इस्तेमाल किया गया था। खुलासा हुआ है कि हमले के लिए 150 से 200 किलो आरडीएक्स का हुआ इस्तेमाल किया गया था। जबकि हमले के लिए जानबूझकर ढलान वाली जगह का चुनाव किया गया। आतंकी ने काफिले में 5वें नंबर पर चल रही बस को कार की टक्कर मारी। आतंकी ने घटना को अंजाम ढलान वाली जगह पर स्पीड कम होने के चलते दिया। वहीं, शक जताया जा रहा है कि आतंकी सर्विस लेन से आया था।

पूरे देश में आक्रोश का माहोल

आपको बता दें कि पूरे देश में आक्रोश का माहोल है। देशवासी अब हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों की शाहदत का सीधा बदला चाहते हैं। वहीं, सरकार ने भी देश का मूड भांपते हुए सेना को कार्रवाई की खुली छूट दे दी है। इसके साथ ही आतंकी हमले बाद अब उन कारणों का पता लगाने का प्रयास तेज हो गया है, जिनकी भेंट देश के 44 से अधिक जवाब चढ़ गए। जांच में सामने आया है कि नियमों में ढिलाई के कारण हल्की हुई सुरक्षा के चलते इस आतंकी हमले में जवानों को अपनी जान गवांनी पड़ी।

आतंकवादी संगठन छिप नहीं सकते और उन्हें सजा दी जाएगी

वहीं, पीएम मोदी ने कहा कि सुरक्षा बलों को कोई भी कदम उठाने के लिए खुली छूट दे दी गई है इसलिए पुलवामा में आतंकवादी हमला करने वाले आतंकवादी संगठन छिप नहीं सकते और उन्हें सजा दी जाएगी। पुलवामा में गुरुवार को हुए आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 49 जवान शहीद हो गए। हमले में शहीद हुए महाराष्ट्र के दो जवानों और अन्य जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए मोदी ने कहा कि देश को अपने सैनिकों और सुरक्षा बलों पर विश्वास और गर्व है और उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

Comments

Popular posts from this blog

कोरोना का खौफ : भारत की सबसे बड़ी देहमंडी में पसरा सन्नाटा

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

Janta Curfew के बीच कोरोना के डर से युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- सभी अपना टेस्ट कर लेना