सीधी कलेक्टर अभिषेक सिंह ने ग्रहण किया पदभार, फिर किया ऐसा काम जो बाकी कलेक्टर नहीं करते

सीधी कलेक्टर अभिषेक सिंह ने ग्रहण किया पदभार, फिर किया ऐसा काम जो बाकी कलेक्टर नहीं करते


सीधी। सीधी जिले के नवागत कलेक्टर अभिषेक सिंह ने रविवार की दोपहर कलेक्ट्रट कार्यालय पहुंचकर पदभार ग्रहण कर लिया है। 2009 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी अभिषेक सिंह सीधी जिले से पहले सीईओ भोपाल सहकारी दुग्ध संघ मर्यादित एवं पशुपालन विभाग का अतिरिक्त प्रभार, खंडवा कलेक्टर और उमरिया कलेक्टर भी रह चुके है। तेज तर्राहट स्वभाव के रूप में पहचान बना चुके अभिषेक तुरंत एक्शन लेने में माहिर है। बता दें कि दिलीप कुमार से सीधी कलेक्टर का चार्ज लेते ही वह एक्शन मूड में दिखे। तुरंत जिला पंचायत सीईओ अवि प्रसाद के साथ जिला अस्पताल पहुंच गए। वहां सीधे मरीजों की समस्याओं के संबंध में जानकारी लेते हुए चिकित्सकों को हिदायत दी। क्रमश: वार्ड वार अस्पताल का औचक निरीक्षण किया।

26 कलेक्टर समेत 48 आईएएस हुए इधर से उधर
राज्य की नई सरकार ने 20 दिसंबर गुरुवार की देर रात 26 कलेक्टरों समेत 48 आईएएस को बदलने का आदेश जारी किया। इनमें से 15 कलेक्टरों से जिलों की जिम्मेदारी छीन ली गई, उन्हें मंत्रालय व विभागों में पदस्थ कर दिया गया, जबकि 11 कलेक्टरों को इधर से उधर किया गया। रीवा कलेक्टर प्रीति मैथिल को सागर कलेक्टर बनाया गया है। वहीं सीधी कलेक्टर दिलीप कुमार की जगह अभिषेक सिंह को बनाया है। जबकि सतना कलेक्टर राहुल जैन को उनके पुराने विभाग में भेज दिया है। इस बड़ी प्रशासनिक सर्जरी को नई सरकार में अफसरों की मैदानी जमावट और लोकसभा चुनाव की तैयारी के रूप में देखा जा रहा है।


Comments

Popular posts from this blog

कोरोना का खौफ : भारत की सबसे बड़ी देहमंडी में पसरा सन्नाटा

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

Janta Curfew के बीच कोरोना के डर से युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- सभी अपना टेस्ट कर लेना