खाद की आपूर्ति जल्द होगी, किसान भाई परेशान ना हों संकट की घड़ी में आपके साथ है सरकार: कमलनाथ

BHOPAL, BHOPAL, MADHYA PRADESH, INDIA

जल्द होगी खाद की आपूर्ति, किसान भाई परेशान ना हों संकट की घड़ी में आपके साथ है सरकार: कमलनाथ


भोपाल. मध्यप्रदेश में यूरिया खद की कमी के चलते किसानों की परेशानियां बढ़ गई हैं तो दूसरी तरफ यूरिया पर सियासी घमासान भी शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने किसानों को सांत्वना देते हुए कहा है, प्रदेश में यूरिया संकट को हल करने को लेकर मैं और मेरी सरकार निरंतर प्रयासरत है। केंद्रीय मंत्रियों व ज़िम्मेदारों से सतत संपर्क किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मांग व आपूर्ति में अंतर से स्थिति गड़बड़ाई है। उन्होंने किसानों को भरोसा देते हुए कहा कि सतत प्रयासों से आपूर्ति में बढ़ोतरी होगी और शीघ्र स्थिति सुधरेगी। कमलनाथ ने कहा, किसान भाई परेशान ना हो, यह सरकार किसान हितैषी सरकार है और हर संकट की घड़ी में आपके साथ है।

किसान दिवस की दी शुभकामनाएं
कमलनाथ ने किसान दिवस की शुभकामनाएं दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा, पूर्व प्रधानमंत्री एवं किसानों की लड़ाई लड़ने वाले चौधरी चरण सिंह जी की जयंती पर उन्हें शत -शत नमन । सभी किसान भाइयों एवं बहनों को राष्ट्रीय किसान दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं । वहीं, कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी किसानों को बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, अन्नदाता हमारे देश की नींव हैं, हमारी अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं। हमारे देश की तरक्की में सबसे अहम योगदान देने वाले अन्नदाता साथियों को बधाई। मैं और मेरी पार्टी सदैव आपके प्रति कृतज्ञ हैं, आपके प्रति समर्पित हैं और रहेंगे।

 

Office Of Kamal Nath

@OfficeOfKNath

प्रदेश में यूरिया संकट को हल करने को लेकर मैं और मेरी सरकार निरंतर प्रयासरत...
केंद्रीय मंत्रियो व ज़िम्मेदारों से सतत संपर्क में..
माँग व आपूर्ति में अंतर से स्थिति गड़बड़ायी...
सतत प्रयासों से आपूर्ति में बढ़ोतरी...शीघ्र स्थिति सुधरेगी।

खाद की कमी के लिए लिखा लेटर 
कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा को खाद की कमी को लेकर एक लेटर लिखा है। जिसमें उन्होंने प्रदेश में यूरिया की सप्लाई को सुनिश्चित करने की बात कही है। सिंधिया ने खाद की कमी को लेकर केन्द्र सरकार पर आरोप लगाया है। सिंधिया ने कहा, मध्य प्रदेश में भाजपा के 15 साल के कुशासन में कृषि संकट ने अन्नदाताओं की कमर तोड़ कर रख दी है। अब जब हम अन्नदाताओं की मदद करने की कोशिश कर रहे हैं तो केंद्र सरकार खाद उपलब्ध नहीं करवा रही है।

 

Office Of Kamal Nath

@OfficeOfKNath

प्रदेश में यूरिया संकट को हल करने को लेकर मैं और मेरी सरकार निरंतर प्रयासरत...
केंद्रीय मंत्रियो व ज़िम्मेदारों से सतत संपर्क में..
माँग व आपूर्ति में अंतर से स्थिति गड़बड़ायी...
सतत प्रयासों से आपूर्ति में बढ़ोतरी...शीघ्र स्थिति सुधरेगी।


Office Of Kamal Nath

@OfficeOfKNath

किसान भाई परेशान ना हो, यह सरकार किसान हितैषी सरकार..
हर संकट की घड़ी में आपके साथ..


क्या लिखा है लेटर में
सिंधिया ने अपने लेटर में लिखा है। मैं आपका ध्यान मध्यप्रदेश में उत्पन्न खाद की कमी री ओर आकर्षित करना चाहूंगा। यह स्थिति हाल ही में हुए प्रदेश के विधानसभा चुनाव के बाद उत्पन्न हुई , जब अचानक केन्द्र सरकार ने मध्यप्रदेश में खाद सप्लाई कम कर दी है। रबी की बुवाई के चलते किसानोंको यूरिया खाद की आवश्यकता रहती है लेकिन बाजार में यूरिया की उपलब्धता नहीं होने के चलते फसलों को बिना खाद के पानी की सिंचाई की जा रही है जिससे फसल बुरी तरह प्रभावित हो सकती है। यूरिया खाद की कमी के कारण किसानों को खाद के लिए परेशानी उठानी पड़ रही है।

Comments

Popular posts from this blog

कोरोना का खौफ : भारत की सबसे बड़ी देहमंडी में पसरा सन्नाटा

India-China Face Off: भारत-चीन के बीच हुआ युद्ध, तो जानें किसकी मिसाइल है ज्यादा कारगर?

Janta Curfew के बीच कोरोना के डर से युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- सभी अपना टेस्ट कर लेना