हिमाचल के गुलशन अहमद बोले, ‘‘मुझे मानव बम बनाकर भेज दो पाकिस्तान, 100 को मारूंगा….’’



“जमाने में मिलते हैं लाखो आशिक़,  मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता

नोटों में लिपट कर, सोने में सिमट मर गए कई…मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफन नहीं होता”

पुलवामा आतंकी हमले से पूरे देश का खून खौल रहा है। पाकिस्तान को अंदर घुस कर सबक सिखाने की सलाह टीवी के अलावा सोशल मीडिया पर जमकर दी जा रही है। इस बीच शहर के एक नौजवान गुलशन अहमद ने सरकार को ऐसी कोई सलाह नहीं दी है, बल्कि खुद मानव बम बनकर पाकिस्तान में घुसने की पेशकश की है। साथ ही कहा है कि यह सरकार तय करे कि उन्हें ट्रेनिंग देने के बाद इसे कहां अंजाम देना है। बेहद गुस्साए मुस्लिम युवक गुलशन अहमद ने मानव बम की पेशकश को लेकर फेसबुक पर अपना स्टेटस अपडेट किया। 
इसके बाद एमबीएम न्यूज नेटवर्क ने देशभक्ति के जज्बे में ओत-प्रोत नौजवान से बात करने का फैसला लिया। बातचीत में वो अपनी बात पर अडिग रहे। पूछा गया, बच्चों का क्या होगा तो सीधे जवाब में बोले-जब शहीदों के बच्चे जिंदगी को जीना सीख रहे हैं तो उनके बच्चे भी सीख ही लेंगे। उन्होंने कहा कि लोहा ही लोहे को काटता है। अगर आतंकी यह समझते हैं कि मानव बम से हिन्दुस्तान को चोट पहुंचाई जा सकती है तो हम भी यही करने को तैयार हैं।
उल्लेखनीय है कि नौजवान गुलशन अहमद के पिता महरूम गफूर अहमद भी शहर की एक अलग ही शख्सियत थे। 26 जनवरी को कारमल कान्वेंट स्कूल के परिसर में गुलशन अहमद ने छात्रों की मानव श्रृंखला बनवाकर जयहिन्द का नारा व भारत का मानचित्र इतनी खूबसूरती से उकेरा था कि सोशल मीडिया में इसे देखने वाले दंग रह गए। समाज में अलग तरीके के कार्य करने को लेकर गुलशन अहमद विशेष पहचान रखते हैं।

पेशे से शारीरिक शिक्षक गुलशन अहमद ने अपने बूते ही शहर की धरोहर शांति संगम को भी सहेजने का बीड़ा उठाया हुआ है। मुस्लिम-हिन्दू-सिख-ईसाई की आस्था का प्रतीक लखदाता पीर की इस परिवार पर मेहर है, यही परिवार इस स्थान की देखभाल की जिम्मेदारी पीढ़ी दर पीढ़ी उठाता आ रहा है। अपने कॉलेज समय में गुलशन अहमद एनसीसी के पलाटून कमांडर भी रह चुके हैं। यहीं से उन्होंने देशभक्ति का ककहरा सीखा।

Comments

Popular posts from this blog

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

बड़ी ख़बर। महाराजपुरा पुलिस को मिली बड़ी सफलता

Lockdown: पूरे राज्य में फिर लॉकडाउन, सील होंगी पूरी सीमाएं

मंत्रिमंडल विस्तार / केंद्रीय नेतृत्व ने रिजेक्ट की शिवराज की लिस्ट; नए चेहरों को मंत्री बनाने के साथ नरोत्तम और तुलसी को डिप्टी सीएम बनाया जा सकता है

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश / भाजपा के 13 वरिष्ठ विधायकों के मंत्री बनने पर असमंजस बरकरार, गोपाल भार्गव बोले- कांग्रेस ने भी यही गलती की थी

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

TATA Consulting Engineers Limited Hiring|BE/B.Tech Civil Engineer

मप्र / 1 जुलाई को भी मंत्रिमंडल विस्तार के आसार नहीं, नए चेहरों में भोपाल से रामेश्वर, विष्णु खत्री, इंदौर से ऊषा, मालिनी और रमेश के नाम चर्चा में

India News