Skip to main content

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मृतक किसान को दी श्रदांजलि, दो कलेक्टरों को दिए दो अहम निर्देश



Published On: 

Dec, 31 2018 

BHOPAL, BHOPAL, MADHYA PRADESH, INDIA

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मृतक किसान को दी श्रदांजलि, दो कलेक्टरों को दिए दो अहम निर्देश


भोपालः सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने लोकसभा क्षेत्र के दो अलग-अलग जिलों के कलेक्टरों को अहम निर्देश दिए हैं। कारण था किसान विधा। सांसद सिंधिया ने पहला निर्देश गुना कलेक्टर को दिया जहां बमौरी क्षेत्र के किसान नागजी ने साहूकार द्वारा किए गए फर्जीवाड़े से त्रस्त आकर आत्महत्या कर ली थी, इसपर सिंधिया ने कलेक्टर को निर्देश दिए कि, वह खुद मृतक किसान के घर जाएं और उनके परिवार को शासन द्वारा हर संभव मदद उपलब्ध कराएं। इसके अलावा, अगला निर्देश उन्होंने शिवपुरी कलेक्टर को दिया, जहां कोलारस के रिनहाय गांव के कृषक द्वारा ट्रांसफार्मर की मांग को लेकर सभी शुल्क जमा करने के बाद भी विद्युत विभाग द्वारा ट्रांसफार्मर नही लगाया गया। इसपर सांसद सिंधिया ने ट्रांसफार्मर के लिए परेशान किसान की समस्या का तुरंत समाधान करवाने के निर्देश दिया। बता दें कि, निर्देश के बाद एक्शन में आए विद्युत विभाग ने आनन फानन में किसान के खेत में ट्रांसफार्मर की व्यवस्था करा दी है।

मृतक किसान को श्रद्धांजलि देकर कलेक्टर को दिया निर्देश

आपको बता दें कि, गुना के बमौरी क्षेत्र में बटाईदार साहूकार ने बिना किसान नागजी की जमीन पर धोखाधड़ी करते हुए बैंक से ऋण ले लिया, जिसकी पूर्ति ना होने पर बैंक ने किसान के घर नोटिस भेज दिया, तब जाकर किसान को पता लगा कि उसकी जमीन पर धोखाधड़ी से कर्ज लिया गया है। इसपर किसान साहूकार के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंचा, लेकिन वहां उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई। धोखाधड़ी से कर्ज के तले दबे किसान ने परेशान त्रस्त होकर आत्महत्या कर ली। मामले की जानकारी जैसे ही सांसद सिंधिया को लगी तो उन्होंने गुना कलेक्टर को तुरंत निर्देश दिए कि, किसान के घर जाकर पीड़ित किसान को शासन की तरफ से आर्थिक मदद प्रदान कराएं और पीड़ित परिवार के साथ ढाढस बंधाएं। साथ ही, मामले की जांच करके उन्हें जल्द ही स्पष्ट जानकारी प्रदान करें। सांसद सिंधिया ने पीड़ित परिवार से दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई कराने का भी आश्वासन दिया है।

सिंधिया की किसानो से अपील

वहीं, सांसद सिंधिया ने मृतक किसान को श्रदांजलि देते हुए घटना को दुखद बताया। साथ ही, उन्होंने प्रदेश के सभी अन्नदाताओं से अपील की है कि, वो साहूकारों के चंगुल में ना फंसे, ज़रूरतमंद किसान सिर्फ शासकीय या सहकारी बैंकों से ही ऋण लें। सिंधिया ने ये भी कहा कि, यह उस किसान हितेषी पार्टी की सरकार है जिसके राष्ट्रीय अध्य्क्ष द्वारा किसानो से किए गए कर्जमाफी के वादे को सत्ता में आने के दो घंटों के भीतर ही पूरा दिया गया था। इसके पीछे सोच ये है कि, सूबे का कई अन्नदाता आत्महत्या जैसा कदम उठाने को मजबूर न हो।

सिंधिया ने कलेक्टर को याद दिलाई ड्यूटी

इधर, शिवपुरी जिले के कोलारस में किसान द्वारा सभी शुल्क जमा किए जाने के बावजूद भी ट्रांसफार्मर की व्यवस्था ना होने से नाराज सांसद सिंधिया ने जिला कलेक्टर को मामले पर तुरंत संज्ञान में लेने और संबंधित स्थान पर ट्रांसफार्मर की व्यवस्था कराने के निर्देश दिये थे, जिसके बाद आनन फानन में विद्युत विभाग द्वारा ट्रांसफार्मर लगा दिया गया है। आपको बता दें कि, ट्रांसफार्मर की मांग के बावजूद सभी शुल्क जमा होने के बावजूद सुनवाई ना होने से मायूस पीड़ित किसान कलेक्टर के पास पहुंचा। जहां कलेक्टर के सामने अपनी बात रखने के लिये किसान को कलेक्टर के पैरों में गिरकर फरियाद करनी पड़ी। बावजूद इसके कलेक्टर के पास पीड़ित की समस्या सुनने का समय नही था। सांसद सिंधिया ने शिवपुरी कलेक्टर को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि, "भविष्य में ऐसी अमानवीय आचरण नहीं होना चाहिए। जनता की समस्या सुनकर उसका समाधान करना अधिकारी की नैतिक और प्रशासनिक ज़िम्मेदारी है।"

ट्रांसफार्मर लगने के बाद किसान से फ़ोन पर की बात

निर्देश मिलने पर सक्रीय हुए विभाग ने शाम होने से पहले ही पीड़ित किसान के खेत पर ट्रांसफार्मर लगा दिया है। इसके बाद सांसद सिंधिया के निर्देश पर कोलारस के पूर्व विधायक महेंद्र यादव किसान अजीता के खेत पर पहुंचकर ट्रांसफार्मर का अवलोकन करने और वहीं से किसान से बात कराने के निर्देश दिए, जिसपर पूर्व विधायक यादव ने किसान की बात सांसद सिंधिया से कराई, जहां किसान ने उसकी समस्या का निदान कराने के लिए सिंधिया को धन्यवाद व्यक्त किया।

Comments

Popular posts from this blog

मकर संक्रांति 2021 तिथि, शुभ मुहूर्त | मकर संक्रांति क्यों मनाई जाती है?

मकर संक्रांति मकर संक्रांति  का भारतीय धार्मिक परम्परा में विशेष महत्व है, क्योंकि इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश कर उत्तरायण में आता है। शास्त्रों के अनुसार यह सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है और इसीलिए इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व है।  मकर संक्रांति  परंपरागत रूप से 14 जनवरी या 15 जनवरी को मनाई जाती आ रही है।  मकर संक्रांति  में ‘मकर’ शब्द मकर राशि को इंगित करता है जबकि ‘संक्रांति’ का अर्थ संक्रमण अर्थात प्रवेश करना है।  मकर संक्रांति  के दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है। एक राशि को छोड़कर दूसरे में प्रवेश करने की इस विस्थापन क्रिया को संक्रांति कहते हैं। शास्त्रों के नियम के अनुसार रात में संक्रांति होने पर अगले दिन भी संक्रांति मनाई जाती है। मकर संक्रांति  के दिन सूर्य दक्षिणायन से अपनी दिशा बदलकर उत्तरायण हो जाता है अर्थात सूर्य उत्तर दिशा की ओर बढ़ने लगता है, जिससे दिन की लंबाई बढ़नी और रात की लंबाई छोटी होनी शुरू हो जाती है। भारत में इस दिन से बसंत ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। अत:  मकर संक्रांति  को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है। तम

रफत वारसी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष बनाये गए

मध्य प्रदेश भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चे की जवाबदारी प्रदेश के  युवा व वरिष्ठ नेता श्री रफत वारसी के हाथों में  मध्य प्रदेश भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णु दत्त शर्मा ने मध्य प्रदेश के भाजपा संगठन का विस्तार किया है जिसमें मोर्चे के नए प्रदेश अध्यक्षों की भी नियुक्ति की गई है जिसमें मध्य प्रदेश के वरिष्ठ व युवा नेता श्री रफत वारसी को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाकर भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की जवाबदारी सौंपी गई है श्री रफत वारसी मध्यप्रदेश में एक उभरते हुए अल्पसंख्यक चेहरे है और भाजपा आलाकमान ने नए चेहरे के रूप में श्री वारसी साहब को यह नई जवाबदारी सौंपी है जिससे मध्य प्रदेश में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा और मजबूत होने की संभावना बढ़ गई है वर्तमान में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा में नई और युवा पीढ़ी के लोग अधिकतर काम कर रहे हैं और वारसी साहब के प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से इसमें और अधिक वृद्धि होगी क्योंकि नए प्रदेश अध्यक्ष श्री वारसी साहब मध्यप्रदेश में अल्पसंख्यक समाज में अपनी गहरी पैठ रखते हैं उनके प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चा बेहतर

शहीद हसमत वारसी जी के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण पद

    शहीद हसमत वारसी जी  के सुपुत्र रफत वारसी को मिला प्रदेश में महत्वपूर्ण  पद          वी डी शर्मा जी ने गले लगा कर दी बधाई      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी से आशीर्वाद लेते हुए       वी डी  शर्मा जी भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  ने दिया आशीर्वाद          अपनी माँ परवीन वारसी जी से दुआयें  लेते हुए रफत वारसी ने किया पदभार ग्रहण 17 जनवरी 2021 को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष रफत वारसी ने किया पदभार ग्रहण रफत वारसी ने कहा मुस्लिम समाज में कई तरह के भ्रम हैँ जिन्हे दूर करने के लिए एक दल के साथ पुरे प्रदेश का भ्रमण करेंगे ! साथ ही उन्होंने पदभार ग्रहण में आये हुए  सभी  साथियों का तहे दिल से शुक्रिया  अदा किआ 

SHOP WITH US Apparel & Accessories